DA Image
1 सितम्बर, 2020|8:42|IST

अगली स्टोरी

चीन-पाक सीमा पर और बढ़ेगी ताकत, 2580 करोड़ में स्वदेशी कंपनी से ही पिनाका रॉकेट लॉन्चर खरीद रही सरकार

pinaka rocket launcher

सीमा पर चीन के साथ तनाव के बीच अपनी सैन्य शक्तियों को और भी अधिक मजबूत करने के उद्देश्य से रक्षा मंत्रालय ने पिनाका रॉकेट लांचर खरीदने के लिए 2580 करोड़ रु का समझौता किया। रक्षा मंत्रालय ने छह सैन्य रेजिमेंट के लिए 2580 करोड़ रुपए की लागत से पिनाका रॉकेट लांचर खरीदने को लेकर सोमवार को दो अग्रणी घरेलू रक्षा कंपनियों के साथ समझौता किया। अधिकारियों ने बतायाा कि पिनाका रेजिमेंट को सैन्य बलों की संचालन तैयारियां बढ़ाने के लिए चीन और पाकिस्तान के साथ लगती भारतीय सीमा पर तैनात किया जाएगा। 

टाटा पावर कंपनी लिमिटेड (टीपीसीएल) और लार्सन एंड टूब्रो (एल एंड टी) के साथ अनुबंध पर दस्तखत किया गया है जबकि रक्षा क्षेत्र के सरकारी उपक्रम भारत अर्थ मूवर्स लिमिटेड (बीईएमएल) को भी इस परियोजना का हिस्सा बनाया गया है। बीईएमएल ऐसे वाहनों की आपूर्ति करेगी जिस पर रॉकेट लांचर को रखा जाएगा।

चीन की हिमाकत के बाद LAC पर भारतीय सेना ने बढ़ाई ताकत

रक्षा मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि छह पिनाका रेजिमेंट में 'ऑटोमेटेड गन एमिंग एंड पोजिशनिंग सिस्टम(एजीएपीएस)' के साथ 114 लांचर और 45 कमान पोस्ट भी होंगे। बयान में कहा गया कि मिसाइल रेजिमेंट का संचालन 2024 तक शुरू करने की योजना है। 

इसमें कहा गया कि हथियार प्रणाली में 70 प्रतिशत स्वदेशी सामग्री होगी और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह तथा वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने परियोजना को मंजूरी दी है। पिनाका मल्टीपल लांच रॉकेट सिस्टम (एमएलआरएस) को डीआरडीओ ने विकसित किया है। 

रक्षा मंत्रालय ने बताया, 'यह एक महत्वाकांक्षी परियोजना है जो 'आत्मनिर्भर' बनने के लिए अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में सार्वजनिक-निजी क्षेत्र की भागीदारी को प्रदर्शित करती है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Defence Ministry signs Rs 2580 Cr deal to procure Pinaka rocket launchers amid Border tension with China