DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

व्यापारियों ने विमान किरायों में बढ़ोतरी पर जताई चिंता, सुरेश प्रभु से की नियंत्रण की मांग

jet airways fare photo ht

व्यापारियों के संगठन कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने विमान किरायों में भारी बढ़ोतरी पर चिंता जताते हुए हवाई किरायों पर नियंत्रण लगाने की मांग की है। कैट ने नागरिक उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु को ज्ञापन सौंप कर कहा है कि जेट एयरवेज का परिचालन बंद होने के बाद विभिन्न एयरलाइंस ने हवाई किरायों में अत्यधिक वृद्धि की है, जो किफायती मूल्य निर्धारण के सिद्धांत के खिलाफ है। 

कैट के महासचिव प्रवीण खंडेलवाल ने कहा कि पिछले कुछ महीनों में देश भर में हवाई किराये में अचानक वृद्धि हुई है। यह गंभीर चिंता का विषय है क्योंकि यह न केवल एक आम नागरिक पर बोझ बढ़ाता है बल्कि व्यापार के विकास में भी बाधा है। उन्होंने कहा कि मौजूदा स्थिति मांग आधारित (डायनामिक) किराया प्रणाली के बुनियादी सिद्धांतों के खिलाफ भी है।

कैट ने सुझाव दिया है कि हवाई किरायों पर नियंत्रण रखने के लिए एक मूल्य नियंत्रण तंत्र विकसित किया जाए जो एयरलाइंस के किराये की ऊपरी सीमा को नियंत्रित रखे। 8500 करोड़ रुपये से अधिक के कर्ज में डूबे जेट एयरवेज ने बैंकों से किसी तरह की मदद नहीं मिलने के बाद अपना परिचालन अस्थायी रूप से बंद कर दिया है।

जेट एयरवेज में नई जान फूंकने के लिए 'रोजा' प्लान

जेट एयरवेज दोबारा शुरू होने तक हवाई किराये में राहत के आसार नहीं  

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Dealers worry about increased hike in air fares demanding control by Suresh Prabhu