DA Image
28 दिसंबर, 2020|10:52|IST

अगली स्टोरी

देश के इन हिस्सों में आने वाला है इस मौसम का पहला चक्रवाती तूफान, मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी

gati cyclone

भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) की चेतावनी के अनुसार इस मौसम का पहला चक्रवाती तूफान तमिलनाडु और पुदुचेरी के तट से बुधवार को टकराएगा। इसकी वजह से तमिलनाडु, रायलसीमा और आस पास के इलाकों में भारी बारिश होगी। नागरिकों और मछुआरों को समुद्र की ओर न जाने की चेतावनी जारी कर दी गई है।

भारतीय मौसम विभाग ने अपने सोमवार के बुलेटिन में कहा कि पिछले 6 घंटों में दक्षिणपश्चिमी बंगाल की खाड़ी और उसके साथ के उत्तरपश्चिमी हिस्से में तूफान चल रहा है। पुदुचेरी से 600 किलोमीटर दूर दक्षिण-दक्षिण पश्चिम में और चेन्नई से 630 किलोमीटर दूर इसका केंद्र हैं। अगले 24 घंटों में यह चक्रवाती तूफान प्रचण्ड रूप लेगा और उत्तरपश्चिमी दिशा में आगे बढ़ेगा। 25 नवंबर की दोपहर के समय यह तमिलनाडु और पुदुचेरी के तट से करइकल और ममल्लापुरम को पार करेगा। 

मछुआरों को सलाह दी गई है कि वे 22 नवंबर के दौरान समुद्र और दक्षिणी बंगाल की खाड़ी की ओर न जाएं। साथ ही 22 से 25 नवंबर तक दक्षिण पश्चिमी बंगाल की खाड़ी के बीच और पश्चिमी, मन्नार की खाड़ी, तमिलनाडु के तट और दक्षिणी आंध्र प्रदेश के तट पर न जाएं। नेशनल वेदर फोरकास्टिंग सेंटर के सीनियर साइंटिस्ट आर के जेनामनी ने कहा, "तमिलनाडु और रायलसीमा के इलाकों में भारी वर्षा के आसार हैं। जमीन की तरफ आने पर तूफान अपने साथ तेज हवाएं और बारिश लाएगा। जिसकी वजह से भारी नुकसान हो सकता है।"

भारतीय मौसम विभाग के सुबह के बुलेटिन के अनुसार अरब सागर में बने भयंकर चक्रवाती तूफान गति, सोमालिआ के पास चक्रवाती तूफान के रूप में कमजोर हो गया। गति तूफान का लैंडफॉल उत्तरी सोमालिआ में हुआ और 9 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से वह पश्चिमी दिशा में आगे बढ़ा। संभावना है कि यह पश्चिमी दिशा में आगे बढ़ेगा और अगले 6 घंटों में धीरे-धीरे एक डिप्रेशन में तब्दील हो जाएगा।  

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:cyclonic storm likely to bring extreme rainfall in tamil nadu and nearby areas