DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Cyclone Fani: PM मोदी 6 मई को जाएंगे ओडिशा, लेंगे स्थिति का जायजा

prime minister narendra modi

1 / 3Prime Minister Narendra Modi

rain lashes kolkata as cyclone fani hit west bengal by crossing kharagpur earlier today  photo ani

2 / 3Rain lashes Kolkata as Cyclone Fani hit West Bengal by crossing Kharagpur earlier today (Photo:ANI)

cyclone fani

3 / 3Cyclone Fani

PreviousNext

Cyclone Fani live updates: शुक्रवार को ओडिशा में भीषण तबाही मचाने के बाद अब चक्रवाती तूफान फेनी पश्चिम बंगाल पहुंच गया है। चक्रवाती तूफान ‘फेनी' ने शुक्रवार को ओडिशा में कहर बरपाया। सुबह करीब आठ बजे पुरी तट से टकराने के बाद 175 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से हवाएं चलीं, जिसमें सैकड़ों मकान ध्वस्त हो गए, गाड़ियां पलट गईं। तेज बारिश से कई शहर और गांव जलमग्न हो गए।इसमें कम से कम आठ लोगों की मौत हुई है। देर शाम तूफान पश्चिम बंगाल की ओर बढ़ गया, जिससे कई इलाकों में तेज बारिश हो रही है

Cyclone Fani live updates:
 

- पीएम नरेंद्र मोदी 6 मई को फेनी तूफान के मद्देनजर उत्पन्न स्थिति का जायजा लेने के लिए ओडिशा जाएंगे

 

- पीएम नरेंद्र मोदी ने चक्रवात फेनी के बाद मौजूदा स्थिति पर ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से बात की। चक्रवात के मद्देनजर केन्द्र सरकार से निरंतर समर्थन का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि संपूर्ण राष्ट्र विभिन्न भागों में चक्रवात से प्रभावित सभी लोगों के साथ एकजुटता के साथ खड़ा है।

 

 

- चक्रवात फेनी के पश्चिम बंगाल पर पहुंचने पर कोलकता में हुई बारिश

 

- पश्चिम बंगाल के दीघा में आज चक्रवात फेनी पहुंचा
 

 

- फेनी तूफान पश्चिम बंगाल के खड़गपुर इलाके को पार कर उत्तर-पूर्व दिशा में 90 किमी/घंटा की रफ्तार से आगे बढ़ रहा है।

 

- इससे पहले शुक्रवार को चक्रवाती तूफान फेनी ने ओडिशा में भीषण तबाही मचाई। राज्य के कई इलाके जलमग्न हो गए। तूफान से अब तक 8 लोगों के मारे जान की खबर है, जबकि 150 से ज्यादा संख्या में लोग घायल हुए हैं। पुरानी इमारतों, कच्चे घरों, अस्थायी दुकानों को भारी नुकसान पहुंचा है। बिजली और टेलिकॉम सेवा पूरी तरह से ठप पड़ी हुई है। भारी बारिश के कारण प्रभावित इलाकों में स्थित घर डूब गये।

- पश्चिम बंगाल में रेड अलर्ट जारी
चक्रवाती तूफान फेनी के चलते पश्चिम बंगाल तटीय राज्यों में में रेड अलर्ट जारी किया गया है और मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी गई है। पश्चिम बंगाल में एनडीआरएफ की छह टीमों को तैनात किया है। राहत सामग्री सभी जिलों में भेज दी गई है। पूर्वी तट रेलवे के एक अधिकारी ने बताया कि यात्रियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए हावड़ा-चेन्नै मार्ग पर करीब 220 ट्रेनें रद्द कर दी गई हैं।

दिल्ली के डॉक्टर फेनी से प्रभावित इलाकों में मदद देंगे

- ममता बनर्जी ने रैलियां रद्द की
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अगले 48 घंटों के लिए पूर्वनियोजित अपनी सभी चुनावी रैलियों को रद्द कर दिया है और स्थिति पर नजर रख रही हैं। उन्होंने लोगों को अफवाहें ना फैलाने और घरों में रहने की सलाह दी है। बनर्जी ने कहा कि मैं आम जनता से इन दो दिनों में जितना संभव हो सकें उतना बाहरी गतिविधियों से दूर रहने की कोशिश करने की अपील करती हूं। अगर आपको बाहर भी जाना पड़ा तो बिजली के खंभों और नंगे तारों पर नजर रखें। तूफान के दौरान केबल टेलीविजन लाइनें और गैस सिलिंडर बंद कर दें। हम पूरी तरह अलर्ट हैं और स्थिति पर करीबी नजर रख रहे हैं। राज्य सरकार ने अत्यधिक प्रचंड चक्रवाती तूफान से निपटने के लिए अलर्ट जारी कर दिया है।

Cyclone Fani Videos: चक्रवात के ये वीडियो उड़ा देंगे आपके होश

- कोलकाता में बारिश के कारण जलभराव और यातायात जाम
कोलकाता और इसके आसपास के क्षेत्रों में सामान्य जीवन शुक्रवार को प्रभावित हुआ। कोलकाता में तेज हवाओं और बारिश के कारण जलभराव और यातायात जाम हो गया। तटीय इलाकों में रेड अलर्ट जारी किया गया। शहर के विभिन्न हिस्सों में मध्यम से भारी बारिश हुई जिसके कारण उत्तर और दक्षिण कोलकाता में भारी यातायात जाम हो गया।

- फेनी के तांडव से तबाह हुआ भुवनेश्वर रेलवे स्टेशन और एयरपोर्ट
वहीं, भुवनेश्वर रेलवे स्टेशन और एयरपोर्ट में काफी नुकसान हुआ है। तूफान के कारण भुवनेश्वर एम्स में एक इमारत की छत का एक हिस्सा टूट गया, लेकिन सभी छात्र, स्टॉफ और मरीज सुरक्षित बताए गए हैं। 'फेनी' के चलते भुवनेश्वर में एम्स पीजी 2019 परीक्षा को रद्द कर दिया गया है।

- सैन्य बल तैयारी
- 60 टीमें एनडीआरएफ की तैनात की गईं
- 25 टीमों को तैयार रखा है एनडीआरएफ ने
- 45 सदस्य हैं हर एक टीम में 
- दो सी-17 विमान तैनात, दो सी-130 और चार एएन-32 विमान तैयार 
- छह पोत तैनात किए तटरक्षक बल ने, छह पोतों को तैयार रखा

Cyclone Fani का तांडव: तबाह हुआ भुवनेश्वर रेलवे स्टेशन व एयरपोर्ट

- दिल्ली के डॉक्टर फेनी से प्रभावित इलाकों में मदद देंगे
ओडिशा में चक्रवाती तूफान फेनी के खतरे को देखते हुए दिल्ली के डॉक्टरों की टीम तैयार की जा रही है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने राजधानी दिल्ली में मौजूद केंद्र सरकार के चारों बड़े अस्पतालों से डॉक्टर्स की नियुक्ति करने का फैसला लिया है। ये डॉक्टर प्रभावित इलाकों में जाकर लोगों की सेवाएं करेंगे।

अस्पताल के डॉक्टरों के मुताबिक, एम्स, सफदरजंग, आरएमएल और लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज के डॉक्टरों की अलग-अलग टीमें गठित कर फेनी से प्रभावित राज्यों में जाने के लिए कहा गया है। डॉक्टरों ने शुक्रवार को जरूरी चिकित्सीय सामान, दवाएं, उपकरण एकत्रित करना शुरू कर दिया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय का आदेश मिलने के बाद से ही चारों ही अस्पतालों के प्रबंधन ने सीनियर रेजिडेंट डॉक्टरों को रिपोर्ट करने और फेनी से बचाव के लिए तैयार रहने के लिए कहा गया है। हाई अलर्ट का मैसेज मिलते ही सभी डॉक्टर सक्रिय हो गए हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Cyclone Fani live updates Cyclone Fani hits West Bengal after the devastation in Odisha and Andra Pradesh