DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मेघालय: शिलांग में अर्धसैनिक बलों के 1000 जवान भेजे गए

शिलांग हिंसा

शिलांग में पंजाबी लाइन इलाके के बाशिंदों और मेघालय राज्य परिवहन की बसों के ड्राइवरों के बीच झड़प के बाद शहर में तनाव बने रहने के मद्देनजर केंद्रीय अर्धसैनिक बलों के करीब 1000 जवान मेघालय भेजे गये हैं। केंद्रीय गृह मंत्रालय के शीर्ष अधिकारी भी राज्य सरकार के अधिकारियों के संपर्क में है और मेघालय की राजधानी शिलांग की वर्तमान स्थिति के बारे में नियमित रुप से सूचना ले रहे हैं। 
     
मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि राज्य सरकार के अनुरोध पर स्थिति के नियंत्रण के लिए पर्याप्त बल भेजे गये हैं। एक अन्य अधिकारी ने कहा कि अर्धसैनिक बलों की करीब 10 कंपनियां मेघालय भेजी गयी हैं। अर्धसैनिक बल की एक कंपनी में 100 जवान होते हैं। मेघालय की राजधानी में शनिवार से ही कर्फ्यू लगा हुआ है। शुक्रवार को पुलिस और स्थानीय लोगों के बीच झड़प हुई थी। 
     
शुक्रवार को देर रात सेना ने विभिन्न क्षेत्रों में फ्लैग मार्च किया था। यह पहाड़ी शहर गुरुवार से ही हिंसा की चपेट में है क्योंकि शिलांग के पंजाबी लाइन इलाके के बाशिंदों और मेघालय राज्य परिवहन की बसों के ड्राइवरों के बीच झड़प हो गयी थी। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Curfew in Shillong again from 4 pm today situation tense after mob pelts stones at security forces