DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   देश  ›  बिहार में कन्हैया कुमार के काफिले पर फिर हमला, पत्थर मारकर तोड़े कार के शीशे
देश

बिहार में कन्हैया कुमार के काफिले पर फिर हमला, पत्थर मारकर तोड़े कार के शीशे

लाइव हिन्दुस्तान टीम, नई दिल्लीPublished By: Mrinal
Wed, 12 Feb 2020 08:35 AM
बिहार में कन्हैया कुमार के काफिले पर फिर हमला, पत्थर मारकर तोड़े कार के शीशे

भाकपा नेता कन्हैया कुमार के काफिले पर मंगलवार को बिहार में फिर से हमला हुआ। साथ काफिले में शामिल कांग्रेस के एक नेता की कार को भी नुकसान पहुंचाया गया। संदेह है कि यह हमला भाजपा के कथित सदस्यों ने किया है। कुमार की 'जन गण मन यात्रा के आयोजकों का दावा है कि पिछले दो सप्ताह में काफिले पर यह सातवां हमला है। पिछले महीने शुरू हुई यह यात्रा एक पखवाड़े बाद पटना में विशाल रैली के साथ समाप्त होगी। विपक्ष के महागठबंधन के नेताओं के साथ बाद में एक मंच पर मौजूद कुमार ने 'विभाजनकारी संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) को लेकर नरेन्द्र मोदी सरकार की आलोचना की।

हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा के प्रमुख व पूर्व मुख्यमंत्री जीतन रात मांझी, कांग्रेस विधायक शकील अहमद खान और अवधेश कुमार सिंह ने भी गया जिले के शेरघाटी में आयोजित जनसभा को संबोधित किया। सभा स्थाल पर पहुंचने से पहले ही रास्ते में बाइक सवार कुछ लोगों ने काफिले पर पत्थर फेंके। इसमें सिंह की कार का सीसा टूट गया। पार्टी सूत्रों ने बताया कि सिंह को कोई नुकसान नहीं पहुंचा है। इस संबंध में पुलिस में शिकायत दर्ज करा दी गई है।

पहले भी हुए हमले

बता दें कि इससे पहले 5 फरवरी को सुपौल में कन्हैया कुमार के काफिले पर पथराव किया गया। पथराव में काफिले में मौजूद एक वाहन में सवार एक युवती सहित तीन लोगों को चोटें आईं थीं। घटना सदर थाना के मल्लिक चौक की है। सुपौल में जनसभा को संबोधित करने के बाद पूर्व छात्र नेता काफिले के साथ सहरसा के लिए निकले थे। पथराव में दो वाहनों के शीशे टूट गए।  जेएनयू के पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार की  किशनपुर प्रखंड के सिसौनी नेमनमा में सभा थी। शाम लगभग साढ़े पांच बजे सभा के बाद कन्हैया कुमार अपने काफिले के साथ सहरसा के लिए निकले। काफिले के आगे पीछे कड़ी सुरक्षा भी थी।

शहर के सदर थाना के पास मल्लिक चौक पर पहले से 25-30 की संख्या में खड़े युवक सीएए, एनआरसी के समर्थन में नारे लगा रहे थे। जैसे ही कन्हैया कुमार का वाहन आया, पहले कुछ लोगों ने उस पर काली स्याही फेंक दी। काफिला में शामिल वाहनों के रूकते ही वहां जाम लग गया। पुलिस निकल कर वाहनों को निकालने लगी।  वहीं इसी महीने 2 फरवरी को बिहार में ही छपरा में भी पूर्व छात्र नेता कन्हैया कुमार के काफिले पर पथराव हुआ था। वे सभा में भाग लेने जा रहे थे कि कोपा बाजार के पास 20 से 25 की संख्या में लोगों ने उनके काफिले पर पथराव कर दिया था।


 

संबंधित खबरें