DA Image
23 जनवरी, 2020|2:27|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गाय ने 'खटखटाया' अदालत का दरवाजा, जानें क्या है पूरा मामला

Cow

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में दर-दर भटक रहे निराश्रित गाय और गोवंश ने अपनी सुरक्षा के लिए अब अदालत का दरवाजा 'खटखटाया' है। गोला की निराश्रित गायों और गोवंश की ओर से शहर के कांजी हाउस को लेकर एफआईआर दर्ज कराने को सीजेएम कोर्ट में अर्जी दी गई है। 

बुधवार को एक दिलचस्प मामला सामने आया, जब अदालत में निराश्रित गोवंश की ओर से अर्जी पहुंच गई। अधिवक्ता संतोष त्रिपाठी ने मुकदमे की अर्जी ही गायों की ओर से दी है। उन्होंने बताया कि गोला गोकर्णनाथ में गायों, गोवंश और अन्य पशुओं के लिए कांजी हाउस था। उस कांजी हाउस को तोड़वा कर उसकी जमीन को हड़पने और उस पर शॉपिंग काम्प्लेक्स बनवाने की तैयारी है। करीब पचास करोड़ कीमत की कांजी हाउस की जमीन को हड़पने के लिए राजस्व अभिलेखों में भी हेरफेर किया गया। 

इसके लिए जिलाधिकारी समेत सभी अधिकारी जिम्मेदार है। याचिका  डीएम खीरी, एसडीएम गोला, जिला पंचायत अध्यक्ष और गोला पालिका अध्यक्ष समेत सात के खिलाफ दी गई  है। अर्जी को सीजेएम विकास श्रीवास्तव ने प्रकीर्ण वाद के रूप में दर्ज करते हुए संबंधित थाने से आख्या तलब कर ली है। मामले की अगली सुनवाई 18 दिसंबर को होगी। निराश्रित गोवंश की तरफ से न्याय मित्र के रूप में अधिवक्ता संतोष त्रिपाठी अदालत में पेश हुए।
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Cow knocked door of court know what is the whole matter