ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशकोरोना टीकाकरण के लिए कश्मीर से कन्याकुमारी तक तैयारियां मुकम्मल, देखें किस राज्य में वैक्सीन को लेकर क्या है प्लानिंग

कोरोना टीकाकरण के लिए कश्मीर से कन्याकुमारी तक तैयारियां मुकम्मल, देखें किस राज्य में वैक्सीन को लेकर क्या है प्लानिंग

कोरोना वायरस को हराने के लिए देश में दो टीकों को मंजूरी मिल चुकी है। इसके बाद राज्यों ने भी अपनी तैयारियां पूरी कर ली हैं। पहले चरण में तीन करोड़ लोगों को वैक्सीन दी जानी है। केंद्र सरकार की ओर से...

कोरोना टीकाकरण के लिए कश्मीर से कन्याकुमारी तक तैयारियां मुकम्मल, देखें किस राज्य में वैक्सीन को लेकर क्या है प्लानिंग
लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीThu, 07 Jan 2021 05:58 AM
ऐप पर पढ़ें

कोरोना वायरस को हराने के लिए देश में दो टीकों को मंजूरी मिल चुकी है। इसके बाद राज्यों ने भी अपनी तैयारियां पूरी कर ली हैं। पहले चरण में तीन करोड़ लोगों को वैक्सीन दी जानी है। केंद्र सरकार की ओर से मंजूरी मिलते ही संभवत: जनवरी के दूसरे सप्ताह से टीका लगाने का काम शुरू हो जाएगा। तो चलिए जानते हैं कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक देश के विभिन्न राज्यों ने वैक्सीनेशन अभियान को लेकर कैसी तैयारियां कर रखी है। राज्यों की तैयारियों पर पेश है यह विशेष रिपोर्ट...

महाराष्ट्र :-पहले चरण में 7.58 लाख कोविड वॉरियर्स को टीका लगाया जाएगा। इसके लिए जिलावार स्वास्थ्यकर्मियों की सूची केंद्र सरकार को भेजी गई है।

-सरकार ने टीका लगाने के लिए 18,000 स्वास्थ्य कर्मचारियों को प्रशिक्षित किया है। 4200 केंद्र और 3145 कोल्ड चेन सिस्टम स्थापित किए गए हैं।

-मुंबई के जंबो कोविड फैसिलिटी को भी वैक्सीन केंद्र में बदला जाएगा।

उत्तर प्रदेश: 9 लाख स्वास्थ्य कर्मचारियों का पंजीकरण किया गया है पहले चरण में टीके के लिए।

-1 दिन में तीन लाख स्वास्थ्य कर्मियों को टीका दिया जाएगा।
-5 जनवरी को सभी जिलों में छह-छह केंद्र बनाकर सफल पूर्वाभ्यास किया गया।

-मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हाल में कहा था कि मकर संक्रांति पर टीकाकरण शुरू हो सकता है
-टीकाकरण अभियान सफल बनाने के लिए राज्य सरकार ने टास्क फोर्स का गठन किया है

उत्तराखंड : सरकार ने 54 हजार स्वास्थ्य कर्मचारियों का डाटा केंद्र सरकार को भेजा है।
-नोडल अधिकारी कुलदीप सिंह मरतोलिया ने कहा, जनवरी के दूसरे सप्ताह तक टीके उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया गया है।

-दूसरे चरण में 50 साल से ऊपर की उम्र के लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी, इसका डेटा जल्द ही केंद्र सरकार को भेजा जाएगा

बिहार : 4.39 लाख स्वास्थ्य कर्मियों को पहले चरण में वैक्सीन दी जानी है।

-इसके बाद पुलिस कर्मी, जनप्रतिनिधि से लेकर तमाम सरकारी कर्मियों को दिया जाएगा
-14,724 लोगों को टीका लगाने का प्रशिक्षण दिया गया है

-जिला स्तर तक कोल्ड चेन इक्वीपमेंट का उपयोग किया जाएगा
-केंद्र से 539 डीप फ्रीजर, 432 आइस लाइंड रेफ्रिजरेटर, 8 वॉक कूलर और 2 वॉक फ्रीजर दिए गए हैं। इसमें से 423 आइस लाइंड रेफ्रिजरेटर जिलों को बांटे गए हैं

हरियाणा :राज्य में 7 जनवरी को टीकाकरण का पूर्वाभ्यास किया जाएगा
-19 हजार टीका केंद्र तैयार किए गए जबकि 5145 लोगों को टीका लगाने का प्रशिक्षण दिया गया है।

-अतिरिक्त मुख्य स्वास्थ्य सचिव राजीव अरोड़ के अनुसार, 1.90 लाख लोगों को कोविन एप पर पंजीकृत कर डाटा केंद्र सरकार को भेजा गया है

झारखंड :2.5 लाख स्वास्थ्य कर्मचारियों को पहले चरण में टीका लगाया जाएगा

-टीके के भंडारण के लिए सभी वेयरहाउस को तैयार कर लिया गया है
-रेफ्रिजेरेटेड वैन के जरिए स्वास्थ्य केंद्रों तक टीका पहुंचाने की व्यवस्था की जा रही है

जम्मू-कश्मीर: 1 लाख स्वास्थ्यकर्मियों के टीकाकरण की तैयारियां की हैं प्रशासन ने पहले चरण में
-4 चरणों में पूरा किया जाना है यहां वैक्सीन लगाने का काम

-कुल 5000 से अधिक को प्रशिक्षित किया गया। 4,000 जगहों पर टीकाकरण केंद्र बनाए गए
-987 आइस-लाइन्ड रेफ्रिजरेटर, 795 डीप फ्रीजर, 11 सौर ऊर्जा से चलने वाले रेफ्रिजरेटर, पांच वॉक-इन कूलर और एक वॉक-इन फ्रीजर का इंतजाम

-प्रत्येक टीकाकरण स्थल पर प्रतिदिन कम से कम 100 व्यक्तियों को टीका लगाए जाने की योजना है
-नोडल अधिकारी काजी हारून ने कहा, प्रशासन पहले चरण के टीकाकरण के लिए पूरी तरह तैयार

राजस्थान : -7 जिले में 19 जगहों की पहचान की है जहां कोरोना का टीकाकरण किया जाएगा
- पहले चरण में 5 लाख लोगों को टीका देने की तैयारी की गई है

-स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा के अनुसार, केंद्र से मंजूरी का इंतजार है

गुजरात :-सरकार ने पहले चरण के कोरोना टीकाकरण के लिए 4.31 लाख हेल्थ वर्कर्स की पहचान की है

-6.3 लाख फ्रंट केयर वर्कर को भी पहले चरण के दूसरे हिस्से में कोरोना का टीका दिया जाएगा
-राज्य टीकाकरण पर आने वाला खर्च खुद वहन करने की योजना बना रहा है

पश्चिम बंगाल: -पहले चरण में 6 लाख हेल्थ केयर वर्कर्स को वैक्सीन दी जानी है
-इसके लिए 20 हजार वैक्सीनेशन सेंटर बनाए गए हैं

-राज्य के कोल्ड चेन को दुरुस्त कर लिया गया है और डाटाबेस तैयार कर लिया है
-स्वास्थ्य सचिव एनएस निगम के अनुसार केंद्र सरकार से मंजूरी मिलते ही टीकाकरण शुरू हो जाएगा

असम :-यहां 1.50 लाख लोगों को टीका दिया जाना है
-राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के निदेशक एस.लक्ष्मण के अनुसार, केंद्र से टीके की कितनी डोज मिलेंगी इस बारे में निर्देशों का इंतजार है

कर्नाटक: -स्वास्थ्य मंत्री डॉ.के. सुधाकर के अनुसार, सभी कोरोना वॉरियर्स को टीका निशुल्क लगाया जाएगा
-टीकाकरण के लिए राज्य में मौजूदा बुनियादी ढांचे का इस्तेमाल होगा। साथ ही केंद्र अतिरिक्त बुनियादी ढांचे को बढ़ाएगा

-उम्मीद है कि जनवरी में ही वैक्सीन मिल जाएगी। आगे के लिए हम केंद्र के निर्देशों का इंतजार कर रहे हैं

पंजाब:-1.60 लाख लोगों को पहले चरण में टीके की डोज दी जाएंगी

-कोविड नोडल अधिकारी डॉ. राजेश भास्कर के अनुसार, हमारी सभी तैयारियां पूरी हैं, लेकिन केंद्र से दिशा-निर्देशों का इंतजार है
-स्वास्थ्य सचिव हुसन लाल ने कहा कि कुल 70 लाख लोगों को चरणबद्ध तरीके से वैक्सीन दी जाएगी

छत्तीसगढ़: -पहले चरण में टीका देने के लिए 2.54 लाख स्वास्थ्यकर्मियों का पंजीकरण किया गया है
-21 जिलों में सात और आठ जनवरी को टीकाकरण का पूर्वाभ्यास किया जाएगा। सात जिलों में पूर्वाभ्यास पूरा हो चुका है।

-स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने बताया कि केंद्र से दिशानिर्देशों के बाद ही पता लग सकेगा कि टीके की कितनी खुराक मिलेंगी।

मध्य प्रदेश :-करीब 4.5 लाख लोगों को पहले चरण में कोरोना का टीका लगाया जाना है

-नोडल अधिकारी डॉ. संतोष शुक्ला ने बताया कि टीका लगाने के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों और जिला अस्पतालों में लगाए जाएंगे
-केंद्र सरकार की मंजूरी मिलते ही दो दिन के भीतर टीकाकरण शुरू कर दिया जाएगा

तमिलनाडु :-6 लाख स्वास्थ्य कर्मियों को पहले वैक्सीन दी जाएगी
-5 जिलों में ड्राई रन कर सफल पूर्वाभ्यास किया गया। इसमें करीब 2100 लोग शामिल हुए

-5000 से अधिक डीप फ्रीजर तैयार किए गए हैं टीके के भंडारण के लिए

आंध्र प्रदेश : -पहले चरण में 1.70 लाख फ्रंटलाइन हेल्थ वर्कर्स को टीका लगेगा

-भंडारण और वितरण के लिए सरकार कोल्ड चेन व्यवस्था को मजबूत बना रही है

तेलंगाना : -कोविन एप पर पंजीकरण जनवरी के दूसरे सप्ताह से शुरू किया जाएगा

-5 लाख टीके की खुराक मिलने की उम्मीद है केंद्र सरकार से
-10 हजार टीकाकरण केंद्र तैयार कराए जा रहे हैं राज्य सरकार की ओर से

केरल: -स्वास्थ्य मंत्री केके शैलजा के अनुसार, टीकाकरण के लिए सभी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं
-सक्रिय मामले और मौतें रोकने में हम बहुत हद तक सफल रहे हैं

-संक्रमण के मामले ज्यादा आने की वजह से केंद्र से अधिक खुराक मिलने की उम्मीद है