DA Image
7 मार्च, 2021|3:03|IST

अगली स्टोरी

कैसे 9 विमानों से 13 शहरों में पहुंचाई गई कोरोना वैक्सीन, जानिए कैसे हुआ महाअभियान का आगाज

vaccine transportation

पूरी दुनिया में कोहराम मचाने वाले कोरोना वायरस संक्रमण के खिलाफ भारत भी टीकाकरण शुरू होने जा रहा है। इसके लिए मंगलवार को पुणे की सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया से देश के अलग-अलग हिस्सों में टीका पहुंचाने के महाअभियान का आगाज हुआ। 9 विमानों के जरिए 56 लाख कोरोना डोज को 13 शहरों में पहुंचाया गया है। पहले दिन पुणे से टीके लेकर उड़े विमान दिल्ली, चेन्नई, कोलकाता, गुवाहाटी, शिलॉन्ग, अहमदाबाद, हैदाराबाद, विजयवाड़ा, भुवनेश्वर, पटना, बेंगलुरु, लखनऊ और चंडीगढ़ पहुंचे। नागरिक विमानन मंत्री हरदीप पुरी ने यह जानकारी दी। 

निजी विमान कंपनियों स्पाइसजेट, गोएयर, इंडिगो और सरकारी विमानन कंपनी एयर इंडिया को इस मुहिम में लगाया गया। पहला विमान स्पाइसजेट का था, जो 1088 किलोग्राम वजन का 34 बॉक्स में पैक वैक्सीन कंसाइनमेंट पुणे से लेकर सुबह 9:54 पर दिल्ली एयरपोर्ट पर उतरा। गोएयर के दूसरे विमान ने 70,800 वाइल्स को चेन्नई पहुंचाया। 

एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ''पुणे एयरपोर्ट पर कंस्ट्रक्शन की वजह से कुछ फ्लाइट्स रात 8 बजे के बाद मुंबई एयरपोर्ट से उड़ान भरेंगी। कार्गो ट्रक्स के जरिए टीकों को पुणे से मुंबई ले जाया जाएगा। सरकार की ओर से भारत बायोटेक के साथ ऑर्डर फाइनल किए जाने और आदेश मिलते ही हैदराबाद से टीकों की खेप को लेकर विमानें उड़ान भरेंगी।''

सरकार ने सोमवार को सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया और भारत बायोटेक को 6 करोड़ डोज का अडवांस ऑर्डर दिया, ताकि पहले फेज में 3 करोड़ स्वास्थ्यकर्मियों और फ्रंटलाइन वर्कर्स को टीका लगाया जाए। नागरिक विमानन मंत्री हरदीप पुरी ने मंगलवार को ट्वीट किया, ''नागरिक उड्डयन क्षेत्र ने एक और महत्वपूर्ण मिशन शुरू किया है। टीका आंदोलन शुरू हो गया है। स्पाइसजेट और गोएयर के दो विमानों ने पुणे से दिल्ली और चेन्नई के लिए उड़ान भर दी है।''

vaccine transportation

विमान के राजधानी पहुंचते ही दिल्ली एयरपोर्ट की ओर से ट्वीट किया गया, ''खुशखबरी ने उड़ान भरी है! कोविड-19 टीके की पहली खेप दिल्ली एयरपोर्ट पहुंच गई है। हमारे कार्गो टर्मिनल ने -20 डिग्री सेल्सियस से लेकर +25 डिग्री सेल्सियस तक तापमान नियंत्रित टेक्नॉलजी के जरिए प्रभावी तरीके से हैंडल किया।''

प्रधानमंत्री मोदी ने सोमवार को बताया कि केंद्र सरकार 3 करोड़ स्वास्थ्य कर्मियों और फ्रंटलाइन वर्कर्स के टीकाकरण का खर्ज उठाएगी, जिनमें सरकारी विभागों में काम करने वाले कर्मचारी, पुलिस और सिविक बॉडीज के लोग शामिल हैं। सरकार ने शुक्रवार को कोविड-19 वैक्सीन टीकों को पहुंचाने की योजना को अंतिम रूप दिया। सरकार की ओर से जारी दिशानिर्देशों में बताया गया कि एयरलाइन्स और एयरपोर्ट अथॉरिटीज इस बात को सुनिश्चित करेंगे कि वैक्सीन को सूखे बर्फ के डिब्बों में पैक किया जाए ताकि तापमान कम रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:coronavirus vaccine transportation drive kicks off 9 flights ferrying the first lot to 13 cities