DA Image
27 अक्तूबर, 2020|3:43|IST

अगली स्टोरी

Coronavirus Vaccine: सरकार से सवाल पूछने के अगले दिन सीरम इंस्टीट्यूट के सीईओ अदार पूनावाला ने पीएम मोदी की प्रशंसा की, बोले- आपके नजरिए की करते हैं सराहना

कोरोना वैक्सीन को लेकर एक दिन पहले केंद्र सरकार से सवाल पूछने वाले सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) के सीईओ अदार पूनावाला ने आज (रविवार) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रशंसा की है। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व और समर्थन के लिए उनको धन्यवाद किया है। सीरम इंस्टीट्यूट ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के साथ मिलकर कोरोना वैक्सीन का उत्पादन कर रहा है।

अदार पूनावाला ने ट्वीट करते हुए लिखा, ''हम वैश्विक समुदाय को टीके प्रदान करने के आपके दृष्टिकोण की सराहना करते हैं। यह भारत के लिए गर्व का क्षण है, आपके नेतृत्व और समर्थन के लिए धन्यवाद। यह स्पष्ट है कि भारत के लिए आपकी सभी व्यवस्थाएं लोगों की सभी आवश्यकताओं का ध्यान रखेंगी।''

शनिवार को संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा था कि भारत की वैक्सीन उत्पादन और वितरण की क्षमता सभी के लिए महामारी से लड़ने में मदद करेगी। पीएम मोदी ने कहा, ''भारत ने महामारी के दौरान 150 से अधिक देशों को दवाइयां प्रदान कीं। दुनिया के सबसे बड़े वैक्सीन उत्पादक देश के रूप में, मैं आपको आश्वस्त करना चाहता हूं कि भारत आगे दुनिया के लिए हर संभव प्रयास करेगा। जनवरी 2021 से, संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के एक गैर-स्थायी सदस्य के रूप में, भारत अपनी जिम्मेदारियों के लिए प्रतिबद्ध होगा।''

अदार पूनावाला ने सरकार से क्या पूछा था?

सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) के सीईओ आदर पूनावाला ने शनिवार को सवाल किया था कि क्या सरकार कोरोना वायरस के टीके को खरीदने और उसके वितरण के लिए 80,000 करोड़ रुपये का इंतजाम करेगी। पूनावाला ने ट्वीट किया, ''क्या भारत सरकार के पास अगले एक साल के दौरान 80,000 करोड़ रुपये उपलब्ध होंगे? भारत में सभी के लिए टीका खरीदने और उसका वितरण करने के लिए इतनी राशि की जरूरत होगी।'' उन्होंने इसमें प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) को भी टैग किया था। पूनावाला ने कहा था कि अगली यह चुनौती है जिससे हमें जूझना होगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Coronavirus Vaccine: SII ceo Adar Poonawala praises PM Narendra Modi after a day when he raises questions from government