DA Image
31 मई, 2020|6:02|IST

अगली स्टोरी

कोरोना संकट से घिरे डोनाल्ड ट्रंप के दवा की गुहार पर PM मोदी का जवाब- जितना होगा उतनी करेंगे मदद

modi trump

कोरोना संकट से घिरे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन दवा के ऑर्डर की आपूर्ति करने के आग्रह पर भारत ने कहा कि एक जिम्मेदार देश होने के नाते हमसे जितना हो सकेगा, हम मदद करेंगे। भारत ने अमेरिका को स्पष्ट तौर पर बताया कि हम अपने 1.30 अरब आबादी को कोरोना वायरस महामारी से सुरक्षित करने के बाद ही कोरोना वायरस के मरीजों और स्वास्थ्यकर्मियों के रोगनिरोधी दवा हाइड्रोक्सीक्लोरोक्विन की आपूर्ति करेंगे। बता दें कि डोनाल्ड ट्रंप ने फोन पर पीएम मोदी से कोरोना के मरीजों के इलाज के लिए हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन टैबलेट्स की आपूर्ति की मांग की है। 

जितना हो सकेगा करेंगे मदद

शनिवार की शाम में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ फोन पर बातचीत के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि हम जितना कर सकते हैं, वो सब करेंगे। इस बातचीत के दौरान महामारी के खिलाफ द्विपक्षीय सहयोग पर ध्यान केंद्रित करने के अलावा राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इसी साल फरवरी के अंत में भारत की अपनी यात्रा का भी जिक्र किया। 

भारत के लिए पर्याप्त होने के बाद ही दी जाएगी दवा

सरकारी सूत्रों की मानें तो, भारत महामारी के संभावित सबसे खराब स्थिति से निपटने के मद्देनजर अपनी आबादी के लिए दवा का स्टॉक कर रहा है और सभी भारतीयों के लिए पर्याप्त होने के बाद ही इस दवा के निर्यात पर लगी रोक के आदेश को हटाएगा। भारत के अलावा, अन्य देश भी ऐसा ही कर रहे हैं। बता दें कि भारत हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन के सबसे बड़े निर्माताओं में से एक है, जिसका उपयोग मलेरिया के के लिए किया जाता है। हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन मलेरिया की दशकों पुरानी दवा है। 

 

यह भी पढ़ें- अमेरिका में कोरोना से हाहाकार, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पीएम मोदी से मांगी मदद

25 मार्च से लगी है दवा के निर्यात पर रोक

दरअसल, विदेश व्यापार महानिदेशालय (डीजीएफटी) ने 25 मार्च को इस दवा के निर्यात पर रोक लगा दी थी। हालांकि, डीजीएफटी ने कहा था कि मानवता के आधार पर मामले-दर-मामले में इसके कुछ निर्यात की अनुमति दी जा सकती है। अमेरिका में कोरोना वायरस संक्रमण के तीन लाख से अधिक मामले सामने आ चुके हैं। अभी तक इस वायरस से अमेरिका में 8,000 से अधिक लोगों की मौत भी हो चुकी है। 

ट्रंप ने की दवा की सप्लाई की अपील

आज सुबह प्रेस ब्रीफिंग में डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, 'मैंने सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात की। उन्होंने काफी हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन टैबलेट्स बनवाई हैं। भारत इस पर गंभीरता से काम कर रहा है।' अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि वह भी इन टैबलेट्स का सेवन करेंगे। उन्होंने कहा, 'संभव है कि मैं भी इसे लूं। हालांकि, इसके लिए मुझे पहले डॉक्टर्स से बात करनी होगी।'

उन्होंने आगे कहा कि मैं सराहना करूंगा कि अगर भारत हमारे द्वारा ऑर्डर की गईं टैबलेट्स की खेप को जारी करेगा। उन्होंने कहा, 'भारत ने काफी संख्या में यह टैबलेट्स बनाई हैं। उन्हें अपने अरब से अधिक लोगों के लिए इसकी जरूरत है।'

भारत में कोरोना की स्थिति
देश में कोरोना वायरस कोविड19 के मामले 3300 के पार चले गए हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार, देश में कोरोना वायरस पॉजिटिव मामलों की संख्या बढ़कर 3374 हो गई है। इनमें से 267 मरीजों को डिस्चार्ज किया जा चुका है। अभी तक कोरोना वायरस से 77 लोगों की जान गई है। पिछले 12 घंटों में कोरोना वायरस के मामलों में 302 मामलों की बढ़त हुई है। 
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Coronavirus Lockdown PM Modi responded to Donald Trump request on Covid 19 drug hydroxychloroquine