ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशभारत में नहीं थम रहा कोरोना वायरस का कहर, सिर्फ जुलाई में आए 10 लाख से अधिक पॉजिटिव केस

भारत में नहीं थम रहा कोरोना वायरस का कहर, सिर्फ जुलाई में आए 10 लाख से अधिक पॉजिटिव केस

भारत में कोरोना संक्रमण की रफ्तार कम होती नहीं दिख रही है। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के आंकड़ों का अध्ययन से यह बात सामने निकलकर आई है कि सिर्फ जुलाई में दस लाख से...

भारत में नहीं थम रहा कोरोना वायरस का कहर, सिर्फ जुलाई में आए 10 लाख से अधिक पॉजिटिव केस
coronavirus infection continue in india more than 1 million positive cases records in july only
लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्ली।Thu, 30 Jul 2020 10:51 AM
ऐप पर पढ़ें

भारत में कोरोना संक्रमण की रफ्तार कम होती नहीं दिख रही है। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के आंकड़ों का अध्ययन से यह बात सामने निकलकर आई है कि सिर्फ जुलाई में दस लाख से अधिक पॉजिटिव केस भारत में सामने आए हैं। 30 जून तक यानी शुरुआती चार महीनों की बात करें तो देश में कोरोना के कुल 5.68 लाख केस थे। वहीं, आज इसकी संख्या बढ़कर 15.83  लाख हो गई है। हालांकि राहत की बात यह है कि भारत में रिकवरी और डेथ रेट अन्य बड़े देशों की तुलना में काफी बेहतर है।

30 जून तक के आंकड़ों पर अगर गौर करें तो भारत में कोरोना संक्रमण के कुल 5.68 लाख केस थे। इनमें से 2.15 लाख एक्टिव केस थे। साथ ही 3.35 लाख मरीज स्वस्थ हो चुके थे। साथ ही इस महामारी ने 16,919 मरीजों की जान ले ली थी।

 

यह भी पढ़ें- देश में 150 दिनों में 10 लाख से अधिक मरीज हुए ठीक, सिर्फ इन 3 राज्यों से 53% रिकवरी

अगर हम आज यानी 30 जुलाई को केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों पर गौर करें तो, बीते 24 घंटे में भारत में कोरोना के 53,123 नए पॉजिटिव केस सामने आए हैं। वहीं इस वैश्विक महामारी से कल 775 मरीजों की मौत हो गई।

मंत्रालय के द्वारा आज जारी आंकड़ों के मुताबिक भारत में अब तक कोरोना के 15,83,792 मामले हो चुके हैं। इनमें 10,20,582 मरीज या तो स्वस्थ हो चुके हैं या फिर उन्हें अस्पताल से छुट्टी दी जा चुकी है। कोरोना से होनी वाली मौत के आंकड़ों की बात करें तो अभी तक इस महामारी ने 34,968 लोगों की जान ले ली हैं।

टेस्टिंग में भी जबरदस्त इजाफा
कोरोना वायरस के मामलों में तो वृद्धि दर्ज की ही गई है, साथ ही टेस्टिंग में भी जबरदस्त इजाफा हुआ है। 30 जून तक देश में जहां कुल 86 लाख आठ हजार सैंपल की कोरोना जांच हुई थी, वहीं 30 जुलाई इसकी संख्या बढ़कर 1,81,90,382 हो चुकी है। लगभग एक महीने में एक करोड़ सैंपल की जांच की गई है।