DA Image
31 मई, 2020|8:20|IST

अगली स्टोरी

एक दिन में आए कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा 227 मामले, अगले 15 दिन अहम

                                                                                      227                               15

भारत में कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। लॉकडाउन के बावजूद सोमवार को 227 नए मामले सामने आने से चिंता बढ़ गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, इस वायरस के संक्रमण से अब तक 32 लोगों की मौत हो गई है। वहीं संक्रमित लोगों की संख्या 1200 के पार हो गई है।

भारत के लिए अगले 15 दिन बेहद अहम है। 1200 केस पार करने के साथ ही भारत उस मुकाम पर पहुंच चुका है, जहां इटली 29 फरवरी, स्पेन 9 मार्च को और अमेरिका 11 मार्च को थे। इन तीनों ही देशों में अगले 15 दिनों में कोरोना संक्रमण के मामलों में 25 गुना से लेकर 68 गुना तक की बढ़ोतरी दर्ज की गई थी। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने तो अब तक लॉकडाउन का ऐलान नहीं किया है।

भारत में संक्रमण की गति विकसित देशों से कम

स्वास्थ्य मंत्रालय ने देश में कोरोना के संक्रमण की दर विकसित देशों की तुलना में कम होने की जानकारी देते हुए कहा है कि भारत में अभी इस वायरस के संक्रमण का दूसरा दौर ही चल रहा है, यह अभी सामुदायिक संक्रमण के तीसरे चरण में नहीं पहुंचा है।  स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने सोमवार को संवाददाता सम्मेलन में बताया कि भारत में संक्रमित मरीजों की संख्या 100 से 1000 तक पहुंचने में 12 दिन लगे, जबकि इस संकट से जूझ रहे विकसित देशों में इस अवधि में मरीजों की संख्या 3,500 से 8,000 थी। 

ये भी पढ़ें: केजरीवाल सरकार का फैसला, कोरोना मरीजों का इलाज करने वाले होटल में रहेंगे

अग्रवाल ने संक्रमण को रोकने के लिये घोषित लॉकडाउन के असर के विश्लेषण के आधार पर बताया कि भारत में संक्रमण के बढ़ने की गति विकसित देशों की तुलना में कम है। उन्होंने कहा कि भारत में संक्रमित मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी से जुड़े आंकड़ों के विश्लेषण से पता चलता है कि देश में संक्रमण के मामले 100 से 1000 तक पहुंचने में 12 दिन लगे। जबकि विकसित देशों में इस अवधि में संक्रमित मरीजों की संख्या 3,500 से 8,000 तक पहुंच गयी। इससे स्पष्ट है कि भारत में इसके संक्रमण की दर तुलनात्मक रूप से कम है।

दिल्ली-नोएडा में 31 नए मामले

दिल्ली-नोएडा में सोमवार 31 नए मामले सामने आए। राजधानी में जहां एक दिन में सबसे ज्यादा 25 संक्रमण के मामले सामने आए। वहीं, नोएडा में दो बच्चों सहित छह लोगों मेंकोरोना वायरस की पुष्टि की गई। इसमें तीन परिवार के पांच सदस्य हैं।

'लॉकडाउन बढ़ने के मैसेज केवल अफवाह'

देशव्पापी लॉकडाउन की अवधि बढ़ाने को लेकर सोशल मीडिया में जारी किए संदेश महज अफवाह हैं। सोमवार को केंद्र सरकार ने स्पष्ट किया है कि ऐसी कोई पूर्व निर्धारित योजना नहीं है। कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने कहा कि महामारी फैलने से रोकने के लिए केंद्र और राज्य सरकारें मिलकर जुटी हैं। गौबा ने सोमवार को कहा, मैं इस तरह की खबरों से हैरान हूं, सरकार की लॉकडाउन बढ़ाने की कोई योजना नहीं है। उन्होंने कहा कि सरकार लॉकडाउन के दौरान लोगों तक जरूरी सामान पहुंचाने की हर संभव कोशिश कर रही है। कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में 21 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा की थी। ये अवधि 14 अप्रैल को पूरी होगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:coronavirus india: positive cases cross 1200 mark and 227 cases came in one day next 15 days are very important