DA Image
2 नवंबर, 2020|5:33|IST

अगली स्टोरी

कोरोना संकट: छुट्टी पर गए जवान चरणबद्ध तरीके से ज्वाइन करेंगे ड्यूटी, इंडियन आर्मी ने बनाया खास प्लान

indian army pic

जवानों को कोरोना वयारस संक्रमण से दूर रखने के लिए इंडियन आर्मी ने भी कई कदम उठाए हैं। छुट्टी पर गए जवान, स्थायी ड्यूटी से जुड़ने वाले जवानों और उनकी सुचारू रिपोर्टिंग के लिए भारतीय सेना ने कई दिशानिर्देशों के साथ योजनाबद्ध तरीके से आगे बढ़ने की योजना बनाई है। भारतीय सेना ने सभी जवानों को तीन भाग ग्रीन, येलो, रेड में बांटा है। 

इंडियन आर्मी के मुताबिक ऐसे जवान जो कि 14 दिनों की क्वारंटाइन अवधि पूरा कर लिया है उन्होंने ग्रीन जोन में रखा गया है। जबकि ऐसे जवान जिनको 14 दिनों की क्वारंटाइन से गुजरना है उनको येलो जोन में रखा गया है। इसी तरह ऐसे जवान जिनको आइसोलेशन में या फिर अस्पताल में रखने की जरूरत है उन्हें रेड जोन में शामिल किया गया है।

बता दें कि पिछले हफ्ते सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवाने ने कुपवाड़ा में न्यूज एजेंसी एएनआई से बातचीत में कहा था कि हमारे जवान जो किसी भी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में नहीं आए हैं, उन्हें यूनिट में वापस ले जाया जा रहा है, हमने पहले ही दो विशेष ट्रेनें चलाई हैं जो बेंगलुरु से जम्मू तक और अन्य बेंगलुरु से गुवाहाटी तक का सफर तय करेंगी। 

नरवाने ने जानकारी दी कि अब तक हमारे पास पूरी भारतीय सेना में केवल 8 कोरोना पॉजिटिव मामलेआए हैं, जिनमें से 2 डॉक्टर और 1 नर्सिंग सहायक हैं। अन्य 4 उपचार पर अच्छी प्रतिक्रिया दे रहे हैं और हमारे पास लद्दाख में एक मामला था, अब वह पूरी तरह से ठीक हो गया है और ड्यूटी पर आ गया है।

यह भी पढ़ें- सेना प्रमुख बोले- पूरी सेना में 2 डॉक्टर और 1 नर्सिंग सहायक समेत कोरोना के सिर्फ 8 मामले आए

उन्होंने कहा था कि कोरोना के कहर के बीच जहां हम न केवल अपने स्वयं के नागरिकों बल्कि दुनिया के बाकी हिस्सों में मेडिकल टीम भेजकर और दवाइयां निर्यात करने में व्यस्त हैं, वहीं दूसरी ओर पाकिस्तान केवल आतंक का निर्यात कर रहा है। यह ठीक नहीं। भारत विश्व स्तर पर COVID-19 से लड़ रहा है और पाकिस्तान आतंक निर्यात में व्यस्त  है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:coronavirus: All personnel in the Indian Army will be classified as Green Yellow and Red: Indian Army