ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशभारत के लिए बड़ा दिन, आज देश के 33 राज्य-UTs में कोरोना टीकाकरण का ड्राई रन

भारत के लिए बड़ा दिन, आज देश के 33 राज्य-UTs में कोरोना टीकाकरण का ड्राई रन

भारत को कोरोना की एक ही नहीं दो वैक्सीन मिल चुकी है। ड्रग रेगुलेटर बोर्ड ने देश में आपतकालीन इस्तेमाल के लिए दो वैक्सीन को मंजूरी देदी है। अब सरकार पूरे देश में टीकाकरण की अपनी योजनाओं को कामयाब...

भारत के लिए बड़ा दिन, आज देश के 33 राज्य-UTs में कोरोना टीकाकरण का ड्राई रन
लाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 08 Jan 2021 06:59 AM
ऐप पर पढ़ें

भारत को कोरोना की एक ही नहीं दो वैक्सीन मिल चुकी है। ड्रग रेगुलेटर बोर्ड ने देश में आपतकालीन इस्तेमाल के लिए दो वैक्सीन को मंजूरी देदी है। अब सरकार पूरे देश में टीकाकरण की अपनी योजनाओं को कामयाब करने में लगी हुई है। आज देश के 3 राज्यो और केंद्र शासित प्रदेशों के 737 जिलों में एक बड़ा वैक्सीनेशन ड्राइव आयोजित किया जा रहा है। इस ड्राई रन में पूरे देश में वैक्सीनेशन की तैयारियों को परखा जाएगा।

शुक्रवार को होने वाला ये ड्राई रन देश में हुआ अब तक का सबसे बड़ा उपक्रम होगा। 28-29 दिसंबर को सिर्फ आठ जिलों में ड्राई रन चलाया गया था। 74 जिलों को कवर करने वाला पहला देशव्यापी ड्रिल 2 जनवरी को आयोजित किया गया था। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने गुरुवार को एक ऑनलाइन बैठक में राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को बताया, “पहले के अभ्यास से सीखी गईं बातों को दूसरे ड्राई रन में सुधार करने के लिए उपयोग किया जाएगा। पहले जो कुछ भी कमी थी, उसे ठीक कर लिया गया है, और शुक्रवार के ड्राई रन में उनका परीक्षण किया जाएगा।”

उन्होंने कहा, "यह (टीकों की आपूर्ति) कार्य में है, और हम आपको इसके बार में [राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों] को जल्द ही सूचित करेंगे, हम देश में टीकाकरण के अंतिम चरण की ओर बढ़ रहे हैं।"

उनकी ये टिप्पणी उस दिन आई जब केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक विज्ञप्ति में कहा कि राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को जल्द ही कोविड -19 टीकों की पहली सप्लाई प्राप्त होने की संभावना है और उन्हें खेपों को स्वीकार करने के लिए तैयार रहने के लिए कहा गया।

3 जनवरी को भारत के ड्रग रेगुलेटर ने ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका वैक्सीन और देश में प्रतिबंधित आपातकालीन उपयोग के लिए स्वदेशी तौर पर विकसित भारत बायोटेक वैक्सीन को मंजूरी दी थी। अधिकारियों ने संकेत दिया है कि टीकाकरण अभियान जनवरी के दूसरे सप्ताह में शुरू होगा।

शुक्रवार की मॉक ड्रिल इन्फ्रास्ट्रक्चर और लॉजिस्टिक्स का परीक्षण करने का एक और प्रयास है जो 1 सौ 30 करोड़ लोगों के देश को टीकाकरण करने में प्रमुख भूमिका निभाएगा, और कोविड-19 रोल-आउट के सभी पहलुओं पर जिला और ब्लॉक स्तर के अधिकारियों को परिचित करेगा।

अभ्यास में को-विन डिजिटल प्लेटफ़ॉर्म का परीक्षण करना भी शामिल होगा जो कोविड -19 वैक्सीन वितरण प्रबंधन प्रणाली की रीढ़ होगी। एप्लिकेशन का उपयोग वैक्सीन स्टॉक, कोल्ड स्टोरेज स्टेटस पर वास्तविक समय की जानकारी प्रदान करने और प्राप्तकर्ताओं के साथ टीकाकरण के लिए तिथियों और स्थल के समन्वय में मदद के लिए किया जाएगा।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें