ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशमामला अदालत में, आयकर विभाग ने हमारे बैंक खातों से 65 करोड़ निकाल लिए; कांग्रेस का केंद्र पर आरोप

मामला अदालत में, आयकर विभाग ने हमारे बैंक खातों से 65 करोड़ निकाल लिए; कांग्रेस का केंद्र पर आरोप

कांग्रेस ने बुधवार को दावा किया कि आयकर विभाग ने उसके तीन बैंक खातों से अवैध रूप से 65 करोड़ रुपये निकाल लिए जबकि, रिटर्न का मामला पहले ही अदालत में लंबित चल रहा है।

मामला अदालत में, आयकर विभाग ने हमारे बैंक खातों से 65 करोड़ निकाल लिए; कांग्रेस का केंद्र पर आरोप
Gaurav Kalaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 21 Feb 2024 07:34 PM
ऐप पर पढ़ें

कांग्रेस ने बुधवार को दावा किया कि आयकर विभाग ने उसके तीन बैंक खातों से अवैध रूप से 65 करोड़ रुपये निकाल लिए जबकि, रिटर्न से जुड़ा मामला पहले ही अदालत में लंबित चल रहा है। एक्स पर एक पोस्ट में, कांग्रेस नेता अजय माकन ने कहा कि राष्ट्रीय राजनीतिक दलों को आयकर का भुगतान करने से छूट दी गई है (हालांकि उन्हें कर रिटर्न दाखिल करना पड़ता है)। उन्होंने पूछा कि क्या सत्तारूढ़ भाजपा भी आयकर जमा करती है।

कांग्रेस नेता अजय माकन ने कहा, "कल, आयकर विभाग ने भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस, भारतीय युवा कांग्रेस और भारतीय राष्ट्रीय छात्र संघ के बैंकों खातों से ₹ 65 करोड़ से अधिक निकाल लिए। इसमें IYC और NSUI से ₹ ​​5 करोड़, और INC से ₹ ​​60.25 करोड़  निकाले गए।" माकन ने आगे कहा, "क्या राष्ट्रीय राजनीतिक दलों के लिए आयकर का भुगतान करना आम बात है? नहीं। क्या भाजपा आयकर का भुगतान करती है? नहीं। फिर कांग्रेस पार्टी को 210 करोड़ रुपये से जुड़े आयकर मामले का सामना क्यों करना पड़ रहा है?" 

अजय माकन ने आगे कहा कि हैरानी की बात यह है कि मामला अभी अदालत में लंबित है और आयकर विभाग अपनी कार्रवाई कर रहा है। "हमारी उम्मीद अब न्यायपालिका पर है... अगर जांच एजेंसियों की कार्रवाई अनियंत्रित रही तो लोकतंत्र खत्म हो जाएगा।"

गौरतलब है कि पिछले सप्ताह कांग्रेस ने आरोप लगाया था कि कर अधिकारियों ने उनके मुख्य बैंक खातों को फ्रीज कर दिया है। हालांकि, आज दोपहर शुरू हुई सुनवाई के नतीजे आने तक इन पर तुरंत रोक लगा दी गई। कांग्रेस ने भाजपा पर निशाना साधा और कर नोटिस को "राजनीति से प्रेरित" और "चुनावी तैयारियों को बाधित करने के लिए रणनीतिक रूप से तैयार" बताया। माकन ने इन्हें "लोकतांत्रिक प्रक्रिया के लिए परेशान करने वाला झटका" बताया।

अजय माकन ने कहा, "फिलहाल, हमारे पास खर्च करने के लिए पैसे नहीं हैं। बिजली बिल, कर्मचारियों का वेतन... सब कुछ प्रभावित है।"

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें