Congress leader Jyotiraditya Scindia supports the removal of Article 370 from jammu and kashmir - Article 370: पार्टी लाइन से अलग होकर सिंधिया ने चौंकाया, मोदी सरकार के फैसले का किया समर्थन DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Article 370: पार्टी लाइन से अलग होकर सिंधिया ने चौंकाया, मोदी सरकार के फैसले का किया समर्थन

congress leader jyotiraditya scindia

कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मोदी सरकार द्वारा जम्मू और कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाए जाने का समर्थन किया। पार्टी लाइन अलग हटकर कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मोदी सरकार के इस फैसले का समर्थन किया। हालांकि, उन्होंने कहा कि इसमें संवैधानिक प्रक्रिया का पालन नहीं किया गया। 

यह भी पढ़ें- बिल पास होने पर बोले मोदी: एक नई सुबह और बेहतर कल आपका इंतजार कर रहा

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपने ट्वीट कर लिखा- कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि वह भारत में जम्मू कश्मीर और लद्दाख के पूर्ण विलय के लिए उठाए गए कदम का समर्थन करते हैं। बेहतर होता अगर संवैधानिक प्रक्रिया का पालन किया गया होता। यह देश के हित में है और मैं इसका समर्थन करता हूं। 

यह भी पढ़ें- 370 बना इतिहास, 300 वोट के अंतर से जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल पास

संसद ने जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा संबंधी अनुच्छेद 370 की अधिकतर धाराओं को खत्म करने के संकल्प को मंजूरी दी।। राज्यसभा के बाद अब लोकसभा से भी जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल पर मंजूरी मिल गई है। मंगलवार को लोकसभा ने जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल को पास कर दिया। जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल पर लोकसभा में वोटिंग के दौरान पक्ष में जहां 367 वोट पड़े वहीं, विपक्ष में 67वोट पड़े। हालांकि, इस दौरान समाजवादी पार्टी ने वोटिंग से खुद को अलग रखा और वॉक आउट किया। बता दें कि सोमवार को राज्यसभा ने इस बिल को पास कर दिया था। 

यह भी पढ़ें- इमोशनल ब्लैकमेलिंग से आजाद हुए J&K के लोग: पढ़ें मोदी की 10 बड़ी बातें

कांग्रेस के रुख के विरोध में एक सांसद ने दिया इस्तीफा

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने और राज्य को दो केंद्रशासित प्रदेश के रूप में बांटने के सरकार के कदम पर कांग्रेस पार्टी के रुख का विरोध करते हुए पार्टी के ही राज्यसभा सदस्य एवं मुख्य सचेतक भुवनेश्वर कालिता ने सोमवार को सदन की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था।

राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू ने सदन में घोषणा की कि उन्होंने कालिता का इस्तीफा स्वीकार कर लिया है। कालिता का कहना था कि उन्होंने अनुच्छेद 370 हटाने और जम्मू-कश्मीर को दो केंद्रशासित प्रदेश के तौर पर बांटने के कदम पर कांग्रेस के रुख के विरोध में इस्तीफा दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Congress leader Jyotiraditya Scindia supports the removal of Article 370 from jammu and kashmir