DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Kashmir Issue: दिग्विजय बोले, कहां आपने देश को मुसीबत में डाल दिया

digvijay singh

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विंजय सिंह ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाने के लिए अपनाए गए तरीके पर आपत्ति दर्ज कराई है। सिंह ने कहा कि कश्मीर में अनुच्छेद 370 करने का फैसला लेकर इन्होंने अपनी शान बघारी है। कश्मीर के साथ जो निर्णय लिया है, वह कश्मीर के लोगों को विश्वास में लिए बगैर, यह अच्छा नहीं किया। इससे वहां संकट बढ़ेगा। यह मत भूलिए कि कश्मीर के एक तरफ  चीन है, एक तरफ  पाकिस्तान है और पास में अफगानिस्तान है। कहां आपने देश को मुसीबत में डाल दिया है।”
 

उन्होंने कार्यक्रम में एक सवाल के जवाब में कहा, “जम्मू-कश्मीर में जिस तरह से अनुच्छेद 370 को हटाया गया है, हमें आपत्ति अनुच्छेद 370 कानून को समाप्त करने पर उतनी नहीं है, जितना कि जिस प्रकार से लाया गया, उसको लेकर आपत्ति है।” 
जम्मू एवं कश्मीर पुलिस ने शरारती ट्विटर हैंडल का ब्योरा मांगा

जम्मू एवं कश्मीर पुलिस ने ट्विटर को पत्र लिखकर इसके एक अकांउट का विवरण मांगा है, जो बार-बार अपने ट्वीट के जरिए अफवाहों को फैला रहा है, जिससे कश्मीर घाटी के कानून व व्यवस्था पर असर डाल रहा है। पुलिस अधीक्षक, पुलिस कंपोनेंट श्रीनगर ने ट्विर हैंडल 'डब्ल्यूएसके' 'एट दि रेट वाजएसखान' का विवरण मांगा। इसकी ट्विटर यूजर आईडी : '74964902' है।

Article 370 हटने के बाद BJP को हो रहा है ये 'फायदा'

ट्विटर, इंक, कॉपोर्रेट सेक्रेटरी को लिखे गए पत्र में कहा गया, “एट दि रेट वाजएसखान अपने ट्वीट से बार-बार अफवाहें फैला रहा है, जो कश्मीर घाटी में कानून और व्यवस्था की स्थिति पर असर डाल रहा है, जो हालिया घटनाओं के मद्देनजर कश्मीर घाटी की कानून व व्यवस्था को बनाए रखने के लिए तैनात सुरक्षा बलों व आम जनता के जीवन के लिए खतरा है।”

इसमें कहा गया, “उल्लेख किए गए ट्विटर हैंडल के ट्वीट से विभिन्न समुदायों के बीच झड़प होने का खतरा है और इससे आम जनता के जीवन को खतरा बढ़ जाता है।” इसमें कहा गया, “इस तरह से यह अनुरोध किया जाता है कि कृपया उपरोक्त ट्विटर खाते के एडमिन/यूजर का विवरण दें।”
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Congress leader Digvijaya Singh on Kashmir Issue says Think what trouble have you put the nation in