ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ देशलोकसभा में बोले अधीर रंजन चौधरी- महात्मा गांधी को गाली देने वाले रावण के औलाद

लोकसभा में बोले अधीर रंजन चौधरी- महात्मा गांधी को गाली देने वाले रावण के औलाद

संसद के बजट सत्र के दौरान लोकसभा में आज भी गहमगहमी देखने को मिल रही है। लोकसभा में कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने महात्मा गांधी को गाली देने वालों को 'रावण का औलाद' बताया है। संसद सत्र के...

लोकसभा में बोले अधीर रंजन चौधरी- महात्मा गांधी को गाली देने वाले रावण के औलाद
Shankarलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीTue, 04 Feb 2020 01:01 PM
ऐप पर पढ़ें

संसद के बजट सत्र के दौरान लोकसभा में आज भी गहमगहमी देखने को मिल रही है। लोकसभा में कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने महात्मा गांधी को गाली देने वालों को 'रावण का औलाद' बताया है। संसद सत्र के चौथे दिन अधीर रंजन चौधरी ने लोकसभा में कहा है कि ये लोग राम के पुजारी का अपमान कर रहे हैं। दरअसल, अधीर रंजन चौधरी का यह बयान उस संदर्भ में आया है, जिसमें सोमवार को बीजेपी सासंद अनंत हेगड़े ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के नेतृत्व वाले स्वतंत्रता आंदोलन को 'ड्रामा' बताया था। 

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, लोकसभा में कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा, 'आज ये महात्मा गांधी को गाली देते हैं। ये रावण के औलाद हैं। राम के पुजारी का ये अपमान कर रहे हैं।' हालांकि, इसके बाद बीजेपी सांसदों ने लोकसभा में कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी के बयान 'ये रावण के औलाद हैं' पर आपत्ति जताई।
 

केंद्रीय मंत्री प्रहलाद जोशी ने कहा हम भारतीय जनता पार्टी के लोग सच्चे भक्त हैं। हम महात्मा गांधी के सच्चे अनुयायी हैं। ये लोग नकली गांधी के अनुयायी हैं, जैसे सोनिया गांधी और राहुल गांधी।

बता दें कि इससे पहले आज महात्मा गांधी पर भाजपा सांसद अनंत हेगड़े की विवादित टिप्पणी को लेकर लोकसभा में कांग्रेस और कुछ अन्य विपक्षी दलों के सदस्यों ने सदन में भारी हंगामा किया। विपक्षी सदस्यों के हंगामे के कारण सदन की कार्यवाही शुरू होने के कुछ ही मिनट बाद दोपहर 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई।

दरअसल, अनंत हेगड़े ने पिछले दिनों बेंगलुरू के एक कार्यक्रम में कथित तौर पर दावा किया कि आजादी की पूरी लड़ाई अंग्रेजों की सहमति एवं सहयोग से लड़ी गई थी और महात्मा गांधी के नेतृत्व वाला स्वतंत्रता आंदोलन एक 'नाटक' था।

मंगलवार को सदन की कार्यवाही आरंभ होते ही सभा ने ओमान के दिवंगत सुल्तान कबूस बिन सईद और कई पूर्व दिवंगत लोकसभा सदस्यों को कुछ पल मौन रखकर श्रद्धांजलि दी। इसके बाद लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने जैसी ही प्रश्नकाल शुरू किया तो कांग्रेस, द्रमुक और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के सदस्य अपने स्थान पर खड़े हो गए। कांग्रेस सदस्यों ने हेगड़े की विवादित टिप्पणी का मुद्दा उठाया और 'महात्मा गांधी अमर रहे ' के नारे लगाए।

शोर-शराबे के बीच बिरला ने विपक्षी सदस्यों से कहा कि गृह मंत्री (अमित शाह) जवाब देना चाहते हैं और आप लोग चर्चा करिए। लोकसभा में मंगलवार को राष्ट्रीय नागरिक पंजी से जुड़ा प्रश्न सूचीबद्ध था और सदन में गृह मंत्री अमित शाह मौजूद थे। सदन में हंगामा थमता नहीं देख उन्होंने करीब 11:05 बजे सभा की बैठक दोपहर 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी। 
  
 

epaper