DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   देश  ›  शीतलहर से ठिठुरा उत्तर भारत, हिमाचल प्रदेश के केलांग में पारा -10 डिग्री पहुंचा, जानें राज्यों के मौसम का हाल

देशशीतलहर से ठिठुरा उत्तर भारत, हिमाचल प्रदेश के केलांग में पारा -10 डिग्री पहुंचा, जानें राज्यों के मौसम का हाल

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्ली।Published By: Himanshu Jha
Fri, 18 Dec 2020 08:25 PM
शीतलहर से ठिठुरा उत्तर भारत, हिमाचल प्रदेश के केलांग में पारा -10 डिग्री पहुंचा, जानें राज्यों के मौसम का हाल

दिल्ली, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, पंजाब, मध्य प्रदेश, हरियाणा, जम्मू एवं कश्मीर और हिमाचल प्रदेश सहित समूचा उत्तर भारत कड़ाके की ठंड की चपेट में है। शुक्रवार को भी लोग गलन एवं शीतलहर से परेशान रहे और घरों में दुबके रहे। पिछले 24 घंटे में पूर्वी और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में कहीं हल्की तो कहीं कड़ाके की ठंड रही।

मौसम विभाग द्वारा शुक्रवार को जारी बयान के मुताबिक, उत्तर प्रदेश में अधिकतम तापमान झांसी में 23.1 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया, जबकि सबसे कम पारा रायबरेली के फुर्सतगंज में तीन डिग्री सेल्सियस रहा। शनिवार सुबह प्रदेश में कई स्थानों पर कहीं हल्का और कहीं घना कोहरा छाने के आसार हैं।

भीषण ठंड से जूझ रहे पंजाब के हलवारा तथा अमृतसर में पारा 0.4 चार डिग्री दर्ज किया गया। पंजाब में पठानकोट में न्यूनतम तापमान तीन डिग्री, पटियाला चार डिग्री, आदमपुर एक डिग्री, फरीदकोट एक डिग्री, गुरदासपुर छह डिग्री भिवानी चार डिग्री और सिरसा में पांच डिग्री रहा।

चुरू 0.3 डिग्री सेल्सियस से कांपा

राजस्थान की बात करें तो ज्यादातर इलाकों में कड़ाके की सर्दी पड़ रही है। माउंट आबू में गुरुवार रात तापमान शून्य से नीचे 2.5 डिग्री व चुरू में 0.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। राज्य के मैदानी इलाकों में सीकर में तापमान 1.0 डिग्री, पिलानी में 1.5 डिग्री, भीलवाड़ा में 2.1 डिग्री, वनस्थली में 2.7 डिग्री, चित्तौड़गढ़ में 3.5 डिग्री, गंगानगर में 5.2 डिग्री, बूंदी में 5.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

मौसम विभाग ने राजस्थान के कई हिस्सों में अगले 24 घंटों में शीतलहर चलने की आशंका जताई है। विभाग के अनुसार, गंगानगर, हनुमानगढ़, बीकानेर, चुरू, बूंदी, सीकर, झुंझुनू, अलवर व भरतपुर जिलों में शीतलहर चलने की संभावना है।

शिमला में तापमान मैदानी इलाकों के बराबर

हिमाचल प्रदेश में उना का पारा शून्य तक पहुंच गया। शिमला के मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक मनमोहन सिंह ने बताया कि जनजातीय जिले लाहौल-स्पीति का प्रशासनिक केंद्र केलांग राज्य में सबसे ठंडा स्थान बना रहा, जहां पारा शून्य से 10 डिग्री सेल्सियस नीचे तक लुढक गया। राजधानी शिमला में तापमान मैदानी इलाकों के बराबर रहा। शिमला में पारा 4.6 डिग्री, धर्मशाला दो डिग्री, मंडी एक डिग्री, नाहन में छह डिग्री सेल्सियस रहा। सुंदरनगर में तापमान शून्य से दो डिग्री नीचे, सोलन में शून्य के आसपास दर्ज किया गया।

हरियाणा में अभी दो दिन सताएगी शीतलहर

हरियाणा में मौसम केन्द्र के अनुसार, पश्चिमोत्तर में अगले दो दिन शीतलहर से राहत नहीं मिलेगी। पाला भी अगले दो दिन सतायेगा। अंबाला, करनाल, हिसार, रोहतक, लुधियाना, बठिंडा का पारा क्रमश: तीन डिग्री रह गया।

मध्य प्रदेश के दतिया में पारा सबसे कम

मध्य प्रदेश के कई हिस्सों में कड़ाके की सर्दी रही। राज्य के 30 मौसम स्टेशनों में से छह ने तापमान में 3 से पांच डिग्री तक की गिरावट दर्ज की। आईएमडी के अनुसार, पूर्वी मध्य प्रदेश और बुंदेलखंड में बेहद कड़ाके की सर्दी के हालात बने हुए हैं। दतिया में सबसे कम न्यूनतम तापमान (3 डिग्री) दर्ज किया गया। जबकि राजधानी भोपाल में यह 7.4 डिग्री रहा।

जैसलमेर में कड़ाके की ठंड़ से बर्फ जमने लगी

जैसलमेर के रामगढ़, मोहनगढ़, चांधण आदि क्षेत्रों में गाड़ियों, बर्तनों आदि में जबरदस्त ठंड के कारण बर्फ जमने लगी हैं जिले के चांधण स्थित काजरी सेन्टर में शुक्रवार न्यूनतम तापमान जीरो डिग्री सैल्सियस रिकॉर्ड किया गया हैं वहीं जैसलमेर में मौसम विभाग ने न्यूनतम तापमान 5.7 डिग्री रिकॉर्ड किया है। इस कड़ाके की ठंड ने आमजन को झकझोर के रख दिया हैं। सर्दी का प्रकोप बढ़ने से पाला पड़ने की संभावना हैं इसने किसानों को चिन्तित कर दिया है।

संबंधित खबरें