ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशवंदे भारत के खाने को लेकर बवाल, यात्री को सब्जी में मिला मरा हुआ कॉकरोच; तस्वीर हुई वायरल

वंदे भारत के खाने को लेकर बवाल, यात्री को सब्जी में मिला मरा हुआ कॉकरोच; तस्वीर हुई वायरल

वंदे भारत ट्रेन से यात्रा करने वाले यात्री का आरोप है कि उन्हें ट्रेन के खाने में मरा हुआ कॉकरोच मिला है। उन्होंने सोशल मीडिया पर तस्वीर शेयर कर अपनी शिकायत रेलवे को की है।

वंदे भारत के खाने को लेकर बवाल, यात्री को सब्जी में मिला मरा हुआ कॉकरोच; तस्वीर हुई वायरल
vande bharat food cockroach
Himanshu Tiwariलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 20 Jun 2024 02:46 PM
ऐप पर पढ़ें

भोपाल से आगरा जा रहे वंदे भारत के यात्री ने खाने को लेकर शिकायत की है। यात्री का आरोप है कि उन्हें ट्रेन के खाने में मरा हुआ कॉकरोच मिला है। उन्होंने सोशल मीडिया पर अपनी शिकायत रेलवे को की है। यात्री ने अपने खाने की तस्वीर सोशल मीडिया पर शेयर की है, जो अब वायरल हो गई है। तस्वीर में नजर आ रहा है कि एक मरा हुआ कॉकरोच सब्जी की प्लेट में नजर आ रहा है।

यात्री ने इस तस्वीर शेयर करते हुए अपनी निराशा व्यक्त करते हुए कहा, "आज 18-06-24 को, मेरे चाचा और चाची को वंदे भारत से यात्रा करने के दौरान आईआरसीटीसी द्वारा परोसे गए खाने में कॉकरोच मिला। कृपया विक्रेता के खिलाफ तत्काल कार्रवाई करें ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि ऐसी घटनाएं दोबारा न हों।"

इस पोस्ट के वायरल हो जाने के बाद भारतीय रेलवे खानपान और पर्यटन निगम (आईआरसीटीसी) ने खाना मुहैया कराने वाले पर जुर्माना लगाया है। आईआरसीटीसी ने एक्स पोस्ट करते हुए खेद व्यक्त किया और कहा, "यात्रा के दौरान इस अनुभव के लिए हम क्षमा चाहते हैं। मामले को गंभीरता से लिया गया है, और सेवा प्रदाता पर उचित दंड लगाया गया है। हमने उत्पादन और रसद की निगरानी भी बढ़ा दी है।"

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट की मानें तो, इस पोस्ट के बाद भारतीय ट्रेनों में साफ-सफाई और मैनेजमेंट के खिलाफ भी लोगों की तीखी प्रतिक्रिया आई। कई यूजर्स ने सोशल मीडिया पर रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव को टैग करते हुए स्पष्टीकरण की मांग की।

यात्री पोस्ट पर प्रतिक्रिया देते हुए एक यूजर ने लिखा, "यह गंभीर समस्या है क्योंकि भारत की सबसे प्रीमियम ट्रेन वंदे भारत में भी ये समस्याएं हैं। गंभीर रूप से निराश हूं।" एक अन्य यूजर ने टिप्पणी की, "सरकार सार्वजनिक स्वास्थ्य के बारे में गंभीर क्यों नहीं है।" एक तीसरे यूजर ने प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा, "दुख की बात है कि आप जानते हैं कि कोई कार्रवाई नहीं की जाएगी, वही भोजन उसी विक्रेता द्वारा उसी समस्या के साथ फिर से परोसा जाएगा, लेकिन किसी को परवाह नहीं है।"