DA Image
23 जनवरी, 2020|11:04|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

धर्मनिरपेक्षता के सवाल पर भड़के सीएम उद्धव ठाकरे, जानें क्या दिया जवाब

uddhav-thackeray

महाराष्ट्र मंत्रिमंडल की बैठक के बाद गुरुवार (28 नवंबर) संवाददाता सम्मेलन में न्यूनतम साझा कार्यक्रम में धर्मनिरपेक्ष शब्द को शामिल करने पर भी सवाल किए गए। इस दौरान उद्धव से सवाल किया गया कि क्या शिवसेना गठबंधन में शामिल होने के बाद धर्मनिरपेक्ष हो गई है। इस सवाल पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे भड़क गए। उन्होंने सवाल पूछने वाले मीडियाकर्मी से ही कहा कि आप ही इसका मतलब बताइये। बाद में उन्होंने कहा कि संविधान में जो कुछ है वही धर्मनिरपेक्ष है।

रायगढ़ किले के लिए 20 करोड़ रुपये
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने बृहस्पतिवार (28 नवंबर) की रात अपनी कैबिनेट की पहली बैठक में रायगढ़ किले के पुनरुद्धार के लिए 20 करोड़ रुपये आवंटित किए और उन्होंने कहा कि उनकी सरकार राज्य के किसानों के लिए ठोस कदम उठायेगी। मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने वाले ठाकरे ने दक्षिण मुंबई के सहयाद्री गेस्ट हाउस में कैबिनेट की पहली बैठक की अध्यक्षता की। उन्होंने कहा कि कैबिनेट के पहले फैसले में छत्रपति शिवाजी महाराज की राजधानी रायगढ़ किले के पुनरुद्धार के लिए 20 करोड़ रुपये की धनराशि को मंजूरी दी गई।

किसानों की ठोस मदद करना चाहते हैं
मुख्यमंत्री का पद संभालने के बाद पहले संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए ठाकरे ने कहा कि उन्होंने मुख्य सचिव से किसानों के लिए सभी मौजूदा योजनाओं की समीक्षा कर गौर करने को कहा है कि इससे किसानों को असल में कितना फायदा हुआ है। उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ''यदि हम वास्तविकता जानेंगे तो हम अच्छा काम कर सकते हैं। हमने जानकारी मांगी है। किसानों को सिवाए आश्वासन के कुछ नहीं मिला। हम किसानों की ठोस मदद करना चाहते हैं।"

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:CM Uddhav Thackeray blow up Over secularism Question