ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशकोरोना होने पर PM मोदी ने खुद कॉल किया और वैद्य से दवा दिलाई, CJI डीवाई चंद्रचूड़ ने बताया वाकया

कोरोना होने पर PM मोदी ने खुद कॉल किया और वैद्य से दवा दिलाई, CJI डीवाई चंद्रचूड़ ने बताया वाकया

Supreme Court News: CJI डीवाई चंद्रचूड़ ने आगे कहा, 'जब मैं कोविड से बीमार था, तब AYUSH से दवाएं लीं। दूसरी और तीसरी बार भी जब मुझे कोविड हुआ, तब मैंने एलोपैथी दवाएं बिल्कुल भी नहीं लीं...।

कोरोना होने पर PM मोदी ने खुद कॉल किया और वैद्य से दवा दिलाई, CJI डीवाई चंद्रचूड़ ने बताया वाकया
Nisarg Dixitलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 22 Feb 2024 12:38 PM
ऐप पर पढ़ें

CJI डीवाई चंद्रचूड़ ने कोविड-19 संक्रमण के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से हुई बातचीत को याद किया। उन्होंने बताया कि बीमारी के दौरान पीएम ने उन्हें फोन कर वैद्य से बात भी कराई और दवाएं भी भेजी थीं। भारत के मुख्य न्यायाधीश ने गुरुवार को राजधानी दिल्ली में AYUSH वेलनेस सेंटर का उद्घाटन किया। इस दौरान उन्होंने केंद्रीय मंत्री सर्बानंद सोनोवाल का विशेष धन्यवाद किया।

कार्यक्रम के दौरान सीजेआई ने कहा, 'जब से कोविड की दस्तक हुई है, तब से मैं AYUSH के साथ जुड़ा हुआ हूं। मुझपर कोविड का बहुत बुरा असर हुआ था और प्रधानमंत्री ने मुझसे बात की और कहा, 'मुझे पता है कि आप कोविड का शिकार हैं और मैं उम्मीद करता हूं कि सबकुछ ठीक होगा। मुझे एहसास है कि आपकी हालत ठीक नहीं है, लेकिन हम सबकुछ करेंगे। एक वैद्य हैं, जो AYUSH में सचिव भी हैं, मैं बातचीत की व्यवस्था करता हूं और वह आपको दवाएं भेज देंगे।''

CJI चंद्रचूड़ ने आगे कहा, 'जब मैं कोविड से बीमार था, तब AYUSH से दवाएं लीं। दूसरी और तीसरी बार भी जब मुझे कोविड हुआ, तब मैंने एलोपैथी दवाएं बिल्कुल भी नहीं लीं...। सुप्रीम कोर्ट के सभी जज, उनके परिवार और 2 हजार से ज्यादा स्टाफ के सदस्यों की मुझे चिंता थी, क्योंकि उन्हें न्यायाधीशों की तरह सुविधाएं नहीं मिलती हैं। मैं चाहता हूं कि वे समग्र पैटर्न से जीवन गुजारें...। मैं मंत्री सर्बानंद सोनोवाल का धन्यवाद करना चाहता हूं।'

साल 2020 की शुरुआत से ही भारत में कोविड ने पैर पसारने शुरू कर दिए थे। इसके बाद 22 मार्च 2020 को पीएम मोदी ने जनता कर्फ्यू का ऐलान किया। हालांकि, बाद में कोरोना महामारी को बढ़ता देख देश में लॉकडाउन भी लगाया गया। सरकारी आंकड़े बताते हैं कि देश में इस भयंकर महामारी के चलते 5 लाख 33 हजार 476 लोग जान गंवा चुके हैं। राहत की खबर है कि देश में टीकाकरण का आंकड़ा 220 करोड़ 67 लाख 21 पर पहुंच गया है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें