DA Image
21 जनवरी, 2020|3:17|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नागरिकता कानून: असम में हो रहे प्रदर्शन को लेकर PM मोदी और अमित शाह से मिलेंगे सीएम सोनोवाल

Biplab Deb sworn in as Tripura CM

असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल की अगुवाई में एक टीम नागरिकता (संशोधन) अधिनियम के खिलाफ राज्य में चल रहे विरोध प्रदर्शन पर चर्चा करने के लिए शीघ्र ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से मिलेगी। असम के संसदीय कार्य मंत्री चंद्रमोहन पटवारी ने शनिवार को बताया कि स्थिति के बारे में प्रधानमंत्री और केंद्रीय गृह मंत्री को बताने का फैसला यहां भाजपा विधायकों और सांसदों की एक बैठक में किया गया है।

नागरिकता बिल पर पूर्वी राज्यों में प्रदर्शन उग्र, जानिए किसने क्या कहा
पटवारी ने एक बयान में कहा कि टीम राज्य की वर्तमान स्थिति के बारे में बताने के जल्द ही दोनों नेताओं से मिलेगी। उन्होंने कहा, '' आज की बैठक में लोगों से शांति एवं व्यवस्था बनाये रखने की अपील की गयी।

केंद्र सरकार का अगला एजेंडा एनआरसी-जनसंख्या नियंत्रण
सोनोवाल ने ट्वीट किया कि बैठक में उन्होंने बैठक में अपने मंत्रिमंडलीय सहयोगियों, केंद्रीय मंत्री श्री रामेश्वर तेली और सांसदों, विधायकों, असम भाजपा के अध्यक्ष रंजीत कुमार दास असम की वर्तमान स्थिति के बारे में चर्चा की।

असम में तनाव, बंगाल में हिंसक प्रदर्शन; 5 ट्रेन और 25 बस आग के हवाले
असम अपने इतिहास में जनता के भीषणतम हिंसक प्रदर्शनों में से एक से गुजर रहा है। वहां तीन रेलवे स्टेशनों,एक डाकघर, एक बैंक, एक बैंक टर्मिनस, दुकानों, दर्जनों वाहन और कई अन्य सरकारी संपत्तियां को जला दिया गया या उनमें तोड़फोड़ की गयी।

इंटरनेट सेवा ठप
असम में सोशल मीडिया के दुरुपयोग को रोकने के लिए 16 दिसंबर तक इंटरनेट सेवाएं ठप कर दी गई हैं। 
कर्फ्यू  में ढील : गुवाहाटी में सुबह नौ बजे से शाम चार बजे तक जबकि, डिब्रूगढ़ में सुबह आठ से दोपहर दो बजे तक ढील दी गई।  दुकानों के बाहर लंबी कतारें नजर आईं।  पेट्रोल पंप भी खोल दिए गए हैं, जहां वाहनों की कतारें दिखीं। हालांकि, स्कूल और कार्यालय अब भी बंद हैं।

 

कर्मचारी 18 को हड़ताल पर रहेंगे
सदोउ असम कर्मचारी परिषद के अध्यक्ष बासब कलिता ने बताया कि राज्य सरकार के सभी कर्मचारी 18 दिसंबर को कार्यालय नहीं जाएंगे। राज्य में आंदोलन का नेतृत्व कर रहे ऑल असम स्टूडेंट्स यूनियन (आसू) ने असोम जातीयवादी युवा छात्र परिषद और मूल निवासियों के 30 अन्य संगठनों के साथ विरोध प्रदर्शन किया। इसमें वरिष्ठ नागरिकों, छात्रों, शिक्षकों, कलाकारों, गायकों के साथ तमाम बुद्धिजीवी शामिल हुए।

गुवाहाटी से ट्रेनों का संचालन शुरू
पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे के प्रवक्ता ने बताया कि ऊपरी असम जिलों की ओर जाने वाली सभी ट्रेनें गुवाहाटी में रद्द कर दी गई, जबकि गुवाहाटी से जाने वाली लंबी दूरी की सभी ट्रेनों ने शाम पांच बजे नाकेबंदी हटाए जाने के बाद अपनी आगे की यात्रा फिर से शुरू कर दी। हालांकि, आठ एक्सप्रेस सहित 78 ट्रेनें रद्द करनी पड़ी हैं जबकि 39 ट्रेनों का मार्ग बदला गया है। रेलवे प्रशासन फंसे लोगों को निकालने के लिए कई विशेष  रेलगाड़ियां चला  रहा है। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Citizenship act CM Sonowal will meet pm Modi and amit Shah for protest in Assam