DA Image
17 नवंबर, 2020|8:00|IST

अगली स्टोरी

भारत में क्या करने आया था चीनी सैनिक? सेना को उसके पास से मिले स्लीपिंग बैग और स्टोरेज डिवाइस

indian flag  file pic

भारतीय जवानों ने डेमचौक इलाके में एक चीनी सैनिक को पकड़ा था। उसके पास से स्लीपिंग बैग, स्टोरेज डिवाइस और एक मोबाइल फोन बरामद किया गया था। यह चीनी सैनिक कोर्पोरल वांग या लोंग पूर्वी लद्दाख के डेमचौक इलाके में वास्तविक नियंत्रण रेखा के इस पार भारतीय सीमा में भटककर आ गया था और उसे सेना ने सोमवार को पकड़ा था।

सरकारी सूत्र ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया, "जब हमारे सुरक्षा जवानों ने पकड़ा तो चीनी सैनिक के पास से एक स्लीपिंग बैग, एक खाली डेटा स्टोरेज डिवाईस और एक मोबाइल फोन के साथ एक मिलिट्री आई कार्ड मिला था।"

उन्होंने बताया कि चुशुल में सैन्य स्तर की बैठक में उसे चीन को सौंपने से पहले मौजूदा प्रोटोकॉल के अनुसार संबंधित सैन्य अथॉरिटीज की तरफ से चीनी सैनिक के साथ गहन पूछताछ की गई।

ये भी पढ़ें: पीएम मोदी के 370 वाले बयान पर महबूबा बोलीं- इनके पास और कुछ नहीं

घटना के बारे में एक बयान में सेना की तरफ से यह कहा गया था कि चीनी सैनिक को "अत्यधिक ऊंचाई और कठोर जलवायु परिस्थितियों से बचाने के लिए ऑक्सीजन, भोजन और गर्म कपड़े सहित चिकित्सा सहायता प्रदान की गई।"

सेना ने कहा कि चीनी पीपुल्स लिबरेशन आर्मी की तरफ से एक अनुरोध किया गया था उनका एक सैनिक लापता है। इसके बाद सेना की तरफ से यहा गया कि वे औपचारिकताएं पूरी करने के बाद स्थापित प्रोटोकॉल के हिसाब से वे इसे वापस कर देंगे। बाद में उस चीनी सैनिक को मंगलवार की रात को वापस कर दिया गया।

अप्रैल-मई के दौरान कई जगहों पर चीनी सैनिकों के अतिक्रमण के बाद भारतीय उसके किसी भी दुस्साहस का जवाब देने के लिए करीब 60 हजार जवानों को तैनात कर दिया है। सेना ने चीन के खिलाफ कड़ा कदम उठाते हुए 29-30 अगस्त को एलएसी के नजदीक लद्दाख के पैंगोंग त्सो के दक्षिण किनारे पर ऊंचाई वाले हिस्से पर अपना कब्जा जमा लिया था।

ये भी पढ़ें: RJD के सरकारी नौकरी के दावे पर बोले PM, यह सिर्फ रिश्वत कमाने का जरिया

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Chinese soldier who strayed into India was carrying sleeping bag and storage device