ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ देशकिशोर मिराम तारोन से पूछताछ के बाद ही चीन ने भारत वापस भेजा, PLA ने बताया क्या-क्या किया

किशोर मिराम तारोन से पूछताछ के बाद ही चीन ने भारत वापस भेजा, PLA ने बताया क्या-क्या किया

चीन ने गुरुवार को कहा कि उसने दो एशियाई दिग्गजों के बीच विवादित सीमा पर चीनी क्षेत्र में "अवैध रूप से" प्रवेश करने वाले एक भारतीय नागरिक को वापस कर दिया है। पश्चिमी थिएटर कमांड के प्रवक्ता...

किशोर मिराम तारोन से पूछताछ के बाद ही चीन ने भारत वापस भेजा, PLA ने बताया क्या-क्या किया
Amit Kumarलाइव हिन्‍दुस्‍तान,नई दिल्लीThu, 27 Jan 2022 03:35 PM

इस खबर को सुनें

चीन ने गुरुवार को कहा कि उसने दो एशियाई दिग्गजों के बीच विवादित सीमा पर चीनी क्षेत्र में "अवैध रूप से" प्रवेश करने वाले एक भारतीय नागरिक को वापस कर दिया है। पश्चिमी थिएटर कमांड के प्रवक्ता कर्नल लॉन्ग शाओहुआ ने एक बयान में कहा कि भारतीय नागरिक को कुछ दिन पहले चीनी बॉर्डर गार्ड ने गश्त के दौरान पाया था।

चीनी सेना ने बताया उसने मिराम तारोन के साथ क्या-क्या किया

पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) के वेस्टर्न थिएटर के आधिकारिक वीचैट अकाउंट पर पोस्ट किए गए बयान में लॉन्ग ने कहा, व्यक्ति ने "अवैध रूप से चीनी क्षेत्र में प्रवेश किया था। उससे नियमित रूप से पूछताछ की गई, फिर उसे क्वारंटाइन किया गया। इसके अलावा प्रासंगिक सीमा नियंत्रण नियमों के अनुसार उसे मानवीय सहायता दी गई।" चीनी अधिकारी ने कहा कि भारतीय सेना और चीनी पक्ष के बीच चर्चा के बाद व्यक्ति को वापस कर दिया गया। उसने कहा कि इससे पहले भारत ने चीन से एक खोज में सहायता करने के लिए कहा था।

चीन की भारत को चेतावनी

चीन की ओर से गुरुवार को ये घोषणा तब की गई जब कुछ समय पहले भारतीय रक्षा मंत्रालय ने कहा था कि पिछले हफ्ते उसने चीन से संपर्क करके अनुरोध किया था कि वह एक 17 वर्षीय भारतीय मिराम तारोन का पता लगाए और उसे लौटाए, जिसे कथित तौर पर सीमा के पास लापता होने के बाद चीनी सेना ने पकड़ लिया था। गुरुवार को चीन की घोषणा में यह नहीं बताया गया था कि भारत लौटा हुआ नागरिक तारोन है या नहीं, लेकिन इसने नई दिल्ली के लिए एक चेतावनी और दे दी। चीन ने कहा, "हम भारतीय पक्ष से द्विपक्षीय समझौतों को सख्ती से लागू करने, कार्मिक प्रबंधन और नियंत्रण को मजबूत करने और सीमावर्ती क्षेत्रों में सामान्य व्यवस्था बनाए रखने का आग्रह करते हैं।"

भारतीयों को किडनैप करता है चीन

बता दें कि भारत और चीन अक्सर अपनी लंबी और विवादित हिमालयी सीमा को लेकर भिड़ते रहे हैं, और चीन संपूर्ण अरुणाचल प्रदेश को अपने तिब्बत क्षेत्र के हिस्से के रूप में दावा करता है। 2020 में गालवान घाटी में हुई झड़पों में कम से कम 20 भारतीय और 'चार चीनी सैनिक' मारे गए थे। हाल के वर्षों में सीमा के पास भारतीय नागरिकों के लापता होने के कई मामले सामने आए हैं, जिसे नई दिल्ली ने अक्सर कहा है कि चीन द्वारा अपहरण के प्रयास किए गए थे, जिसे बीजिंग ने इनकार किया है।

epaper