DA Image
11 अगस्त, 2020|9:42|IST

अगली स्टोरी

चीन ने उठाया 59 चीनी ऐप्स बैन किए जाने का मुद्दा, भारत ने दिया दो टूक जवाब

भारत-चीन के बीच सीमा पर तनातनी में आई कमी के बाद चीन ने नई दिल्ली के साथ 59 चीनी ऐप्स के बैन किए जाने का मुद्दा उठाया है। भारत के साथ हाल में हुई द्विपक्षीय वार्ता में यह मुद्दा उठाया गया है। भारत ने पिछले दिनों टिकटॉक समेत 59 चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध लगा दिया था।

सरकारी सूत्रों ने न्यूज एजेंसी ANI ने बताया कि राजनयिक स्तर की एक बैठक के दौरान, चीनी पक्ष ने भारत में अपनी मोबाइल ऐप्स पर बैन का मुद्दा उठाया है। सूत्रों ने कहा कि भारतीय पक्ष ने चीन को यह स्पष्ट कर दिया कि कार्रवाई सुरक्षा मुद्दों को देखते हुए की गई थी और वह नहीं चाहता था कि भारत के नागरिकों से जुड़े डाटा से छेड़छाड़ हो।

भारत ने हाल ही में 59 चीनी मोबाइल ऐप्स पर प्रतिबंध लगा दिया था। इनपर सुरक्षा और भारतीय यूजर्स के डाटा का गलत इस्तेमाल करने का आरोप लगाया गया है। बैन की गईं ऐप्स में टिकटॉक, वीचैट, हेलो आदि शामिल हैं।

चीनी ऐप्स पर यह प्रतिबंध सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम की धारा 69 ए के तहत लगाया गया है। सरकार की ओर से जारी बयान में कहा गया, 'भारत की राष्ट्रीय सुरक्षा के प्रति शत्रुता रखने वाले तत्वों द्वारा इन आंकड़ों का संकलन, इसकी जांच-पड़ताल और प्रोफाइलिंग, आखिरकार भारत की संप्रभुता और अखंडता पर आघात है, यह बहुत अधिक चिंता का विषय है, जिसके लिए आपातकालीन उपायों की जरूरत है। गृह मंत्रालय के तहत आने वाले भारतीय साइबर अपराध समन्वय केंद्र ने इन दुर्भावनापूर्ण एप्स पर व्यापक प्रतिबंध लगाने की सिफारिश भी की थी।'

वहीं, प्रतिबंध के बाद, चीनी विदेश मंत्रालय ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि अंतर्राष्ट्रीय निवेशकों के कानूनी अधिकारों की रक्षा करना भारत का कर्तव्य है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:China raises apps ban issue during meeting India says action taken due to security reasons