DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सच जानने के लिए कब्र से निकाला जाएगा बच्चे का शव

दुष्कर्म के एक मामले को सुलझाने के लिए अदालत ने समय पूर्व जन्मे बच्चे के शव को कब्र से निकालने के निर्देश दिए हैं। पीड़िता का आरोप है कि आरोपी द्वारा दुष्कर्म किए जाने के कारण वह गर्भवती हुई और आरोपी की प्रताड़ना की वजह से उसने समय से पूर्व मृत बच्चे को जन्म दिया। अदालत ने दिल्ली पुलिस को आदेश दिया है कि बच्चे के शव का डीएनए टेस्ट कराया जाए।

तीस हजारी स्थित अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश एसपीएस ललेर की अदालत ने मोतीबाग पुलिस को कहा है कि बच्चे के शव को कब्र से निकालकर उसका डीएनए सैंपल लिया जाए। सैंपल का मिलान आरोपी से कराया जाए। अदालत ने बच्चे के जन्म और मृत्यु संबंधी दस्तावेज भी पेश करने को कहा है। अदालत ने कहा कि दुष्कर्म के इस मामले में कई पेंच हैं। बच्चे के शव से ही इस बात का पता लगाया जा सकता है कि पीड़िता के आरोप कितने सही हैं। अदालत ने कहा कि बच्चे के जन्म और मृत्यु संबंधी दस्तावेजों से उसकी मौत की वजह का आकलन होगा।

23 जुलाई को आरोपी गिरफ्तार हो चुका है : पीड़िता का आरोप है कि आरोपी ने शादी का झांसा देकर उसके साथ दुष्कर्म किया और जब वह गर्भवती हो गई तो उसने शादी से इंकार कर दिया। आरोपी की प्रताड़ना से वह तनाव में आ गई। ऐसे में बच्चा पूरी तरह विकसित भी नहीं हुआ था कि समय पूर्व मृत बच्चे का जन्म हुआ। पुलिस ने आरोपी को 23 जुलाई को गिरफ्तार कर लिया था। आरोपी का कहना है कि वह और पीड़िता काफी समय से लिव-इन में रह रहे थे। 

* अदालत ने बच्चे का शव निकाल डीएनए सैंपल लेने को कहा।
* विवाहिता ने एक व्यक्ति पर दुष्कर्म का आरोप लगाया है।

तलाक की डिक्री के लिए पुलिस जारी करेगी नोटिस
इस मामले में पुलिस की तरफ से अदालत को बताया गया कि वह शिकायतकर्ता महिला को नोटिस जारी करने जा रही है। पीड़िता की तरफ से तलाक या पति से अलग होने संबंधी कोई दस्तावेज पेश नहीं किया गया है। अब पुलिस पीड़िता से उसकी तलाक की डिक्री पेश करने को कहेगी।

पीड़ित महिला पहले से शादीशुदा है
पीड़ित महिला पहले से शादीशुदा है। बच्चे के डीएनए से पता चलेगा कि यह बच्चा उसके पति का था या आरोपी से  संबंधों का नतीजा था। पीड़िता का कहना है कि आरोपी ने उससे शादी का वादा किया था। इस पर अदालत ने पुलिस से पूछा कि अगर आरोपी ने उससे शादी का वादा किया था तो क्या महिला ने अपने पहले पति से तलाक ले लिया था। इस पर पुलिस का कहना था कि अभी मामले की जांच प्राथमिक स्तर पर है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Child Body Pull From Grave Order Delhi Court in Rape Case