DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चंद्रयान-2 को इसी माह भेजे जाने की संभावना

chandrayaan 2  isro twitter

चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण आखिरी क्षणों में भले ही टल गया हो लेकिन सूत्रों के मुताबिक भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) इसी माह के अंत तक इसे रवाना कर देगा। हालांकि, इसकी आधिकारिक घोषणा नहीं की गई है।

चंद्रयान को सोमवार तड़के 2.51 बजे प्रक्षेपित किया जाना था लेकिन तकनीकी खराब के कारण इसे टालना पड़ा। इसरो सूत्रों ने कहा कि किसी उपग्रह को लांच करने की एक खास अवधि होती है, जिसे लांन्चिग विंडो कहते हैं। कभी यह कुछ दिनों की होती है तो कभी कुछ घंटों की और कभी महज कुछ मिनटों की।

चंद्रयान-2 : चांद पर बसने का सपना होगा साकार, खनिज संपदा की खोज और पर्यटन को भी बढ़ावा

इसरो ने चंद्रयान-2 को नौ से 16 जुलाई के बीच लॉंच करने की बात कही थी। यह अवधि निकल चुकी है। उन्होंने कहा कि अगले 10 दिनों के भीतर रॉकेट की तकनीकी कमी को दूर कर लिए जाने की संभावना है। इसके बाद उपयुक्त विंडो मिलने पर चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण किया जाएगा।

उम्मीदें
* 10 दिनों में खामी दूर हुई और लॉन्चिग विंडो मिला तो संभव।
* तकनीकी गड़बड़ी पाए जाने पर आखिरी समय रोका प्रक्षेपण।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Chandrayaan 2 Likely To Launch This Month