ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशBJP संग आने की बेकरारी? आंध्र प्रदेश में उम्मीदवारों के ऐलान संग चंद्रबाबू नायडू-पवन कल्याण का बड़ा संकेत

BJP संग आने की बेकरारी? आंध्र प्रदेश में उम्मीदवारों के ऐलान संग चंद्रबाबू नायडू-पवन कल्याण का बड़ा संकेत

लोकसभा चुनाव की चर्चाओं के बीच आंध्र प्रदेश विधानसभा के लिए उम्मीदवारों का ऐलान होने लगा है। तेलुगूदेशम पार्टी के चंद्रबाबू नायडू और जनसेना के मुखिया पवन कल्याण ने उम्मीदवारों का ऐलान किया है।

BJP संग आने की बेकरारी? आंध्र प्रदेश में उम्मीदवारों के ऐलान संग चंद्रबाबू नायडू-पवन कल्याण का बड़ा संकेत
Deepakलाइव हिन्दुस्तान,हैदराबादSat, 24 Feb 2024 06:02 PM
ऐप पर पढ़ें

लोकसभा चुनाव की चर्चाओं के बीच आंध्र प्रदेश विधानसभा के लिए उम्मीदवारों का ऐलान होने लगा है। तेलुगूदेशम पार्टी के अध्यक्ष चंद्रबाबू नायडू और जनसेना पार्टी के मुखिया पवन कल्याण ने 118 कैंडिडेट्स की सूची जारी कर दी है। इसमें 94 सीटों पर टीडीपी और 24 सीटों पर जनसेना के उम्मीदवार चुनाव लड़ेंगे। वहीं, प्रदेश की 25 लोकसभा सीटों में से तीन पर जनसेना चुनाव लड़ेगी। इस घोषणा की सबसे बड़ी बात यह है कि दोनों नेताओं ने भाजपा के साथ तालमेल का रास्ता खुला छोड़ रखा है। चंद्रबाबू नायडू ने कहाकि जब भाजपा को लेकर फैसला हो जाएगा तो हम इसकी जानकारी देंगे। बता दें कि आंध्र प्रदेश में विधानसभा की कुल 175 और लोकसभा की 25 सीटें हैं। यहां पर लोकसभा और विधानसभा के चुनाव एक साथ होंगे।

सबसे ज्यादा नए उम्मीदवार
गौरतलब है कि दो हफ्ते पहले चंद्रबाबू नायडू ने भाजपा के शीर्ष नेताओं अमित शाह और जेपी नड्डा से दिल्ली में मुलाकात की थी। जनसेना के मुखिया पवन कल्याण ने उम्मीद जताई कि तीनों दल एक साथ मिलकर सत्ताधारी वाईएसआरसीपी को शिकस्त देने में कामयाब रहेंगे। यह भी दिलचस्प है कि टीडीपी और जनसेना के गठबंधन वाले 118 उम्मीदवारों के नाम 1 करोड़ नागरिकों के बीच से चुने गए हैं। इसमें भी टीडीपी सबसे ज्यादा नए उम्मीदवार उतार रही है। इसे प्रदेश की राजनीति में एक नया कदम माना जा रहा है।

इलेक्शन वॉर के लिए तैयार
उन्दावल्ली में एक प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए चंद्रबाबू नायडू ने कहाकि टीडीपी-जेएसपी इलेक्शन वॉर के लिए तैयार हैं। यह गठबंधन आंध्र प्रदेश के सुनहरे भविष्य के लिए है। उन्होंने कहाकि हमारी लिस्ट में 28 उम्मीदवार पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री वाले, 50 उम्मीदवार ग्रेजुएट डिग्री वाले, तीन डॉक्टर, दो पीएचडी और एक आईएएस अफसर है। उन्होंने कहाकि इस लिस्ट को एक करोड़, तीन लाख और 33 हजार लोगों से रायशुमारी के बाद तैयार किया गया है। नायडू ने बताया कि आम लोगों के बीच उम्मीदवारों चुनाव का मकसद ताकत का विकेंद्रीकरण करना है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें