DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वेमुरू TDP के व्हिसलब्लोअर हैं, चोर नहीं: चंद्रबाबू ने EC के आरोप पर कहा

chandrababu naidu

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने रविवार को कहा कि उनके तकनीकी सलाहकार हरि प्रसाद वेमुरू कोई चोर नहीं, बल्कि एक 'व्हिसलब्लोअर' हैं। दरअसल, चुनाव आयोग से मिलने वाले तेदेपा के प्रतिनिधिमंडल में वेमुरू की मौजूदगी पर आयोग ने ऐतराज जताया था। नायडू ने चुनाव प्रक्रिया में पारदर्शिता के मुद्दे पर यहां विपक्षी दलों के संवाददाता सम्मेलन में कहा, ''कल हमने मुख्य चुनाव आयुक्त (सीईसी) से मुलाकात की और दिखाया कि ईवीएम कैसे ठीक से काम नहीं कर रही है। पारदार्शिता के लिए लड़ाई में उन्हें (वेमुरू को) चर्चा के लिए बुलाया गया था। वह एक व्हिसलब्लोअर हैं। उन्होंने कोई चोरी नहीं की है।"

उन्होंने कहा, ''मैं प्रौद्योगिकी की समझ रखता हूं। मैंने देश में प्रौद्योगिकी को बढ़ावा दिया है। हम प्रौद्योगिकी के मास्टर हो सकते हैं ना कि इसके गुलाम।" वहीं, तेदेपा को लिखे एक पत्र में शनिवार को चुनाव आयोग ने पूछा कि आपराधिक पृष्ठभूमि वाला कोई व्यक्ति नायडू के नेतृत्व वाले प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा कैसे हो सकता है। चुनाव आयोग ने कहा कि वेमुरू 2010 में एक ईवीएम की कथित चोरी के आपराधिक मामले में संलिप्त रहा था।

इस पर, तेदेपा ने अपने जवाब में कहा कि पिछले नौ साल में वेमुरू के खिलाफ कोई आरोपपत्र दाखिल नहीं किया गया। पार्टी ने दावा किया कि चुनाव आयोग ने वेमुरू को 21 जुलाई 2011 को दिल्ली में वीवीपैट के प्रथम फील्ड ट्रायल में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया था। पार्टी ने दावा किया कि वह पिछले नौ साल में चुनाव आयोग की कई अन्य बैठकों में भी शरीक हुए हैं।

PM मोदी ने कहा, घाटी में कश्मीरी पंडितों को फिर से बसाने के लिये प्रतिबद्ध हैं

तेदेपा ने आरोप लगाया, ''इस मुद्दे पर ध्यान केंद्रित करने के बजाय चुनाव आयोग हालात को टालने की कोशिश कर रहा।" साथ ही, वेमुरू ने ईवीएम के ठीक से काम नहीं करने पर एक प्रस्तुति भी दी। उन्होंने कहा, ''जिन मशीनों के सुरक्षित होने का दावा किया जा रहा वे मैनुअल के अनुसार काम नहीं कर रही हैं। मैनुअल कहता है कि सात सेकेंड के लिए वीवीपैट पर्ची दिखाई देगी और फिर यह कट कर बक्से में गिर जाएगी लेकिन ऐसा नहीं हो रहा है।"

उन्होंने तीन ईवीएम के अलग - अलग काम करने का वीडियो दिखाते हुए कहा कि कुछ खास कोड बदल दिए जाने पर डिसप्ले टाइम में अंतर दिख रहा है। संवाददाता सम्मेलन में कांग्रेस, तेदेपा, आप, सपा, भाकपा, माकपा और तृणमूल कांग्रेस सहित 20 से अधिक विपक्षी दलों के नेता मौजूद थे तथा उन्होंने चुनाव आयोग को प्रभावित करने की कथित कोशिश करने को लेकर सत्तारूढ़ भाजपा पर जोरदार हमला किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Chandrababu Naidu hits back at EC charge Says TDP tech advisor is whistle blower not thief