ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ देश जल संकट से जूझ रहा चंडीगढ़, पानी बर्बाद करने वालों पर लगेगा 5 हजार का जुर्माना

जल संकट से जूझ रहा चंडीगढ़, पानी बर्बाद करने वालों पर लगेगा 5 हजार का जुर्माना

चंडीगढ़ में पानी की किल्लत शुरू हो गई है। प्रशासन ने ऐलान किया है कि 15 अप्रैल से चंडीगढ़, पंचकुला या मोहाली में कोई पानी बर्बाद करता दिखा तो उसपर पांच हजार रुपये का जुर्माना लगेगा।

 जल संकट से जूझ रहा चंडीगढ़, पानी बर्बाद करने वालों पर लगेगा 5 हजार का जुर्माना
Atul Guptaलाइव हिंदुस्तान,चंडीगढ़Fri, 15 Apr 2022 12:55 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें


गर्मी बढ़ने के साथ ही चंडीगढ़ में पानी की किल्लत होना शुरू हो गई है। शहर के कई हिस्सों में पानी की कमी हो रही है। लोगों का कहना है कि पानी फ्लोर पर नहीं चढ़ पा रहा है जिससे लोगों को रोजर्मा के काम करने में दिक्कत हो रही है। पानी की किल्लत के चलते चंडीगढ़ नगर निगम ने ऐलान किया है कि जो भी पानी को बर्बाद करता हुआ पाया जाएगा उसपर 5 हजार रुपये का जुर्माना लगेगा। चंडीगढ़ नगर निगम 15 अप्रैल से पानी की बर्बादी रोकने की मुहिम शुरू करने जा रहा है। इसके लिए निगम ने खास टीमों का गठन किया है। 

चंडीगढ़ नगर निगम की कमिश्नर अनिंदिता मित्रा ने कहा है कि ये टीम उन लोगों के खिलाफ सख्त एक्शन लेगी जो पानी की बर्बादी करते हुए पकड़े जाएंगे। उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने पानी की लाइन में सीधा बूस्टर पंप लगा दिया है उन्हें भी चालान भुगतना होगा। इसके अलावा अगर आपका मीटर लीक कर रहा है, ऊपर से ओवर फ्लो हो रहा हा या अंडरग्राउंड टैंक है तो भी आपको चालान भुगतना होगा।

चंडीगढ़ प्रशासन ने कहा है कि चंडीगढ़, मोहाली और पंचकुला में 15 अप्रैल से 30 जून तक सुबह 5:30 से 8:30 बजे तक अगर कोई लॉन में पानी डालता हुआ मिला या गाड़ी धोता हुआ दिखाई दिया उसपर पांच हजार रुपये का जुर्माना किया जाएगा। इसके अलावा प्रशासन ने ये भी कहा है कि अगर चालान के बाद भी किसी ने पानी की बर्बादी नहीं रोकी तो उसकी पानी की सप्लाई काट दी जाएगी साथ ही चालान की राशि पांच हजार से बढ़ाकर 20 हजार कर दी जाएगी। अगर कोई चालान नहीं भरता है तो उसके पानी के बिल में वो चालान का अमाउंट जोड़कर भेज दिया जाएगा।

epaper