DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   देश  ›  45 साल और उससे अधिक के कर्मचारियों को केंद्र सरकार की सलाह, जल्द से जल्द लगवा लें वैक्सीन

देश45 साल और उससे अधिक के कर्मचारियों को केंद्र सरकार की सलाह, जल्द से जल्द लगवा लें वैक्सीन

हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्ली Published By: Tej Singh
Tue, 06 Apr 2021 04:47 PM
45 साल और उससे अधिक के कर्मचारियों को केंद्र सरकार की सलाह, जल्द से जल्द लगवा लें वैक्सीन

देशभर में कोरोना ने एक बार फिर से रफ्तार पकड़ ली है। ऐसे में देश के अलग-अलग हिस्सों से लगातार कोरोना के बढ़ते मामले सामने आ रहे हैं। इस बीच पूरे देश में वैक्सीनेशन की प्रक्रिया भी चल रही है। ऐसे में केंद्र सरकार ने मंगलवार को 45 साल और उससे अधिक उम्र के सभी कर्मचारियों को जल्द से जल्द कोरोना की वैक्सीन लेने की सलाह दी है, जिससे देश में रोजोना बढ़ रहे कोरोना मामलों के आंकड़े पर नियंत्रण पाया जा सके।

सरकार ने अपने एक बयान में कहा, "45 वर्ष या उससे अधिक आयु के सभी केंद्र सरकार के कर्मचारियों को टीका लगावाने की सलाह दी जाती है, ताकि प्रभावी रूप से COVID-19 के प्रसार को कम किया जा सके।" आदेश में आगे कर्मचारियों से कहा गया है कि वे सभी लोग टीकाकरण होने के बाद भी एंटी-कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते रहें।

आपको बता दें कि देशभर में 1 अप्रैल से 45 साल या उससे अधिक उम्र लोगों के वैक्सीनेशन की प्रक्रिया भी शुरु कर दी गई है। इस बीच रोजोना भारी संख्या में लोगों को कोरोना की वैक्सीन लगाई जा रही है, जिससे देश में आई कोरोना की दूसरी लहर को जल्दी से जल्दी नियंत्रित किया जा सके।

हालांकि कई राज्य जहां कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं और स्थिति काबू से बाहर होती जा रही है, ऐसे राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने केंद्र सरकार से गुहार लगाई है कि बढ़ते मामलों को देखते हुए 45 साल से कम उम्र के लोगों को भी वैक्सीन लगाने की अनुमति दी जाए, जिससे बढ़ते कोरोना मामलों को जल्दी से जल्दी नियंत्रित किया जा सके। ऐसी मांग करने वालों में महाराष्ट्र की सीएम उद्धव ठाकरे और राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत भी शामिल हैं।

उद्धव ठाकरे ने प्रधानमंत्री मोदी को पत्र लिखकर 25 साल से अधिक उम्र वाले लोगों का वैक्सीनेशन करने की इजाजत मांगी है। मालूम हो कि अभी देश में जो टीकाकरण अभियान चल रहा है, उसके अनुसार 45 साल से ऊपर वाले लोग ही टीका लगवा सकते हैं। एक अप्रैल से शुरू हुए नए फेज से पहले 60 साल से अधिक उम्र और गंभीर बीमारी वाले 45 प्लस लोगों के वैक्सीनेशन की अनुमति दी गई थी।

वहीं, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बीते सोमवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से अपील करते हुए कहा कि कोरोना टीकाकरण के लिए उम्र सीमा को हटा दिया जाए। राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने कहा था कि कोरोना वायरस तेजी से बढ़ रहा है। इसे रोकने के लिए हर किसी का टीकाकरण होना चाहिए। मैं प्रधानमंत्री से अपील करता हूं कि केन्द्र सरकार उम्र सीमा को हटाकर सभी के टीकाकरण की अनुमति दे।

आपको बता दें कि देशभर में कोरोना के बढ़ते मामलों ने सभी की चिंताएं बढ़ा रखी हैं। बीते 24 घंटे के अंदर देशभर में कोरोना वायरस के कुल 96 हजार 982 नए मामले दर्ज हुए हैं। इसके बाद देश में कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या बढ़कर 1 करोड़ 26 लाख 86 हजार 49 पर पहुंच गई है। वहीं, बीते एक दिन में कोरोना की वजह से 446 मरीजों ने दम तोड़ा है। स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, अब देश में कोरोना से जान गंवाने वालों की कुल संख्या 1 लाख 65 हजार 547 हो गई है। वहीं, देश में कोरोना वायरस के अभी 7 लाख 88 हजार 223 सक्रिय मामले हैं।

संबंधित खबरें