DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राष्ट्रपति ने मंजूर की लोकसभा भंग करने की सिफारिश, EC ने सौंपी चुनाव के विजेता सांसदों की लिस्ट

cec sunil arora submits lok sabha elections winner list to president ram nath kovind   ani

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शनिवार को 16वीं लोकसभा भंग करने की कैबिनेट की सिफारिश को मंजूरी दे दी। राष्ट्रपति भवन ने यह जानकारी दी है। शुक्रवार को कैबिनेट ने 16वीं लोकसभा भंग करने की सिफारिश की थी और राष्ट्रपति से इसे तत्काल प्रभाव से भंग करने का आग्रह किया था। राष्ट्रपति भवन की विज्ञप्ति के अनुसार, राष्ट्रपति ने कैबिनेट की इस सिफारिश को स्वीकार करते हुए संविधान के अनुच्छेद 85 के उपबंध 2 के सह उपबंध (ब) के तहत प्राप्त अधिकारियों का प्रयोग करते हुए 16वीं लोकसभा भंग करने के आदेश पर हस्ताक्षर कर दिए।

16वीं लोकसभा का कार्यकाल 3 जून को समाप्त हो रहा है। इसकी पहली बैठक 4 जून 2014 को बुलाई गई थी और तब सदस्यों ने पद एवं गोपनीयता की शपथ ली थी। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने शुक्रवार को 16वीं लोकसभा भंग करने की सिफारिश की थी। इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केंद्रीय मंत्रिपरिषद ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को सामूहिक इस्तीफा सौंप दिया था। राष्ट्रपति ने प्रधानमंत्री सहित मंत्रिपरिषद का इस्तीफा स्वीकार करते हुए प्रधानमंत्री से नयी सरकार बनने तक पद पर बने रहने का आग्रह किया है।

वहीं दूसरी ओर, मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुनील अरोड़ा ने 17वीं लोकसभा के लिये संपन्न हुये चुनाव में जीते उम्मीदवारों की सूची शनिवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को सौंप दी। राष्ट्रपति को चुनाव परिणाम सौंपे जाने के समय निर्वाचन आयुक्त अशोक लवासा और सुशील चंद्रा भी अरोड़ा के साथ थे। चुनाव परिणाम के आधार पर 17वीं लोकसभा का गठन होगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 30 मई को दूसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ ले सकते हैं।

3 जून को समाप्त हो रहा कार्यकाल
कैबिनेट की यह बैठक लोकसभा चुनाव की मतगणना होने के एक दिन बाद 24 मई को हुई। इस चुनाव में एनडीए को जबरदस्त जीत हासिल हुई है। 16वीं लोकसभा का कार्यकाल 3 जून को समाप्त हो रहा है। सत्रहवीं लोकसभा का गठन 3 जून से पहले किया जाना है।

भाजपा के 'चाणक्य' अमित शाह, चुनावी जीत के लिए सफल बिसात बिछाने में माहिर

क्या होती है सरकार गठन की प्रक्रिया
* केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक कर मौजूदा लोकसभा को भंग करने की सिफारिश का प्रस्ताव पारित करता है
* इसके बाद प्रधानमंत्री राष्ट्रपति से मुलाकात कर प्रस्ताव तथा मंत्रिपरिषद का इस्तीफा राष्ट्रपति को सौंपेंते हैं
* उसके बाद प्रधानमंत्री को नई सरकार के गठन तक पद पर बने रहने को कहा जाता है
* इसके बाद नए सदन के गठन की प्रक्रिया के लिए तीन चुनाव आयुक्त राष्ट्रपति को नवनिर्वाचित सदस्यों की सूची सौंपेंगे

Final Result: लोकसभा चुनाव में BJP को 303 सीटें तो कांग्रेस 52 पर सिमटी, सपा-बसपा गठबंधन फेल

निर्वाचन आयोग ने लोकसभा की 543 सीटों पर मतदान के लिये 10 मार्च को चुनाव कार्यक्रम घोषित किया था। सात चरणों में, 11 अप्रैल से 19 मई तक, लोकसभा की 542 सीट पर हुये मतदान के बाद 23 मई को मतगणना हुयी। तमिलनाडु की वेल्लोर सीट पर धनबल के इस्तेमाल की शिकायतों के आधार पर आयोग ने मतदान से पहले ही चुनाव स्थगित कर दिया था। इस सीट पर अभी चुनाव होना बाकी है।

दो दिन तक चली मतगणना के बाद शुक्रवार को घोषित चुनाव परिणाम के आधार पर सत्तारूढ़ भाजपा को सर्वाधिक 303 सीट मिलीं। वहीं, मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस महज 52 सीट पर सिमट गयी। चुनाव कार्यक्रम के मुताबिक आयोग को 17वीं लोकसभा के चुनाव की प्रकिया 27 मई से पहले पूरी करनी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:CEC Sunil Arora submits Lok Sabha Elections winner list to President Ram Nath Kovind