ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देश34000 करोड़ रुपये के DHFL बैंक धोखाधड़ी केस में CBI का बड़ा ऐक्शन, पूर्व डायरेक्टर धीरज वधावन गिरफ्तार

34000 करोड़ रुपये के DHFL बैंक धोखाधड़ी केस में CBI का बड़ा ऐक्शन, पूर्व डायरेक्टर धीरज वधावन गिरफ्तार

DHFL Case: अधिकारी ने बताया कि वधावन को सोमवार शाम को मुंबई से हिरासत में लिया गया था और उन्हें मंगलवार को दिल्ली की एक विशेष अदालत में पेश किया गया जिसने उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

34000 करोड़ रुपये के DHFL बैंक धोखाधड़ी केस में CBI का बड़ा ऐक्शन, पूर्व डायरेक्टर धीरज वधावन गिरफ्तार
Pramod Kumarलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 14 May 2024 08:22 PM
ऐप पर पढ़ें

केंद्रीय जांच एजेंसी सीबीआई ने मंगलवार को ₹34,000 करोड़ DHFL (दीवान हाउसिंग फाइनेंस कार्पोरेशन लिमिटेड) बैंक धोखाधड़ी जांच में बैंक के पूर्व डायरेक्टर धीरज वधावन को गिरफ्तार कर लिया है। अधिकारियों ने मंगलवार को यह जानकारी दी है। अधिकारियों ने बताया कि सीबीआई ने इस मामले में उनके खिलाफ 2022 में पहले ही आरोप पत्र दायर कर दिया था।

अधिकारी ने बताया कि वधावन को सोमवार शाम को मुंबई से हिरासत में लिया गया था और उन्हें मंगलवार को दिल्ली की एक विशेष अदालत में पेश किया गया, जहां से उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। उन्होंने बताया कि वधावन को पहले एजेंसी ने ‘यस बैंक’ भ्रष्टाचार मामले में गिरफ्तार किया था और वह जमानत पर थे।

बता दें कि सीबीआई ने 17 बैंकों के संघ से 34,000 करोड़ रुपये की कथित धोखाधड़ी के संबंध में डीएचएफएल के खिलाफ मामला दर्ज किया था। यह देश में सबसे बड़ा बैंकिंग ऋण धोखाधड़ी मामला है।

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया की शिकायत पर जो FIR दर्ज की गई है, उसमें आरोप लगाया गया है कि वधावन बंधुओं (कपिल वधावन और धीरज वधावन, जो कंपनी में डायरेक्टर थे, ने दूसरे आरोपियों के साथ मिलकर यूनियन बैंक ऑफ इंडिया के नेतृत्व वाले 17 बैंकों के कंसोर्टियम के साथ धोखाधड़ी की है। प्राथमिकी में कहा गया है कि फ्रॉड को अंजाम देने के लिए इन लोगों ने आपराधिक साजिश रची और 42,871.42 करोड़ रुपये का कर्ज लिया। उस कर्ज के बड़े हिस्से का दुरुपयोग किया गया। सीबीआई ने चार्जशीट में लिखा है कि वधवान बंधुओं ने डीएचएफएल के बुक्स में हेराफेरी की है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें