ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशहाई कोर्ट के ऑर्डर पर एक्शन में CBI, संदेशखाली केस में जारी की स्पेशल ईमेल आईडी; बढ़ेंगी शाहजहां की मुश्किलें

हाई कोर्ट के ऑर्डर पर एक्शन में CBI, संदेशखाली केस में जारी की स्पेशल ईमेल आईडी; बढ़ेंगी शाहजहां की मुश्किलें

5 जनवरी को ईडी राशन भ्रष्टाचार मामले में संदेशखाली स्थित शाहजहां के घर की तलाशी लेने गई थी। वहां ईडी अधिकारियों पर हमला किया गया था तभी से शाहजहां लापता था।

हाई कोर्ट के ऑर्डर पर एक्शन में CBI, संदेशखाली केस में जारी की स्पेशल ईमेल आईडी; बढ़ेंगी शाहजहां की मुश्किलें
Himanshu Tiwariलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 11 Apr 2024 09:23 PM
ऐप पर पढ़ें

पश्चिम बंगाल के संदेशखाली मामले में केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) का और कसता जा रहा है। सीबीआई ने शिकायतों को दर्ज कराने के लिए नई ई-मेल आईडी जारी की है। इस ई-मेल आईडी के जरिए संदेशखाली में जमीन पर कब्जा किए जाने के मामले में पीड़ित अपनी शिकायतें दर्ज करा सकते हैं। अधिकारियों ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी। सीबीआई ने बुधवार को कलकत्ता उच्च न्यायालय के आदेशों के अनुपालन में ई-मेल आईडी जारी की है। कलकत्ता उच्च न्यायालय ने संदेशखाली में महिलाओं पर अत्याचार, जमीन पर कब्जा करने, स्थानीय निवासियों पर अत्याचार के आरोपों की सीबीआई जांच का आदेश दिया।

संदेशखाली कांड में कसता जा रहा सीबीआई का शिंकजा
सीबीआई के प्रवक्ता ने एक बयान में कहा, ''उत्तर 24 परगना के जिलाधिकारी से भी अनुरोध किया गया है कि वे इलाके में संबंधित ई-मेल आईडी के बारे में प्रचार करें और माननीय उच्च न्यायालय के आदेश के अनुसार क्षेत्रों में व्यापक प्रसार वाले स्थानीय अखबारों में एक सार्वजनिक सूचना भी जारी करें।'' सूत्रों ने कहा कि सीबीआई प्राप्त शिकायतों के आधार पर मामले दर्ज करना शुरू करेगी। उच्च न्यायालय ने बुधवार को संदेशखाली में महिलाओं के खिलाफ अपराध और भूमि कब्जा करने के आरोपों की अदालत की निगरानी में सीबीआई जांच का आदेश देते हुए कहा कि न्याय के हित में निष्पक्ष जांच आवश्यक है। 

अदालत ने सीबीआई को राजस्व रिकॉर्ड का गहन निरीक्षण और कथित रूप से भू-उपयोग परिवर्तन का निरीक्षण करने के बाद एक व्यापक रिपोर्ट दाखिल करने का निर्देश दिया। अदालत ने सुनवाई की अगली तारीख दो मई को सीबीआई को रिपोर्ट दाखिल करने के लिए कहा है। राज्य सरकार को सीबीआई को आवश्यक सहायता प्रदान करने का निर्देश दिया गया। एजेंसी पहले से ही संदेशखाली में ईडी के अधिकारियों पर तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के निलंबित नेता शाहजहां शेख द्वारा कथित तौर पर उकसाई गई भीड़ द्वारा किए गए हमलों से संबंधित तीन मामलों की जांच कर रही है।

सीबीआई जांच पर भरोसा: शाहजहां शेख
आनंद बजार पत्रिका की मानें तो शाहजहां शेख का मानना ​​है कि संदेशखाली कांडे में सीबीआई और ईडी की जांच से अच्छे नतीजे मिलेंगे। निष्कासित तृणमूल नेता ने यह बात गुरुवार को ईडी कार्यालय से मेडिकल जांच के लिए ले जाते समय कही। इस संदर्भ में पूछे जाने पर गुरुवार को शाहजहां शेख ने कहा, ''सीबीआई जांच हो तो बहुत अच्छा होगा।

जांच के दौरान ईडी पर हुआ था हमला
5 जनवरी को ईडी राशन भ्रष्टाचार मामले में संदेशखाली स्थित शाहजहां के घर की तलाशी लेने गई थी। वहां ईडी अधिकारियों पर हमला किया गया था तभी से शाहजहां लापता था। 55 दिनों तक लापता रहने के बाद आखिरकार उसे मिनाखान के बामनपुकुर इलाके से पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। शाहजहां के खिलाफ वित्तीय अनियमितताओं के कई मामलों में ईडी की जांच जारी है।

संयोगवश संदेशखाली को लेकर कलकत्ता उच्च न्यायालय में कुल पांच जनहित मामले दायर किये गये थे। मुख्य न्यायाधीश टीएस शिवाग्नम और न्यायमूर्ति हिरणमय भट्टाचार्य की खंडपीठ एक साथ मामलों की सुनवाई कर रही है। उस मामले में सीबीआई जांच का फैसला सुनाया गया। कोर्ट की निगरानी में जांच जारी रहेगी। इसके अलावा कोर्ट ने संदेशखाली के संवेदनशील इलाकों को चिह्नित करने के लिए सड़कों पर सीसी कैमरे, एलईडी लाइटें लगाने को कहा है। राज्य को इसका खर्च अगले 15 दिनों के भीतर चुकाना होगा।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें