DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भ्रष्टाचार के आरोपों पर सीवीसी के सामने पेश हुए सीबीआई डायरेक्टर आलोक वर्मा

CBI Director Alok Verma Friday appeared before a panel headed by Central Vigilance Commissioner K V

केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) के निदेशक आलोक वर्मा ने जांच एजेंसी के विशेष निदेशक राकेश अस्थाना की ओर से अपने खिलाफ लगाए गए भ्रष्टाचार के आरोप की हो रही छानबीन के सिलसिले में शुक्रवार को मुख्य सतर्कता आयुक्त (सीवीसी) के.वी.चौधरी से मुलाकात की। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि वर्मा सीवीसी चौधरी की अध्यक्षता वाली समिति के समक्ष पेश हुए। इस समिति में सतर्कता आयुक्त शरद कुमार और टी.एम. भसीन सहित अन्य सदस्य शामिल हैं। हालांकि, इस बारे में अन्य कोई जानकारी नहीं दी गई।

उच्चतम न्यायालय ने 26 अक्टूबर को केंद्रीय सतर्कता आयोग से कहा था कि वह अस्थाना की ओर से वर्मा के खिलाफ लगाए गए आरोपों की जांच दो हफ्ते के भीतर पूरी करे। वर्मा और अस्थाना को केंद्र सरकार छुट्टी पर भेज चुकी है।सीबीआई निदेशक वर्मा ने बृहस्पतिवार को भी जांच के सिलसिले में चौधरी और कुमार से मुलाकात की थी।

आलोक वर्मा ने किया आरोपों से इनकार

केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के निदेशक आलोक वर्मा ने केंद्रीय सतर्कता आयुक्त (सीबीसी) के.वी. चौधरी से मुलाकात की। माना जा रहा है कि उन्होंने जांच एजेंसी के विशेष निदेशक राकेश अस्थाना द्वारा उन पर लगाए गए भ्रष्टाचार के आरोपों से इनकार किया है।

अधिकारियों ने बताया कि वर्मा दोपहर एक बजे केंद्रीय सतर्कता आयोग के कार्यालय पहुंचे और उन्होंने चौधरी और सतर्कता आयुक्त शरद कुमार से मुलाकात की। अधिकारियों ने कोई अन्य जानकारी नहीं दी। अधिकारियों ने कहा कि अस्थाना ने भी चौधरी और कुमार से मुलाकात की।

2 हफ्ते के भीतर जांच पूरी करे सीवीसी- सुप्रीम कोर्ट

उच्चतम न्यायालय ने 26 अक्तूबर को केंद्रीय सतर्कता आयोग से अस्थाना द्वारा वर्मा पर लगाए गए आरोपों की जांच दो सप्ताह के भीतर करने को कहा था। वर्मा और अस्थाना को केंद्र सरकार ने छुट्टी पर भेजा हुआ है।

उन्होंने कहा कि आयोग ने हाल में महत्वपूर्ण मामलों की जांच कर रहे सीबीआई के कुछ अधिकारियों से पूछताछ की थी। इन अधिकारियों के नाम सीबीआई प्रमुख वर्मा के खिलाफ भ्रष्टचार की अस्थाना की शिकायत में सामने आए थे। अधिकारियों ने कहा कि निरीक्षक से पुलिस अधीक्षक रैंक के सीबीआई अधिकारियों को बुलाया गया और एक वरिष्ठ सीवीसी अधिकारी के सामने उनका बयान दर्ज किया गया। जिन अधिकारियों के बयान दर्ज किए गए उनमें मोइन कुरैशी रिश्वत मामला, पूर्व रेल मंत्री लालू प्रसाद यादव से जुड़े आईआरसीटीसी घोटाला, मवेशी तस्करी मामला संभालने वाले अधिकारी भी शामिल हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:CBI director Alok Verma appeared before the CVC on charges of corruption