DA Image
4 अप्रैल, 2020|10:31|IST

अगली स्टोरी

उत्तर पूर्वी दिल्ली में एक बार फिर से माहौल तनावपूर्ण, LG हाउस पहुंचे गोपाल राय

दिल्ली के भजनपुरा और जाफराबाद में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ धरने पर बैठे लोग सोमवार को हिंसक हो गए। जाफराबाद में प्रदर्शनकारियों ने कई गाड़ियों और घरों में आग लगा दी। वहीं भजनपुरा में हिंसक भीड़ ने पेट्रोल पंप में आग लगा दी। इस हिंसा के बाद सीएम अरविंद केजरीवाल और उपराज्यपाल ने लोगों से संयम बरतने की सलाह दी है। वहीं दिल्ली पुलिस ने प्रभावित इलाकों में धारा 144 लगा दी है। इस हिंसक प्रदर्शन में गोकुलपुरी एसीपी ऑफिस में तैनात कांस्टेबल रतन लाल  समेत पांच की मौत हो चुकी है।

CAA protest in Jafrabad Updates:

- दिन में हुई हिंसा को देखते हुए राजधानी के इन इलाकों में भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है।

- दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने उपराज्यपाल अनिल बैजल के मुलाकात करने और दिल्ली में कानून-व्यवस्था पर चर्चा करने के लिए उनके आवास के बाहर डेरा डाला।

मौजपुर और नूर ए इलाही में दो पक्षों में फायरिंग चल रही है। कई लोगों के घायल होने की सूचना।

उत्तर पूर्वी दिल्ली में सोमवार देर रात एक बार फिर से माहौल तनावपूर्ण हो गया। विजय पार्क, कल्याण पर पत्थरबाजी और गोली चलने की घटना सामने आई है। वहीं, आप नेता और मंत्री गोपाल राय विधायको को लेकर LG हाउस पहुंचे हैं।

मौजपुर चौक पर प्रदर्शन जारी। दुकानें लूटी गईं। साथ ही उन दुकानों में आग भी लगाई जा रही है।

दिल्ली के मौजपुर में गोलियां चलाते वीडियो में नजर आए युवक का नाम शाहरुख है। पुलिस ने उसे हिरासत में लिया है। उसने करीब आठ राउंड फायरिंग की थी।

दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने बताया कि हिंसा के बाद उत्तर-पूर्वी दिल्ली में कल सभी स्कूल बंद रहेंगे। उन्होंने मानव संसाधन विकास मंत्री से दिल्ली के उत्तर पूर्वी जिले में मंगलवार को आयोजित होने वाली बोर्ड की परीक्षा टालने का अनुरोध किया है।

- हेड कॉन्स्टेबल के जान गंवाने के बाद एक शख्स ने भी अस्पताल में दम तोड़ दिया। इस तरह दिल्ली हिंसा में जान गंवाने वालों की संख्या दो पहुंच गई है।

-राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में लिखा, 'दिल्ली में आज की हिंसा परेशान करने वाली है। इसकी निंदा की जानी चाहिए। शांतिपूर्ण विरोध स्वस्थ लोकतंत्र का प्रतीक है, लेकिन हिंसा को कभी भी उचित नहीं ठहराया जा सकता है। मैं दिल्ली के नागरिकों से आग्रह करता हूं कि वे उकसावे में नहीं आएं और संयम, करुणा और समझ दिखाएं।'

-उत्तर पूर्वी दिल्ली में हिंसा पर ज्वाइंट पुलिस कमिशनर (पूर्व रेंज) आलोक कुमार ने कहा है कि जाफराबाद, सीलमपुर, मौजपुर, गौतमपुरी, भजनपुरी. चांद बाग, मुस्तफाबाद, वजीराबाद, शिव विहार जैसे क्षेत्रों में अशांति की संभावना है।

- उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा पर केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने कहा है कि वरिष्ठ अधिकारी घटना स्थल पर हैं, पर्याप्त संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है। स्थिति नियंत्रण में हैं। 

- दिल्ली में हिंसा को देखते हुए दिल्ली मेट्रो ने जाफराबाद, मौजपुर-बाबरपुर, गोकुलपुरी, जौहरी एनक्लेव, शिव विहार मेट्रो स्टेशन पर एंट्री और एग्जिट गेट को बंद कर दिया है।

शाहदरा के डीसीपी अमित शर्मा घायल हो गए है। पटपड़गंज अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

- दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने कहा कि दिल्ली पुलिस और पुलिस आयुक्त को निर्देश दिया है कि यह सुनिश्चित करें कि उत्तर पूर्वी दिल्ली में कानून व्यवस्था बनी रहे। स्थिति पर कड़ी नजर रखी जा रही है। मैं सभी से शांति और सद्भाव बनाए रखने के लिए संयम बरतने का आग्रह करता हूं।

- दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने ट्वीट किया, 'सभी दिल्लीवासियों से अपील है कि शांति बनाए रखें। हिंसा में सबका नुक़सान है। हिंसा की आग सबको ऐसा नुक़सान पहुंचाती है जिसकी भरपाई कभी नहीं हो पाती।

दिल्ली पुलिस ने बताया कि उत्तर-पूर्वी के दस इलाकों में धारा- 144 लगाई गई है।

- दिल्ली के भजनपुरा इलाके में प्रदर्शनकारियों ने पेट्रोल पंप पर आग लगा दी है।

हिंसक प्रदर्शन के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्र से गुहार लगाई है। केजरीवाल ने ट्वीट किया, 'दिल्ली के कुछ हिस्सों में शांति और सद्भाव में गड़बड़ी के बारे में बहुत परेशान करने वाली खबर है। मैं एलजी और केंद्रीय गृहमंत्री से कानून और व्यवस्था को बहाल करने का आग्रह करता हूं।'

- सीएए और एनआरसी के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों ने दिल्ली के जाफराबाद में 10 से ज्यादा गाड़ियों में लगाई आग। एक पुलिसकर्मी की मौत।

- सीएए के समर्थन और विरोध करने वाले प्रदर्शनकारियों के बीच अब रुक रुक कर हो रही है पत्थरबाजी

- प्रदर्शनकारियों के पथराव के चलते आसपास के मकानों के टूटे कांच

 

-  प्रदर्शनकारियों के पथराव में घायल हुआ एक पुलिसकर्मी

 

- प्रदर्शनकारियों को समझाते हुए ज्वाइंट सीपी 

 

- जाफराबाद में रविवार को हुई हिंसा के बाद दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने सोमवार को जानकारी दी थी कि जाफराबाद और मौजपुर- बाबरपुर मेट्रो के प्रवेश व निकास द्वारा बंद कर दिए गए हैं। इन स्टेशनों पर मेट्रो नहीं रुकेगी। रविवार को प्रदशर्नकारियों ने यमुनापार में चार सड़के बंद कर दी थी जिसके बाद ईस्ट दिल्ली की सड़के पूरी तरह से जाम हो गई थीं। शनिवार रात को महिलाओं ने जाफराबाद मुख्य रोड बंद किया था। 

जाफराबाद के मौजपुर मेट्रो स्टेशन के पास रविवार को रुक-रुक कर करीब दो घंटे तक पथराव हुआ। इस बीच पुलिस ने करीब छह राउंड आंसू गैस के गोले छोड़े, लेकिन बेअसर साबित होता रहा। बेकाबू हालत को देखते हुए भारी संख्या में अध्र्य सैनिक व पुलिस बल बुलाया गया। फिर वहां से दोनों पक्ष के प्रदर्शनकारियों को खदेड़कर हालत को काबू किया गया। 

सीएए और एनआरसी के विरोध में रविवार को जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के नीचे सड़क जाम करने से समर्थन करने वाले लोग भड़क गए। समर्थन करने वाले लोग दोपहर 3:15 बजे करीब मौजपुर चौक पर पहुंचकर सड़क को पूरी तरफ से जाम कर दिया और समर्थन में नारेबाजी करने लगे। उनका कहना था कि जब तक विरोध करने वाले जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के नीचे सड़क खाली नहीं करेंगे, तब तक वह भी नहीं हटेंगे। इसी को लेकर दोनों पक्ष के लोग भड़क गए। शाम 4:10 बजे पत्थरबाजी शुरू हो गई। पुलिस ने नियंत्रण करने के लिए आंसू गैसे के गोले दागे। इसके बावजूद भी लोग पत्थरबाजी करते रहे। पुलिस ने फिर आंसू गैसे के गोले दागे तो कुछ समय के लिए पत्थरबाजी रुकी। थोड़ी देर बाद  भी शुरू हो गई। इस तरह रुक-रुक कर शाम 6:15 बजे तक पत्थरबाजी होती रही। 

टाइम लाइन
10:35 बजे शनिवार रात जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के नीचे जाम लगाया
11:10 बजे शनिवार रात पुलिस ने बल का प्रयोग कर खदेड़ा
12:10 बजे शनिवार रात जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के नीचे धरने प्रदर्शन पर बैठी
10:10 बजे रविवार सुबह प्रदर्शन में भीड़ बढ़ने लगी
03:15 बजे रविवार दोपहर समर्थन वाले लोग मौजपुर चौक पर पहुंचे।
04:10 बजे रविवार शाम मौजपुर मेट्रो स्टेशन के पास पथराव शुरू हुआ
06:15 बजे रविवार शाम पथराव बंद हुआ

12:00 बजे सोमवार को प्रदर्शनकारियों ने फिर किया पथराव

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:CAA protest in Jafrabad Delhi: On second day protesters agian threw stones Police release tear gas shells