ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशEC ने मायावती को रोका तो रैली के लिए आए आगे, बढ़ती गई हनक; कौन हैं बसपा के उत्तराधिकारी आकाश आनंद

EC ने मायावती को रोका तो रैली के लिए आए आगे, बढ़ती गई हनक; कौन हैं बसपा के उत्तराधिकारी आकाश आनंद

इसी साल अगस्त के बाद से लखनऊ में आयोजित राज्य स्तरीय समीक्षा बैठकों में आकाश आनंद कई बार दिखाई दिए। इसे लेकर यह अंदाजा लगाया जा रहा था कि 2024 में लोकसभा चुनाव से पहले पार्टी में उनका कद बढ़ सकता है।

EC ने मायावती को रोका तो रैली के लिए आए आगे, बढ़ती गई हनक; कौन हैं बसपा के उत्तराधिकारी आकाश आनंद
Niteesh Kumarलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSun, 10 Dec 2023 02:33 PM
ऐप पर पढ़ें

बहुजन समाज पार्टी (BSP) प्रमुख मायावती ने भतीजे आकाश आनंद को अपना उत्तराधिकारी नामित किया है। वह पिछले साल से ही राजस्थान में पार्टी के मामलों के प्रभारी हैं। बसपा के राष्ट्रीय समन्वयक का पद भी उनके पास है। आकाश 28 साल के हैं। उन्हें कई मौकों पर पार्टी हलकों में देखा जा चुका है। अगर आकाश आनंद के ऑफिशियल एक्स अकाउंट को देखें तो वह खुद को बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर के दृष्टिकोण का युवा समर्थक बताते हैं। इस साल अगस्त के बाद से लखनऊ में आयोजित राज्य स्तरीय समीक्षा बैठकों में आकाश आनंद कई बार दिखाई दिए। इसे लेकर यह अंदाजा लगाया जा रहा था कि 2024 में लोकसभा चुनाव से पहले पार्टी में उनका कद बढ़ सकता है। 

लोकसभा चुनाव के लिए पार्टी की तैयारियों का जायजा लेने की खातिर मायावती की अध्यक्षता में मीटिंग बुलाई गई थी। उसी समय आकाश आनंद ने पार्टी की ओर से 14 दिवसीय 'सर्वजन हिताय, सर्वजन सुखाय संकल्प यात्रा' का नेतृत्व किया। जनवरी, 2019 आकाश के राजनीतिक करियर के लिहाज से काफी अहम है। इसी वक्त मायावती ने पार्टी में उनकी एंट्री का ऐलान किया था। इस पर बसपा के भीतर भाई-भतीजावाद को लेकर सवाल किए जाने लगे। BSP सुप्रीमो ने मीडियाकर्मियों को बताया कि आनंद ने पार्टी के उपाध्यक्ष का पद नहीं लेने का फैसला किया।

2019 में आकाश आनंद की पहली राजनीतिक रैली
हालांकि, कुछ समय बाद जून में मायावती के भाई आनंद कुमार को बसपा का उपाध्यक्ष नियुक्त किया गया। बीएसपी चीफ के भतीजे आकाश आनंद को राष्ट्रीय समन्वयक बनाया गया। 2019 में ही आकाश आनंद ने अपनी पहली राजनीतिक रैली को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने लोगों को समाजवादी पार्टी, बसपा और राष्ट्रीय लोकदल गठबंधन का समर्थन करने के लिए प्रोत्साहित किया था। आकाश की यह रैली ऐसे वक्त हुई जब चुनाव आयोग ने मायावती पर 48 घंटे तक के लिए प्रचार अभियान पर रोक लगा दी थी। इसे लेकर पार्टी नेताओं ने आकाश आनंद की काफी तारीफ की और उनसे सक्रियता बढ़ाने की उम्मीद की गई। 

आकाश पर पूरे देश में पार्टी संगठन को मजबूत करने की जिम्मेदारी
बसपा की शाहजहांपुर इकाई के जिला अध्यक्ष उदयवीर सिंह लोकसभा चुनाव की तैयारी के सिलसिले में मायावती की ओर से बुलाई गई पार्टी पदाधिकारी की बैठक में शामिल हुए। आकाश आनंद को मायावती की ओर से अपना उत्तराधिकारी घोषित किए जाने की उन्होंने पुष्टि की। उन्होंने बताया कि लखनऊ में बसपा कार्यालय में हुई देश भर के पार्टी नेताओं की बैठक में मायावती ने यह घोषणा की। मायावती की ओर से किए गए ऐलान के बारे में खासतौर से पूछे जाने पर सिंह ने कहा, 'उन्होंने (मायावती) कहा कि आकाश उनके बाद उनके उत्तराधिकारी होंगे। उन्हें (आकाश) उत्तर प्रदेश को छोड़कर पूरे देश में पार्टी संगठन को मजबूत करने की जिम्मेदारी दी गई है।'

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें