DA Image
हिंदी न्यूज़ › देश › BSF की बढ़ी पावर तो सुरजेवाला ने समझाई क्रोनोलॉजी, गुजरात से जोड़ा लिंक
देश

BSF की बढ़ी पावर तो सुरजेवाला ने समझाई क्रोनोलॉजी, गुजरात से जोड़ा लिंक

लाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्ली।Published By: Himanshu Jha
Thu, 14 Oct 2021 11:48 AM
BSF की बढ़ी पावर तो सुरजेवाला ने समझाई क्रोनोलॉजी, गुजरात से जोड़ा लिंक

कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने गुरुवार को पंजाब में सीमा सुरक्षा बल के अधिकार क्षेत्र को बढ़ाने के अपने "एकतरफा" फैसले पर केंद्र को फटकार लगाई है। उन्होंने दावा किया कि यह इस साल गुजरात में अदानी द्वारा संचालित मुंद्रा बंदरगाह के माध्यम से हेरोइन की आवाजाही से ध्यान हटाने के लिए था।

आपको बता दें कि दोनों राज्यों में अगले साल विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। पंजाब में फिलहाल कांग्रेस सत्ता में है, वहीं गुजरात में काफी समय से बीजेपी की सरकार है। 

गृह मंत्री अमित शाह की 'क्रोनोलॉजी समझिए' वाली टिप्पणी से प्रेरित होकर सुरजेवाला ने  बीएसएफ के अधिकार क्षेत्र पर इस नए आदेश को जून में मुंद्रा पोर्ट से गुजरने वाले 25,000 किलोग्राम शिपमेंट और सितंबर में उसी बंदरगाह पर 3,000 किलोग्राम (₹ 20,000 करोड़ मूल्य) के शिपमेंट के साथ जोड़ा है।

उन्होंने ट्वीट किया, "क्रोनोलॉजी - 9/6/2021 को गुजरात के अदानी पोर्ट से 25,000 किलो हेरोइन आई थी। 13/9/2021 को गुजरात के अदानी पोर्ट में 3,000 किलो हेरोइन पकड़ी गई। पंजाब में बीएसएफ का अधिकार क्षेत्र एकतरफा 15 किमी से बढ़ाकर 50 किमी किया गया।फेडरलिज्म डेड, कॉन्सपिरेसी क्लियर,"

गृह मंत्रालय ने कल के अपने आदेश में कहा कि तीन राज्यों - पंजाब, बंगाल और असम में बीएसएफ के अधिकार क्षेत्र में अब अंतरराष्ट्रीय सीमा के 50 किमी के भीतर के सभी क्षेत्र शामिल होंगे। पहले पंजाब में बीएसएफ का अधिकार क्षेत्र पाकिस्तान के साथ सीमा से 15 किमी तक था। नए आदेश का मतलब है कि बीएसएफ व्यापक क्षेत्र में तलाशी ले सकती है और गिरफ्तारियां कर सकती है।

पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत चन्नी ने अपनी ही पार्टी के सहयोगियों के हमले के बाद इसे "संघवाद पर सीधा हमला" करार दिया है।

आपको बता दें कि सितंबर में, अधिकारियों ने मुंद्रा बंदरगाह से 3,000 किलोग्राम हेरोइन बरामद की थी। यह खेप ईरान के माध्यम से अफगानिस्तान से आई थी, जो अफीम के दुनिया के सबसे बड़े अवैध उत्पादकों में से एक है। पिछले महीने कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने देश में नशीले पदार्थों को आने से रोकने में केंद्र की "विफलता" पर सवाल उठाया और यह भी आरोप लगाया कि ड्रग्स की मात्रा में तेजी से वृद्धि हुई है।

संबंधित खबरें