DA Image
3 मार्च, 2021|10:30|IST

अगली स्टोरी

बूचड़खानों में गाय-बैलों की तस्करी करता पाया गया BJP के युवा मोर्चा का नेता, पुलिस ने दर्ज किया केस

cow slaughtering

बालाघाट पुलिस ने कथित तौर पर गाय-बैलों की तस्करी में लिप्त पाए गए भारतीय जनता युवा मोर्चा (BJYM) के स्थानीय नेता सहित 20 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। बताया गया है कि ये लोग गायों और बैलों की तस्करी करके उन्हें महाराष्ट्र के बूचड़खाने में भेजते थे। पुलिस ने डेढ़ सौ से ज्यादा गायों और बैलों को बरामद किया है।

बालाघाट के लालपुर पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर रघुनाथ खाटरकर ने कहा कि पुलिस ने 165 गायों और बैलों को बालाघाट में जंगल के इलाके से एक गांव से बचाया गया है, जोकि महाराष्ट्र सीमा के नजदीक है। अधिकारी ने बताया कि 20 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है, जिनमें मुख्य आरोपी मनोज परधी और अरविंद पाठक सहित अन्य 18 लोग हैं। इनके खिलाफ आईपीसी की धारा 429 और मध्य प्रदेश गौवंश प्रतिशेध अधिनियम 2004, पशु क्रूरता रोकथाम अधिनियम और एमपी कृषक पशु परिरक्षण अधिनियम की विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया गया है। पुलिस ने 10 लोगों को गिरफ्तार किया है, जबकि मनोज और अरविंद के अलावा 8 अन्य फरार हैं। 

पुलिस अधिकारी ने कहा, ''मुख्य आरोपी मनोज और अरविंद गायों और अन्य जानवरों की मौबाजार (बालाघाट में पशुबाजार) से खरीद करते थे। बाद में ये चरवाहों की मदद से मवेशियों को महाराष्ट्र सीमा पर मौजूद बोदालकासा गांव में ले जाते थे। यहां से एक व्यापारी पशुओं को महाराष्ट्र के बूचड़खानों में भेजता था।''

सूत्रों से जानकारी मिलने के बाद पुलिस टीम ने बालाघाट में जंगल के इलाके में छापा मारा जहां से कम से कम 165 पशुओं को बचाया गया। बालाघाट पुलिस के एसपी अभिषेक तिवारी ने कहा, ''हम मामले की जांच कर रहे हैं। यह गायों की तस्करी का संगठित गिरोह है। पुलिस आरोपियों को पकड़ने की कोशिश में है।'' मनोज परधी BJYM का एक महासचिव बताया जाता है। बालाघाऐसीट के बीजेपी अध्यक्ष गजेंद्र भारद्वाज ने कहा, ''हमें अभी ऐसी जानकारी मिली है। हम इस मामले को देख रहे हैं।"

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:BJYM leader with 19 others booked for smuggling of cow oxen in madhya pradesh