DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भाजपा संकल्प पत्र: Tax की दरें कम रखने, 2025 तक देश को 5 लाख डॉलर की इकॉनमी बनाने का वादा

bjp manifesto 2019

भाजपा ने सोमवार को जारी अपने संकल्प पत्र में 1 लाख रुपये तक के कृषि ऋण को ब्याज मुक्त बनाने, 2025 तक देश को 5 लाख डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने, कर की घटी दर रखने तथा 2024 तक बुनियादी ढांचा क्षेत्र में 100 लाख करोड़ रुपये का पूंजीगत निवेश करने का वादा किया। लोकसभा चुनाव के लिये भाजपा का संकल्प पत्र जारी करने के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि पार्टी 2047 तक भारत को विकसित राष्ट्र बनाने की दिशा में काम करेगी जब देश अपनी आजादी के 100 वर्ष मनायेगा।

संकल्प पत्र में 60 हजार किलोमीटर राष्ट्रीय राजमार्ग बनाने, सभी गांवों को ग्रामीण सड़कों से जोड़ने, 100 नये हवाई अड्डे को परिचालित करने और 400 रेलवे स्टेशनों के आधुनिकीकरण की बात कही गई है। इसमें सभी बसावटों को खुले में शौच मुक्त (ओडीएफ) का दर्जा देने, 50 शहरों में एक मजबूत मेट्रो नेटवर्क का विकास करने तथा सड़क नेटवर्क विकसित करने के लिए 'भारतमाला 2.0' द्वारा राज्यों को सहायता प्रदान करने का संकल्प व्यक्त किया गया है।

भाजपा के संकल्प पत्र में कहा गया है, ''2014 में भारत को पांच कमजोर देशों में गिना जाता था। पांच वर्ष के भीतर भारत ने एक ख्याति अर्जित की जो न केवल विश्च की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था बना बल्कि आर्थिक रूप से स्थिर भी है। हम विश्व की छठी सबसे बढ़ी अर्थव्यवस्था पहले ही बन चुके हैं और जल्द ही शीर्ष पांच में शामिल हो जायेंगे।"

BJP Manifesto 2019: कांग्रेस का बीजेपी के संकल्प पत्र पर निशाना, बताया झूठ का गुब्बारा

इसमें प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में विश्व की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने की ओर बढ़ते भारत को हासिल करने का संकल्प व्यक्त किया गया है। भाजपा के संकल्प पत्र में कहा गया है कि हम भारत को वर्ष 2025 तक 5 लाख डॉलर और वर्ष 2032 तक 10 लाख करोड़ डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने का संकल्प लेते हैं।

इसमें सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योगों के लिए 1 लाख करोड़ रुपए की क्रेडिट गारंटी योजना तथा आधारभूत ढांचा क्षेत्र में 100 लाख करोड़ रुपये के पूंजीगत निवेश का संकल्प व्यक्त किया गया है। इसमें कहा है कि भारतीय अर्थव्यवस्था को तेज़ी से विकसित करने के लिए 22 प्रमुख चैम्पियन सेक्टरों का निर्धारण करके कार्य को आगे बढ़ाया जायेगा।

भाजपा के संकल्प पत्र में कहा गया है कि कम कर और निवेश आधारित वृद्धि हमारी आर्थिक कर नीति की दर को कम करने और अनुपालन या सहमति बढ़ाने एवं इस तरह कर का आधार व्यापक बनाने के सिद्धांत पर चलती रही है। पार्टी ने कहा कि अनुपालन एवं कर आधार बढ़ने से कर एवं जीडीपी का अनुपात 2013-14 के 10.1 प्रतिशत से बढ़कर 12 प्रतिशत हो गया जो पिछले कुछ वर्षो का सर्वाधिक आंकड़ा है। इस बढ़े राजस्व का उपयोग गरीबों को लाभ पहुंचाने और अभूतपूर्व स्तर पर बुनियादी ढांचा बनाने के लिये किया गया है।

BJP Manifesto: बीजेपी का लोकसभा चुनाव 2019 के लिए संकल्प पत्र जारी, जानें अहम बातें 

भाजपा ने कहा, ''हम कर की दर घटाने की नीति को जारी रखेंगे जिससे ईमानदार करदाताओं को फायदा होगा और रोजगार की स्वीकृति बढ़ेगी।" इसमें कहा गया है कि वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के कारण ही कर की दरों में कमी आई है और राज्यों में विशेष रूप से राजस्व संग्रह बढ़ा है। हम सभी हितधारकों से बात करके जीएसटी की प्रक्रिया को सरल करते रहेंगे। पार्टी ने कहा कि हम देश में पूंजीगत निवेश को नई ऊंचाइयों पर ले जायेंगे और किसानों के लिये सामाजिक सुरक्षा का विस्तार करेंगे। 2024 तक बुनियादी ढांचा के क्षेत्र में 100 लाख करोड़ रुपये का पूंजीगत निवेश करेंगे।

संकल्प पत्र में उद्यमियों को बिना किसी सिक्योरिटी के 50 लाख रुपए तक का ऋण तथा पूर्वोत्तर राज्यों में एमएसएमई को पूंजीगत सहायता देने के लिए 'उद्यमी पूर्वोत्तर योजना का वादा किया गया है। भाजपा ने गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले परिवारों की संख्या को घटाकर 10% से भी कम करने का संकल्प व्यक्त किया। पार्टी ने 5 किलोमीटर के दायरे में बैंकिंग सुविधाएं उपलब्ध कराने और सभी छोटे दुकानदारों के लिए पेंशन योजना का वादा किया। संकल्प पत्र में पार्टी ने कहा है कि वह कारोबारियों के लिये राष्ट्रीय बोर्ड का गठन करेगी और खुदरा कारोबार को बढ़ावा देने के लिये खुदरा कारोबार की राष्ट्रीय नीति तैयार करेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:BJP Sankalp Patra promises to lower taxes make India USD 5 trillion economy