ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशसंबित पात्रा इस बार पुरी लोकसभा सीट से चुनाव जीतेंगे या नहीं? क्या कहता है एग्जिट पोल

संबित पात्रा इस बार पुरी लोकसभा सीट से चुनाव जीतेंगे या नहीं? क्या कहता है एग्जिट पोल

मालूम हो कि ओडिशा में लोकसभा चुनाव और विधानसभा चुनाव एकसाथ हो रहे हैं। ऐसे में यह राज्य सबसे अधिक चर्चा में आ गया है। इसकी वजह भारतीय जनता पार्टी और बीजद के बीच उतार-चढ़ाव भरे रिश्ते भी हैं।

संबित पात्रा इस बार पुरी लोकसभा सीट से चुनाव जीतेंगे या नहीं? क्या कहता है एग्जिट पोल
bjp leader sambit patra may win puri loksabha seat
Niteesh Kumarलाइव हिन्दुस्तान,भुवनेश्वरSun, 02 Jun 2024 09:44 PM
ऐप पर पढ़ें

लोकसभा चुनाव को लेकर आए एग्जिट पोल में बीजेपी नेता संबित पात्रा के लिए अच्छे संकेत मिल रहे हैं। इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया के मुताबिक, ओडिशा की पुरी लोकसभा सीट से पात्रा चुनाव जीत सकते हैं। ऐसे में इस निर्वाचन क्षेत्र में बीजू जनता दल का 15 साल पुराना गढ़ खत्म हो सकता है। एग्जिट पोल की मानें तो इस तीर्थनगरी में अबकी बार त्रिकोणीय चुनावी मुकाबला है। इस लड़ाई में संबित पात्रा मजबूत दावेदार के रूप में उभरे हैं। माना जा रहा कि पात्रा पुरी में बीजद के अरूप पटनायक और कांग्रेस के जय नारायण पटनायक को कड़ी टक्कर दे रहे हैं। मालूम हो कि कांग्रेस ने पहले से पुरी से सुचरिता मोहंती को टिकट दिया था, लेकिन उन्होंने धन की कमी का हवाला देते हुए कदम पीछे खींच लिया। इसके बाद पार्टी ने जय नारायण पटनायक को अपना उम्मीदवार बनाया।

ओडिशा में लोकसभा चुनाव और विधानसभा चुनाव एकसाथ हो रहे हैं। ऐसे में यह राज्य सबसे अधिक चर्चा में आ गया है। इसकी वजह भाजपा और बीजद के बीच उतार-चढ़ाव भरे रिश्ते भी हैं। दरअसल, शुरुआत में ऐसे संकेत मिले कि आम चुनाव के लिए बीजेपी और बीजेडी के बीच गठबंधन हो सकता है। मगर, बात नहीं बनी और दोनों ने अलग-अलग चुनाव लड़ा। इसके बाद चुनाव प्रचार के आखिरी चरण में दोनों दलों के बीच तीखी जुबानी जंग तेज हो गई। खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीजेडी प्रमुख और ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक की सेहत को लेकर टिप्पणी की। पटनायक की ओर से इसका करारा जवाब भी दिया गया।

21 लोकसभा सीटों में से 12 जीतेंगे: बीजद 
इस बीच, बीजद ने रविवार को दावा किया कि पार्टी ओडिशा में 147 विधानसभा सीट में 110 सीट जीतकर दो-तिहाई बहुमत के साथ सरकार बनाएगी। साथ ही, वह इस राज्य की 21 लोकसभा सीट में से 12 सीटें जीतेगी। ओडिशा में भाजपा को 15 लोकसभा सीटें मिलने का पूर्वानुमान जताने वाले एग्जिट पोल को BJD ने खारिज कर दिया। पार्टी की ओर से कहा गया कि राज्य के लिए एग्जिट पोल 2014 और 2019 के चुनावों में गलत साबित हुए हैं। यह प्रवृत्ति इस बार भी जारी रहेगी। 

एग्जिट पोल ने ओडिशा में भाजपा को 15 और बीजद को 5 सीटें दी हैं। भाजपा के सीनियर नेता और केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने दावा किया कि एग्जिट पोल ने वास्तविकता को दर्शाया है। भाजपा राज्य में 15 लोकसभा सीट जीतेगी। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मनमोहन सामल ने कहा, ‘ओडिशा के लोग बदलाव चाहते हैं और सरकार में बदलाव होगा।’ 2019 में एग्जिट पोल ने भाजपा को 12-15 और बीजद को 6-8 लोकसभा सीट मिलने का अनुमान लगाया गया था, जबकि भाजपा ने 8 सीट जीती थीं और राज्य में सत्तारूढ़ पार्टी को 12 सीट मिली थीं।