ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ देशBJP महिला नेता पर चाकू से हमला, अस्पताल में भर्ती; पार्टी का दावा- TMC के गुंडों का हाथ

BJP महिला नेता पर चाकू से हमला, अस्पताल में भर्ती; पार्टी का दावा- TMC के गुंडों का हाथ

मौसमी के पति पिंटू मंडल ने कहा, 'वह घर पर अपने कमरे में सो रही थीं। इसी समय दो अज्ञात लोग घर में घुसे और उन्हें मारने लगे। उन्होंने चाकू से भी हमला किया। इस हमले में टीएमसी के गुंडे शामिल हैं।'

BJP महिला नेता पर चाकू से हमला, अस्पताल में भर्ती; पार्टी का दावा- TMC के गुंडों का हाथ
Niteesh Kumarलाइव हिन्दुस्तान,कोलकाताFri, 23 Sep 2022 12:46 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

पश्चिम बंगाल के मालदा में भाजपा नेता मौसमी दास पर हमला हुआ, जिसके बाद इलाज के लिए उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बीजेपी नेताओं का आरोप है कि 'तृणमूल कांग्रेस (TMC) के गुड़ों' ने मालतीपुर में स्थित दास के घर पर हमला किया। मालूम हो कि मौसमी दास भाजपा की ओर से मालदा जिले के महिला मोर्चा की उपाध्यक्ष हैं। 

मौसमी के पति पिंटू मंडल ने कहा, 'वह घर पर अपने कमरे में सो रही थीं। इसी समय दो अज्ञात लोग घर में घुसे और उन्हें मारने लगे। उन्होंने चाकू से भी हमला किया। इस हमले में टीएमसी के गुंडे शामिल हैं।' मालदा से टीएमसी के प्रवक्ता शुवोमोय बसु ने इन आरोपों को खारिज कर दिया। उन्होंने कहा, 'पुलिस जांच में हमारा विश्वास है। वे यह पता लगाएंगे कि आखिर इस हमले के पीछे की वजह क्या है... अगर ऐसा हुआ है तो।'

TMC पर BJP कार्यकर्ताओं पर हमले के आरोप
गौरतलब है कि बंगाल भाजपा के नेता अक्सर पार्टी कार्यकर्ताओं पर हमले की शिकायत करते रहते हैं। उनका दावा है कि राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति खराब हो गई है। 2 मई को राज्य विधानसभा चुनाव के नतीजे घोषित होने के तुरंत बाद यहां हिंसा हुई थी, जिसमें कई पार्टी कार्यकर्ताओं की मौत हो गई और कई लोग घायल हो गए।

चुनाव के बाद हिंसा मामले में CBI का ऐक्शन जारी 
भाजपा ने तृणमूल कांग्रेस पर पश्चिम बंगाल में पुलिस के जरिए चुनाव के बाद हिंसा कराने का आरोप लगाया था। हाल ही में टीएमसी विधायक परेश पाल को सीबीआई ने तलब किया था। चुनाव के बाद हुई हिंसा के दौरान भाजपा कार्यकर्ता अभिजीत सरकार की हत्या के सिलसिले में यह ऐक्शन लिया गया। जांच एजेंसी ने टीएमसी नेता अनुब्रत मंडल को भी चुनाव बाद हिंसा मामले की जांच के सिलसिले में समन भेजा था।

epaper