ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशचुनावकर्मी से भिड़े भाजपा नेता, हो गई गिरफ्तारी; विधायक को भी मिला नोटिस

चुनावकर्मी से भिड़े भाजपा नेता, हो गई गिरफ्तारी; विधायक को भी मिला नोटिस

त्रिपुरा पूर्व लोकसभा सीट पर एक बूथ में पीठासीन अधिकारी से हाथापाई करने के मामले में एक भाजपा नेता को गिरफ्तार किया गया है।

चुनावकर्मी से भिड़े भाजपा नेता, हो गई गिरफ्तारी; विधायक को भी मिला नोटिस
Ankit Ojhaएजेंसी,अगरतलाTue, 30 Apr 2024 12:19 AM
ऐप पर पढ़ें

त्रिपुरा पूर्व लोकसभा सीट पर मतदान के दौरान एक निर्वाचन अधिकारी से कथित तौर पर हाथापाई करने के मामले में एक भाजपा नेता को गिरफ्तार किया गया है।  जिला निर्वाचन अधिकारी ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के एक विधायक को नोटिस भेजा था और 26 अप्रैल को एक पीठासीन अधिकारी से मारपीट करने के आरोप में भाजपा की जिला इकाई के अध्यक्ष के खिलाफ एक प्राथमिकी दर्ज की गई थी। भाजपा नेता का नाम काजल दास बताया गया है।

एक अधिकारी ने सोमवार को बताया कि बागबासा विधानसभा सीट से भाजपा विधायक यादव लाल नाथ को जिला निर्वाचन अधिकारी (डीईओ) ने उत्तर त्रिपुरा जिले में एक मतदान बूथ पर ‘बूथ लेवल ऑफिसर’ (बीएलओ) से कथित तौर पर हाथापाई करने को लेकर 28 अप्रैल को एक नोटिस भेजा। उन्होंने बताया कि भाजपा विधायक और उनके साथी 26 अप्रैल को मतदान के दौरान त्रिपुरा पूर्व लोकसभा क्षेत्र के तहत आने वाले इस बूथ में पहुंचे और बीएलओ चिन्मय दास से कथित तौर पर हाथापाई की।

उन्होंने बताया कि आरोपों के आधार पर जिला निर्वाचन अधिकारी देबप्रिय बर्द्धन ने विधायक यादव लाल नाथ को एक नोटिस जारी कर उनसे यह पूछा कि वह भारत निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देशों का उल्लंघन कर बूथ में क्यों घुसे और बीएलओ से मारपीट क्यों की। भाजपा के उत्तर त्रिपुरा जिला अध्यक्ष काजल दास और उनके समर्थकों के खिलाफ 26 अप्रैल को मतदान के दौरान इसी बूथ पर एक पीठासीन अधिकारी से कथित तौर पर मारपीट करने के लिए एक प्राथमिकी दर्ज की गई थी।

अधिकारी ने कहा, ‘बागबासा विधानसभा क्षेत्र के तहत आने वाले बूथ के सामने शाम करीब पांच बजे काफी संख्या में मतदाता इधर-उधर खड़े दिखायी दिए। पीठासीन अधिकारियों ने मतदाताओं से कतार में खड़े होने और टोकन एकत्रित करने के लिए कहा ताकि वे पांच बजे के बाद वोट दे सकें। तब तक भाजपा के उत्तर त्रिपुरा जिला अध्यक्ष काजल दास अपने समर्थकों के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और कथित तौर पर पीठासीन अधिकारी को बूथ से बाहर निकलने के लिए मजबूर किया और उनसे मारपीट की।’

उन्होंने कहा, ‘पीठासीन अधिकारी पर हमला करने के लिए काजल दास समेत हमलावरों के खिलाफ एक प्राथमिकी दर्ज की गयी है। साथ ही कदमतला पुलिस थाने के प्राधिकारियों ने आरोपियों को एक नोटिस जारी किया है। मामले की जांच की जा रही है।’