ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशभाजपा ने रखे बड़े मंत्रालय अपने पास, साथियों को नहीं कुछ खास; JDU-TDP को क्या मिला?

भाजपा ने रखे बड़े मंत्रालय अपने पास, साथियों को नहीं कुछ खास; JDU-TDP को क्या मिला?

मोदी सरकार के मंत्रियों के विभाग का बंटवारा हो गया है। बीजेपी ने सभी बड़े मंत्रालय अपने पास रखे हैं। वहीं जेडीयू और टीडीपी समेत अन्य सहयोगी दलों को कुछ खास नहीं दिया गया है।

भाजपा ने रखे बड़े मंत्रालय अपने पास, साथियों को नहीं कुछ खास; JDU-TDP को  क्या मिला?
ani-20240610262-0 jpg
Ankit Ojhaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 10 Jun 2024 08:07 PM
ऐप पर पढ़ें

मोदी सरकार में सभी मंत्रियों के विभागों का बंटवारा भी कर दिया गया है। पहले से चल रही चर्चा के मुताबिक बीजेपी ने सभी अहम विभाग अपने पास ही रखे हैं। वहीं गृह, रक्षा और वित्त समेत कई बड़े मंत्रालय में बदलाव भी नहीं किए गए हैं। बात करें एनडीए के सहयोगी दलों की तो उनको कुछ खास नहीं दिया गया है। 16 सीटों के साथ एनडीए में शामिल टीडीपी के राम मोहन नायडू को नागरिक उड्डयन मंत्रालय दिया गया है। टीडीपी के चंद्र शेखऱ पेम्मासानी को ग्रामीण विकास और संचार मंत्रालय का राज्य मंत्री बनाया गया है।  वहीं बात करें जेडीयू की तो ललन सिंह को पंचायती राज मंत्रालय मिला है। जेडीयू के राम नाथ ठाकुर को कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय का राज्य मंत्री बनाया गया है। 

सहयोगियों को क्या मिला

आरएलडी के जयंत चौधरी को स्किल डिवेलपमें विभाग का राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) और शिक्षा मंत्रालय का राज्य मंत्री बनाया गया है। पांच में से पांचों सीट जीतने वाली पार्टी एलजेपी रामविलास के प्रमुख चिराग पासवान को खाद्य और प्रसंस्करण विभाग दिया गया है। यही मंत्रालय उनके पिता रामविलास पासवान के पास भी था। शिवसेना के जाधव  प्रताप राव गणपत राव को भी आयुष और स्वास्थ्य मंत्रालय का राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार बनाया गया है।) जीतनराम मांझी की पार्टी ने एक ही सीट जीती है। उन्हें माइक्रो, स्मॉल ऐंड मीडियम एंटरप्राइजेज का मंत्री बनाया गया है। जेडीएस के एचडी कुमारस्वामी को भारी उद्योग और स्टील मंत्रालय की जिम्मेदारी दी गई है। 

अहम मंत्रालय बीजेपी के पास
मोदी सरकार में अहम मंत्रालय बीजेपी ने खुद रखे हैं। इनमें रक्षा, गृह, स्वस्थ्य, परिवहन, विदेश, वित्त, शिक्षा, कपड़ा, ऊर्जा, शहरी विकास, कृषि, वाणिज्य, ऊर्जा,जहाजरानी एवं जलमार्ग, उपोभोक्ता और अक्षय ऊर्जा, दूरसंचार मंत्रालय, पर्यावरण मंत्रालय, पर्यटन, महिला एवं बाल विकास मंत्रालय, श्रम मंत्रालय, खेल मंत्रालय, कोयला और खनन, जलशक्ति मंत्रालय शामिल हैं। रामदास आठवले को सामाजिक न्याय विभाग का राज्य मंत्री बनाया गया है। अनुप्रिया पटेल को स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय में राज्य मंत्री और केमिकल फर्टिलाइजर विभाग की राज्य मंत्री रहेंगी। 


सूची के अनुसार कैबिनेट मंत्रियों में श्री राजनाथ सिंह को रक्षा, अमित शाह को गृह, नितिन गडकरी को सड़क परिवहन एवं राजमार्ग, जगत प्रकाश नड्डा को स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण और रसायन एवं उवर्रक, शिवराज सिंह चौहान को कृषि, किसान कल्याण एवं ग्रामीण विकास, निर्मला सीतारमण को वित्त एवं कारपोरेट मामले, डॉ एस जयशंकर को विदेश, मनोहर लाल खट्टर को ऊर्जा एवं शहरी विकास, एच डी कुमारस्वामी को भारी उद्योग एवं इस्पात, पीयूष गोयल को वाणिज्य एवं उद्योग, धर्मेन्द्र प्रधान को शिक्षा, जीतन राम मांझी को सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्यम, राजीव रंजन उर्फ लल्लन सिंह को पंचायती राज, मछली पालन, पशुपालन एवं डेयरी, सर्वानंद सोनोवाल को बंदरगाह, जहाजरानी एवं जलमार्ग मंत्रालय दिया गया है।

 डॉ वीरेन्द्र कुमार को सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता, के राममोहन नायडू को नागरिक उड्डयन, प्रल्हाद जोशी को उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं जनवितरण, नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा, जुएल ओरांव को आदिवासी मामले, गिरिराज सिंह को वस्त्र, अश्विनी वैष्णव को रेलवे, सूचना प्रसारण, सूचना प्रौद्योगिकी एवं इलैक्ट्रॉनिक्स, ज्योतिरादित्य सिंधिया को संचार एवं पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास, भूपेन्द्र यादव को वन, पर्यावरण, जलवायु परिवर्तन, गजेन्द्र सिंह शेखावत को पर्यटन एवं संस्कृति, अन्नपूर्णा देवी को महिला एवं बाल विकास, किरेन रिजीजू को संसदीय कार्य एवं अल्पसंख्यक मामले, हरदीप सिंह पुरी को पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस, जी किशन रेड्डी को कोयला एवं खान, चिराग पासवान को खाद्य प्रसंस्करण उद्योग तथा सी आर पाटिल को जलशक्ति मंत्रालयों की जिम्मेदारी दी है। (वार्ता से इनपुट्स के साथ)