DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

2019 लोकसभा चुनाव से पहले BJP को यूपी में मिली ये बड़ी 'कामयाबी'

bjp photo-ht

2019 लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी ने पार्टी के साथ नए सदस्यों को जोड़ने का अभियान शुरू किया है। इस अभियान में बीजेपी ने पिछले दो महीनों में करीब 40 लाख नए सदस्य जोड़ लिये हैं। लोकसभा चुनावों के मद्देनजर पार्टी के साथ नए सदस्यों को जोड़ने का यह अभियान इस संख्या को 50 लाख तक ले जाने के लिए अभी भी चल रहा है। भाजपा में इन नए सदस्यों की तादाद 50 लाख हो जाएगी तो पार्टी की प्रदेश में सदस्यों की संख्या करीब दो करोड़ तक पहुंच जाएगी।

भाजपा ने एक सितम्बर से तीन अभियान एक साथ शुरू किए थे। इसके तहत बूथ पुनर्गठन, मतदाता सूची पुनरीक्षण और सदस्यता अभियान शुरू किया गया। प्रदेश स्तर पर बूथ पुनर्गठन और मतदाता सूची पुनरीक्षण अभियान की निगरानी रखने का काम पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष जेपीएस राठौर कर रहे थे तो सदस्यता अभियान के प्रमुख एक अन्य उपाध्यक्ष राकेश त्रिवेदी थे। बीच में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन के कारण ये अभियान 15 दिन के लिए स्थगित कर दिए गए। उसके बाद एक अक्तूबर से इन अभियानों ने फिर गति पकड़ ली। 

Poll:एमपी-छत्तीसगढ़ में कांटे की टक्कर, राजस्थान-तेलंगाना में CONG आगे

टोल फ्री नम्बर से ही बने ये नए सदस्य
पार्टी के प्रदेश नेतृत्व ने सदस्यता अभियान के तहत हर बूथ पर 50 नए सदस्य और पूरे प्रदेश में करीब 50 लाख नए सदस्य बनाने का लक्ष्य निर्धारित किया। इस अभियान की खासियत यह है कि सभी सदस्य टोल फ्री नम्बर (18002661001) पर मिस कॉल करके बनाए जाने हैं। भाजपा के प्रदेश स्तर के पदाधिकारी से लेकर बूथ स्तर पर बनी संचालन कमेटी के सदस्य भाजपा समर्थक वर्ग के पास जाकर उनसे टोल फ्री नम्बर पर मिस कॉल कराते हैं। भाजपा के आईवीआरएस सिस्टम वाले कॉल सेन्टर से उनका नाम-पता, उम्र व वर्ग पूछ लिया जाता है। इस तरह भाजपा समर्थक पार्टी का नया सदस्य बन जाता है।

सर्वे: एमपी और छत्तीसगढ़ में भाजपा आगे, राजस्थान में कांग्रेस को बढ़त

10 लाख और सदस्य बनाने हैं
पार्टी नेतृत्व पिछले दो महीनों में 40 लाख नए सदस्य बन जाने को एक बड़ी उपलब्धि मान रहा है। एक पदाधिकारी के अनुसार इससे पहले 2014 में आठ महीने तक सदस्यता अभियान चला था। तब डेढ़ करोड़ सदस्य बन पाए थे। इस बार दो महीने में ही 40 लाख नए सदस्य बन गए। पार्टी के निर्धारित लक्ष्य के तहत 10 लाख और नए सदस्य बनाने के लिए सभी मोर्चों को दो-दो हजार और प्रकोष्ठों व प्रकल्पों को एक-एक हजार नए सदस्य बनाने की जिम्मेदारी दी गई है।

2019 से पहले NDA में दिखी दरार, कुशवाहा ने कहा- लालू हुए इतिहास

संगठन मजबूत होगा
बीजेपी के प्रदेश उपाध्यक्ष और सदस्यता प्रमुख राकेश त्रिवेदी ने कहा कि लोकसभा चुनाव तक पार्टी 50 लाख से ज्यादा नए सदस्य बना लेगी। इन सदस्यों के जुड़ने से संगठन तो मजबूत होगा। इसके साथ ही लोकसभा चुनाव में बूथ प्रबंधन के दौरान ये सदस्य अपनी भूमिका निभाएंगे।  

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:BJP Join 40 Lakh new Member in Party before 2019 lok sabha election