DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चुनाव लड़ने की उम्र सीमा तय करने वाली देश की एकमात्र पार्टी है भाजपा: गहलोत

अशोक गहलोत: इंदिरा की सरकार में रहे मंत्री, 1998 में पहली बार बने सीएम

केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत ने बृहस्पतिवार को कहा कि भाजपा देश की ऐसी एकमात्र सियासी पार्टी है जिसने अपने नेताओं के चुनाव लड़ने के लिये उम्र सीमा का फॉर्मूला तय करते हुए इसे अमली जामा पहनाना शुरू किया है। 

गहलोत ने यहां भाजपा कार्यालय में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में एक सवाल पर इस आशय का बयान दिया। उनका यह कथन ऐसे वक्त सामने आया है, जब लालकृष्ण आडवाणी (91), मुरलीमनोहर जोशी (85) और सुमित्रा महाजन (76) सरीखे वरिष्ठतम भाजपा नेताओं को चुनावी समर से विश्राम दिया गया है। 

क्या 75 साल से ज्यादा उम्र के भाजपा नेताओं को चुनाव लड़ने के लिये सक्षम नहीं माना जा रहा है? इस सवाल पर गहलोत ने किसी का नाम लिये बगैर जवाब दिया, "इस उम्र के नेता भी केपेबल (सक्षम) होते हैं। लेकिन दूसरे लोगों को भी (चुनाव लड़ने का) अवसर मिलना चाहिये और वे (75 साल से ज्यादा उम्र के नेता) अन्य क्षेत्रों में हमारा मार्गदर्शन करें।" 

भाजपा के 70 वर्षीय नेता ने किसी का नाम लिये बगैर सुझाया कि सियासत में लंबा अनुभव रखने वाले नेताओं को राज्यपाल या अन्य पदों पर नियुक्त किया जा सकता है।  

गौरतलब है कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने "द वीक" पत्रिका को दिये साक्षात्कार में कहा था कि यह उनकी पार्टी का फैसला है कि 75 साल से ज्यादा उम्र के नेताओं को लोकसभा चुनावों का टिकट नहीं दिया जायेगा।

उत्तर-पश्चिमी दिल्ली लोकसभा सीट से चुनावी टिकट काटे जाने के बाद भाजपा छोड़ कांग्रेस का दामन थामने वाले निवर्तमान सांसद और दलित समुदाय के नेता उदित राज पर निशाना साधते हुए गहलोत ने कहा कि "असंतोषजनक प्रदर्शन" के कारण राज को दोबारा उम्मीदवारी का मौका नहीं दिया गया। 

उन्होंने राज द्वारा भाजपा को "दलित विरोधी" बताये जाने पर पलटवार करते हुए कहा, "कल तक राज के लिये भाजपा दलित हितैषी थी। जब उन्हें दोबारा टिकट नहीं दिया गया, तो भाजपा उनके लिये दलित विरोधी हो गयी।"  

गहलोत ने कहा, "पंजाबी गायक हंसराज हंस में जीत की संभावनाएं दिखायी देने पर भाजपा ने उन्हें उत्तर-पश्चिमी दिल्ली सीट से (राज के स्थान पर) अपना उम्मीदवार बनाया है। भाजपा दलितों की हितैषी पार्टी है।"

केंद्रीय मंत्री ने एक सवाल पर दावा किया, "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पक्ष में देश में चुनावी सुनामी चल रही है। भाजपा मोदी के नेतृत्व में अपने दम पर 300 से ज्यादा लोकसभा सीटें जीतेगी, जबकि हमारा समूचा एनडीए गठबंधन 350 से ज्यादा लोकसभा सीटें जीतेगा।" 

अजीत डोभाल के बेटे से जुड़े मामले में कांग्रेस नेता जयराम रमेश को राहत

भारत तभी गरीबी मुक्त बनेगा जब वह कांग्रेस मुक्त होगा: राजनाथ सिंह

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:BJP is only party to decide age limit of contesting elections says Ashok Gehlot