ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशमुसलमानों के खिलाफ नहीं है भाजपा, इस्लामिक देशों ने भी दिया मोदी को सम्मान; राजनाथ सिंह की अपील

मुसलमानों के खिलाफ नहीं है भाजपा, इस्लामिक देशों ने भी दिया मोदी को सम्मान; राजनाथ सिंह की अपील

रक्षा मंत्री ने कहा कि आतंकवादी अपनी इच्छानुसार हमला नहीं कर सकते क्योंकि हमने बता दिया है कि भारत जवाबी हमला करेगा, यहां तक कि जरूरत पड़ने पर सीमा पार जाकर भी हमला करेगा।

मुसलमानों के खिलाफ नहीं है भाजपा, इस्लामिक देशों ने भी दिया मोदी को सम्मान; राजनाथ सिंह की अपील
Amit Kumarभाषा,सुपौलFri, 03 May 2024 05:15 AM
ऐप पर पढ़ें

रक्षा मंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के पूर्व अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने विपक्ष के भाजपा पर हिंदू-मुस्लिम के बीच विभाजन पैदा करने के आरोप को खारिज करते हुए बृहस्पतिवार को कहा कि कई इस्लामी देशों ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को सम्मानित किया है। बिहार के सुपौल और सारण लोकसभा क्षेत्रों में चुनावी रैलियों को संबोधित करते हुए पूर्व भाजपा अध्यक्ष ने अल्पसंख्यक समुदाय को कांग्रेस और उसके सहयोगी राजद से सावधान रहने का आग्रह करने के साथ विपक्षी दलों पर उन्हें धोखा देकर वोट मांगने का आरोप लगाया। सिंह ने कहा, ‘‘जहां तक भाजपा और राजग का प्रश्न है, तो हम लोग जात-पात, पंथ और मजहब के आधार पर राजनीति नहीं करते हैं। हम इंसाफ और इंसानियत के आधार पर राजनीति करते हैं।’’ उन्होंने कहा कि संविधान के अनुसार धार्मिक आधार पर मुसलमानों के लिए आरक्षण संभव नहीं है।

उन्होंने कहा, ‘‘पिछड़े वर्गों के लिए आरक्षण की सुविधा है तथा मुस्लिम समाज में जो बहुत पिछडे़ और गरीब हैं, वे इसमें शामिल हैं। आप कहते हैं कि हम धर्म के आधार पर आरक्षण देंगे। क्यों उनकी आंखों में धूल झुक रहे हैं। भारत का संविधान इस बात की इजाजत देता ही नहीं है कि धर्म के आधार पर आरक्षण दिया जाए। मैं मुसलमान भाइयों से कहना चाहता हूं कि आप लोग इनके बहकावे नहीं आए।’’ कांग्रेस सहित विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुए सिंह ने कहा, ‘‘ये हमपर हिंदू-मुसलमान करने का आरोप लगाते हैं जबकि अरब जगत के पांच देशों ने अपने सबसे बड़े सम्मान से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी को नवाजा है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मैं मुसलमान भाइयों से भी कहना चाहता हूं... हां हमने एक काम किया है, तीन तलाक की प्रथा को समाप्त किया है। हम किसी को धोखा नहीं देना चाहते हैं और डंके की चोट पर कहते हैं कि हां हमने किया है क्योंकि हम समाज को बांट कर राजनीति नहीं करना चाहते।’’ सिंह ने कहा, ‘‘चाहे मुसलमान हो, हिंदू हो, ईसाई हो या यहूदी हो, सबकी मां-बहन, बेटी हम लोग की मां-बहन, बेटी हैं । हम लोग ऐसा नजरिया रखते हैं। हम किसी भी धर्म के लोगों को इस बात की इजाजत नहीं दे सकते कि आप किसी की बेटी से शादी कीजिए और 10 दिन के बाद तलाक-तलाक-तलाक बोल कर उनकी छुट्टी कर दीजिए। हम अपने मुसलमान भाइयों से भी कहना चाहते हैं कि आप इस पर विचार कीजिए। बहुत सारे मुसलमान भाई इसका समर्थन कर रहे हैं।’’ उन्होंने यह भी दावा किया कि राजग लोकसभा में 400 से अधिक सीट के अपने लक्ष्य को हासिल करने की ओर अग्रसर है ।

सिंह ने कहा, ‘‘सूरत ने भाजपा के विजय का श्री गणेश हो चुका है।’’ उनका इशारा भाजपा उम्मीदवार मुकेश दलाल के निर्विरोध निर्वाचित होने की ओर था, क्योंकि अधिकतर उम्मीदवार चुनाव मैदान से हट गए थे और बाकी के नामांकन पत्र जांच के दौरान खारिज कर दिए गए थे। सिंह ने कहा, ‘‘इंदौर में, कांग्रेस उम्मीदवार ने अपना नामांकन वापस लेकर भाजपा का समर्थन किया है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘सारे देश का जो माहौल दिख रहा है, उससे हमें लगता है कि हमलोगों ने जो 400 पार का लक्ष्य निर्धारित किया है, उसे प्राप्त करने में हम पूरी तरह से कामयाब होंगे। मेरा पक्का विश्वास है।’’

सिंह ने कहा, ‘‘अब विपक्ष चिल्ला रहा है कि इससे लोकतंत्र ख़तरे में पड़ जाएगा। आपको बता दें कि आजादी के बाद से अब तक कम से कम 28 लोग निर्विरोध चुने गए हैं। उनमें से 20 कांग्रेस के थे और दो उसकी सहयोगी समाजवादी पार्टी के थे।’’ उन्होंने यह भी कहा कि अगले दस वर्षों में कांग्रेस ‘‘डायनासोर की तरह’’ विलुप्त हो जाएगी और आने वाली पीढ़ियों को बताना होगा कि कांग्रेस नाम की कोई चीज़ अस्तित्व में थी। सिंह ने कहा कि महात्मा गांधी चाहते थे कि पार्टी को भंग कर दिया जाए, ऐसा लगता है कि उनकी आत्मा पार्टी को कोस रही है।

रक्षा मंत्री ने कहा कि वह किसी भी ऐसे व्यक्ति के खिलाफ बोलना नहीं चाहते जो प्रधानमंत्री रहे हों क्योंकि इसमें एक संस्था शामिल थी, न कि सिर्फ एक व्यक्ति। जवाहरलाल नेहरू के बाद से कांग्रेस प्रधानमंत्रियों के शासन और मोदी के शासन के बीच अंतर बताते हुए उन्होंने कहा कि राजीव गांधी ने सार्वजनिक तौर पर स्वीकार किया था कि सरकार द्वारा खर्च किए गए प्रत्येक रुपये में से केवल 15 पैसे ही लोगों तक पहुंचते हैं और मनमोहन सिंह के कार्यकाल के दौरान केंद्रीय मंत्रियों को भ्रष्टाचार के आरोपों का सामना करना पड़ा था।

सिंह ने कहा कि वे यह नहीं कहते कि हमारे यहां लोग दूध के धुले हुए हैं लेकिन जब भी कोई किसी गलत काम का दोषी पाया जाता है तो भाजपा नेतृत्व वाला राजग दागी तत्वों दूध की मक्खी की तरह निकल फेंकने से पीछे नहीं हटता है। भाजपा नेता ने अपने बिहार के सहयोगी मुख्यमंत्री और जदयू प्रमुख नीतीश कुमार की सराहना करते हुए कहा, ‘‘आपको उनसे कई शिकायतें हो सकती हैं लेकिन आप यह नहीं कह सकते कि वह भ्रष्ट हैं। इसके विपरीत राजद है जो सत्ता में रहते हुए भ्रष्टाचार को लेकर सबसे कुख्यात रही है।’’

सिंह ने राजद के चुनाव चिन्ह और उसके द्वारा शुरू की गई एक योजना का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘राजद जैसी पार्टियों से सावधान रहें जो आपको लालटेन के युग में वापस ले जाना चाहती हैं और चारवाहा विद्यालय के रूप में स्थापित करना चाहती हैं।’’ सिंह ने छात्रों की वापसी के लिए रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध रोकने की इच्छा का हवाला देते हुए यह भी दावा किया कि मोदी के तहत भारत की वैश्विक प्रतिष्ठा बढ़ी है।

रक्षा मंत्री ने कहा क इसके अलावा अतीत के विपरीत, आतंकवादी अपनी इच्छानुसार हमला नहीं कर सकते क्योंकि ‘‘हमने बता दिया है कि भारत जवाबी हमला करेगा, यहां तक कि जरूरत पड़ने पर सीमा पार जाकर भी हमला करेगा।’’ उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि मनमोहन सिंह का एक दशक लंबा कार्यकाल ठहराव से भरा रहा, क्योंकि भारत अर्थव्यवस्था के आकार के मामले में वैश्विक स्तर पर 11वें स्थान पर था, लेकिन मोदी ने करिश्मा कर दिया। उन्होंने कहा, ‘‘हम पांचवें स्थान पर पहुंच गए हैं और दुनिया भर के विशेषज्ञ इस बात से सहमत हैं कि हम 2027 तक शीर्ष तीन में शामिल होने के लिए तैयार हैं।’’

सिंह ने यह भी कहा,‘‘आईएमएफ जैसे संगठन कहते हैं कि हमने 25 करोड़ लोगों को गरीबी के चंगुल से बाहर निकाला है जिसे कांग्रेस गरीबी हटाओ के नारे के बावजूद हासिल नहीं कर सकी।’’ कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व के सलाहकार सैम पित्रोदा द्वारा विरासत कर की वकालत करने का जिक्र करते हुए, पूर्व भाजपा अध्यक्ष ने पूछा, ‘‘क्या आप चाहते हैं कि ऐसी व्यवस्था हो।’’