DA Image
16 अक्तूबर, 2020|1:58|IST

अगली स्टोरी

नड्डा का राहुल पर तीखा हमला, कहा- आप और आपकी मां ने देशहित को नुकसान पहुंचाने के लिए चीनियों से पैसे लिए

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने सोमवार को पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष और वायनाड के सांसद राहुल गांधी के खिलाफ एक तीखे हमले में उनके परिवार पर 'प्रधानमंत्री राहत कोष' से पैसों को परिवार के ट्रस्ट में डायवर्ट करने और चीनियों से पैसे लेकर राष्ट्रीय हितों को चोट पहुंचाने का आरोप लगाया।

जेपी नड्डा ने ट्वीट किया, 'आपके परिवार की संदिग्ध विरासत में पीएमएनआरएफ में एक स्थायी स्थान और फिर राहत कोष से अपने परिवार के ट्रस्टों में पैसे डायवर्ट करना शामिल है। आपने और आपकी मां ने हमारे राष्ट्रीय हित को चोट पहुंचाने के लिए चीनियों से पैसे भी लिए। क्या कोई इससे भी नीचे गिर सकता है?'

गांधी परिवार के खिलाफ जेपी नड्डा ने हमला राहुल गांधी के उस ट्वीट के बाद किया है, जिसमें वायनाड सांसद ने प्रधानमंत्री कार्यालय पर निशाना साधा था। राहुल गांधी ने एक अखबार की खबर को ट्वीट किया था, जिसमें लिखा था कि प्रधानमंत्री कार्यालय ने पीएमकेयर्स से संबंधित आरटीआई का जवाब देने से मना कर दिया। अखबार की खबर शेयर करते हुए राहुल गांधी ने लिखा, 'पीएमकेयर्स फॉर राइट टू इम्प्रोबिटी।' 

कांग्रेस सांसद पर निशाना साधते हुए बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि पूरे देश को पीएम और उनकी पहल पर पूरा भरोसा है। उन्होंने कहा, 'लोगों का विश्वास पीएमकेयर्स के लिए बड़े पैमाने पर समर्थन के साथ दिखाई दे रहा है। एक हारे हुए इंसान होने के नाते, आप सिर्फ फेक न्यूज ही फैला सकते हैं। वहीं, पूरा देश कोरोना के खिलाफ लड़ाई में एक साथ है।'

बीजेपी अध्यक्ष नड्डा ने लिखा, 'ऐसा ही होता है, जब 'प्रिंस ऑफ इनकॉम्पीटेंस' बिना पढ़े हुए आर्टिकल्स को शेयर करते हैं। यह आरटीआई एक दूसरे आरटीआई के बारे में जानने के लिए फाइल की गई थी। पारदर्शिता पर हमले के रूप में यह आपके द्वारा दुर्भावना से सामने लाया गया है। खैर, यह स्वाभाविक है कि आपका करियर केवल फर्जी खबरें फैलाने पर आधारित है।'

'प्रधानमंत्री राहत कोष' पर पहले भी बीजेपी साध चुकी है निशाना

इससे पहले भी बीजेपी यूपीए के शासनकाल में प्रधानमंत्री राहत कोष का पैसा राजीव गांधी फाउंडेशन में डायवर्ट किए जाने का आरोप लगा चुकी है। बीजेपी ने आरोप लगाया था कि पीएमएनआरएफ संकट में लोगों की मदद करने के लिए बनाया गया था, लेकिन संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) सरकार के कार्यकाल में आरजीएफ को पैसे दान किए जा रहे थे। पीएमएनआरएफ के बोर्ड में कौन बैठा था? सोनिया गांधी। वहीं, आरजीएफ की अध्यक्ष भी सोनिया गांधी ही हैं। इसके अलावा, साल 2017 में राहुल गांधी के चीनी राजदूत से मुलाकात पर भी काफी विवाद हुआ था। राहुल गांधी ने  जुलाई, 2017 को ट्वीट करके बताया था कि वे चीनी राजदूत से मिले हैं। इसके बाद, बीजेपी कई मौकों पर इस मुलाकात का जिक्र करते हुए राहुल गांधी को घेर चुकी है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:BJP Chief JP Nadda attacks Rahul and Gandhi Family says took money from the Chinese to harm the national interest